scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

CineGram: बहुत मुश्किल रही गोविंदा की तीनों बहनों की जिंदगी, एक ने बेटी पैदा होने के 20 दिन बाद छोड़ी दुनिया, तो एक 70 फीसदी तक जलीं

CineGram: सिनेग्राम में आज किस्सा गोविंदा की बहनों का, गोविंदा की जिंदगी बहुत दुखभरी रही है, उन्होंने अपने परिवार के 11 सदस्यों की मौत देखी हैं, उनकी बहनों की जिंदगी में भी खूब गम आए।
Written by: Jyoti Jaiswal
May 14, 2024 15:03 IST
cinegram  बहुत मुश्किल रही गोविंदा की तीनों बहनों की जिंदगी  एक ने बेटी पैदा होने के 20 दिन बाद छोड़ी दुनिया  तो एक 70 फीसदी तक जलीं
CineGram
Advertisement

CineGram: 90 के दशक में सुपरस्टार गोविंदा का सिक्का चलता था, उनकी हर फिल्म हिट होती थी और उन फिल्मों में कॉमेडी का ऐसा तड़का रहता था कि दर्शक हंसे बिना नहीं रह पाते थे। लेकिन क्या आप जानते हैं लोगों को अपने बेहतरीन काम से हंसाने वाले गोविंदा ने असल जिंदगी में बहुत दुख झेले हैं। गोविंदा की 3 बहनें थीं मगर तीनों की जिंदगी में दुख ही दुख रहें। गोविंद अरुण आहूजा उर्फ गोविंदा ने रोमांटिक कॉमेडी फिल्मों का एक दौर शुरू कर दिया था। हीरो नंबर वन, कुली नंबर 1, आंटी नंबर 1, साजन चले ससुराल, जोरू का गुलाम जैसी तमाम ऐसी फिल्में हैं जिन्हें देखकर आप अपने सारे दुख भूलकर दिल खोलकर हंसने पर मजबूर हो जाते हैं। लेकिन बड़े परदे पर लोगों को हंसाने वाले गोविंदा ने अपनी जिंदगी में कई दुख झेले हैं।

गोविंदा ने खुद सुनाई थी आपबीती

गोविंदा के कई करीबियों की मौत हुई है जिसमें उनकी 4 महीने की बेटी भी शामिल है। एक इंटरव्यू में गोविंदा ने बताया था, "मैंने अपनी फैमिली में 11 मौतें देखी हैं। इनमें से एक मेरी पहली बेटी की डेथ है, जो चार महीने की उम्र में चल बसी थी। वह प्रीमैच्योर बेबी थी। बेटी के अलावा, मैंने अपने पिता, मां, दो कजिन्स, जीजा और बहन की डेथ देखी है। इन सभी के बच्चों को मैंने ही बड़ा किया है। क्योंकि उनकी कंपनियां बंद हो चुकी थीं और उनके पास कोई काम नहीं था। मेरे ऊपर बहुत इमोशनल और फाइनेंशियल प्रेशर रहा है।"

Advertisement

जब पसीने में लथपथ 'हीरामंडी' के उस्ताद जी को संजय लीला भंसाली ने कर दिया था किस

प्रीमैच्योर बेटी खो चुके हैं गोविंदा

लोगों को यही लगता है कि गोविंदा के दो बच्चे हैं बेटी टीना आहूजा और बेटा यशवर्धन आहूजा, लेकिन ये सच नहीं है। टीना से पहले गोविंदा और सुनीता की एक और बेटी हुई थी जो प्रीमैच्योर थी और 4 महीने बाद ही उसकी मौत हो गई थी। बेटी के निधन से गोविंदा टूट गए थे। मगर उनकी जिंदगी के दुख यहीं खत्म नहीं हुए। गोविंदा जब अपनी फिल्म हीरो नंबर 1 की शूटिंग कर रहे थे तब उनकी मां का निधन हो गया। मां के निधन से गोविंदा सदमे में चले गए थे वो इससे उबर नहीं पा रहे थे और लंबे समय तक डिप्रेशन में भी रहें। अपनी मां को खोने के दो साल बाद गोविंदा ने साल 1998 में अपने पिता को भी खो दिया था।

कैंसर से हुआ गोविंदा की बहन पद्मा का निधन

गोविंदा के पिता अरुण आहूजा बॉलीवुड फिल्मों में बतौर एक्टर काम करते थे और बाद में कुछ फिल्में भी प्रोड्यूस कीं मगर वो फिल्में बुरी तरह से फ्लॉप हो गई थीं और उन्हें काफी घाटा हुआ था। गोविंदा का परिवार बंगले से छोटे घर में शिफ्ट हो गया था। और परिवार ने काफी आर्थिक तंगी झेली थी। गोविंदा के लिए सबसे ज्यादा दर्दनाक था अपनी बहन पद्मा को खोना। पद्मा शर्मा को कैंसर था और जब उनका निधन हुआ उस वक्त उनकी गोद में 20 दिन की बच्ची थी।

Advertisement

पद्मा शर्मा कोई और नहीं बल्कि कृष्णा अभिषेक और आरती सिंह की मां हैं, उन्हें कैंसर था और बेटी को जन्म देने के 20 दिन बाद वो चल बसीं। इसके बाद आरती सिंह को पद्मा की सहेली गीता सिंह ने गोद लिया और पालन पोषण किया। गोविंदा ने कृष्णा अभिषेक और आरती सिंह की आर्थिक जिम्मेदारी उठाई, कृष्णा हमेशा इस बात के लिए गोविंदा को क्रेडिट देते हैं।

Advertisement

सलमान खान फायरिंग मामले में बड़ा अपडेट: मुंबई पुलिस ने लॉरेंस बिश्नोई गैंग के एक और सदस्य को किया गिरफ्तार

गोविंदा की बड़ी बहन पुष्पा आनंद की भी मौत

गोविंदा की बड़ी बहन पुष्पा आनंद भी अब इस दुनिया में नहीं हैं, पुष्पा आनंद एक एक्ट्रेस थीं और उन्होंने गीतकार रवि आनंद से शादी की थी। रवि आनंद भी अब इस दुनिया में नहीं हैं। पुष्पा और रवि आनंद के बेटे विनय आनंद भोजपुरी फिल्मों में काम करते हैं। गोविंदा की तीन बहनें और तीन जीजा थे, उनके तीनों जीजा अब इस दुनिया में नहीं रहें । गोविंदा ने अपनी बहनों के परिवार यानी कि अपने भांजे भांजियों की आर्थिक रूप से जिम्मेदारी उठाई। विनय आनंद के करियर को उठाने के लिए उन्होंने आमदनी अठन्नी खर्चा रुपइया फिल्म बनाई थी।

70 फीसदी जल गई थीं कामिनी खन्ना

गोविंदा की एक बहन जहां कैंसर की वजह से चल बसीं तो वहीं एक बहन कामिनी खन्ना 70 फीसदी तक जल गई थीं। कामिनी खन्ना के साथ ये हादसा स्टोव फटने से हुआ था, और लंबे समय तक उनका इलाज चला था, काफी दर्द सहने के बाद अब वो ठीक हैं। कामिनी खन्ना की बेटी हैं रागिनी खन्ना जिन्होंने ससुराल गेंदा फूल में सुहाना का रोल प्ले किया था।

दो-तीन नहीं, बल्कि साउथ की 6 फिल्मों का हो रहा महाक्लैश! बॉक्स ऑफिस पर किसकी बोलेगी तूती?

गोविंदा ने जवान भतीजा भी खोया

साल 2019 में गोविंदा के परिवार पर एक बार और दुखों का पहाड़ तब टूटा था जब उनके परिवार का जवान बेटा चल बसा। गोविंदा के भाई कीर्ति कुमार के बेटे जमनेंद्र आनंद अपने फ्लैट पर मृत पाए गए थे। इस खबर से गोविंदा टूट गए और अंतिम संस्कार में अपने आंसू रोक नहीं पा रहे थे।

हाल ही में गोविंदा की भांजी आरती सिंह की शादी हुई थी। आरती और कृष्णा अभिषेक से गोविंदा के रिश्ते तकरीबन 10 सालों से ठीक नहीं चल रहे हैं, इसके बावजूद गोविंदा आरती की शादी में पहुंचने से खुद को नहीं रोक पाए और वर वधू को आशीर्वाद दिया।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो