scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Jagadish Shettar: BJP छोड़ने के बाद पहली बार हारे चुनाव; आत्मसम्मान को ठेस पहुंचने की बात कह छोड़ी थी पार्टी, अब 'घरवापसी' पर बोले- मोदी...

Karnataka News: जगदीश शेट्टार कर्नाटक के पूर्व सीएम हैं। वह विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी छोड़कर कांग्रेस में शामिल हो गए थे।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Yashveer Singh
नई दिल्ली | Updated: January 25, 2024 14:25 IST
jagadish shettar  bjp छोड़ने के बाद पहली बार हारे चुनाव  आत्मसम्मान को ठेस पहुंचने की बात कह छोड़ी थी पार्टी  अब  घरवापसी  पर बोले  मोदी
बीजेपी में शामिल हुए जगदीश शेट्टार (ANI)
Advertisement

कर्नाटक कांग्रेस पार्टी को बड़ा झटका लगा है। राज्य के पूर्व सीएम जगदीश शेट्टर बीजेपी में शामिल हो गए हैं। गुरुवार सुबह उन्होंने बीजेपी नेता और कर्नाटक के पूर्व सीएम येदियुरप्पा की मौजूदगी में दिल्ली स्थित बीजेपी मुख्यालय में पार्टी में दोबारा एंट्री की। जगदीश शेट्टार येदियुरप्पा के साथ ही बीजेपी दफ्तर पहुंचे थे।

वह कर्नाटक विधानसभा चुनाव से पहले बीजेपी द्वारा टिकट न दिए जाने पर कांग्रेस में शामिल हो गए थे।कां ग्रेस ने उन्हें हुबली-धारवाड़ से चुनाव में उतारा था लेकिन वह हार गए। बाद में कांग्रेस पार्टी ने उन्हें MLC बनाया। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बीजेपी में आने से पहले जगदीश शेट्टार अमित शाह से मुलाकात कर चुके हैं।

Advertisement

घर वापसी पर क्या बोेले जगदीश शेट्टार?

बीजेपी में वापसी पर जगदीश शेट्टार ने कहा, "बीजेपी ने काफी दायित्व दिए थे। कुछ कारणों से मैं कांग्रेस में शामिल हो गया था। पिछले आठ-नौ महीनों में काफी चर्चा हुई। बीजेपी के कार्यकर्ता भी चाहते थे कि मैं वापस पार्टी में शामिल हो जाऊं। येदियुरप्पा जी और विजयेंद्र जी भी चाहते थे कि मैं बीजेपी में वापस लौटूं। मैं इस विश्वास के साथ के पार्टी में वापस लौट रहा हूं कि नरेंद्र मोदी फिर से प्रधानमंत्री बनेंगे।"

बीजेपी छोड़ते समय क्या कहा था?

विधानसभा चुनाव के समय जब जगदीश शेट्टार ने बीजेपी छोड़ी थी, तब द इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत में उन्होंने कहा था कि उनके आत्म सम्मान को ठेस पहुंचाई गई है। उन्होंने कहा था, "मेरी वरिष्ठता को नजरअंदाज किया गया और मुझे टिकट देने से इनकार करते समय बीजेपी नेतृत्व ने जिस तरह का व्यवहार किया वह स्वीकार्य नहीं था। मैं यहां (हुबली से) छह बार चुनाव जीता हूं।"

Advertisement

पहली बार हारे थे चुनाव 

बीजेपी से अलग होने के बाद जगदीश शेट्टार चुनाव में बीजेपी प्रत्याशी महेश तेंगीनाकी से 34,289  वोटों से हार गए थे। यह पहली बार था जब वो 1994 के बाद पहली बार विधानसभा नहीं पहुंच पाए थे। आपको बता दें कि जगदीश शेट्टार राज्य में लिंगायत समुदाय का बड़ा चेहरा है और वह 2012 से 2013 के बीच सीएम रह चुके हैं। वह 2014 से 2018 तक विधानसभा में नेता विपक्ष भी रह चुके हैं। जगदीश शेट्टार ने अपनी सियासी यात्रा आरएसएस के छात्र संगठन एबीवीपी के साथ की थी।

Advertisement

कई दिनों से लगाए जा रहे थे कयास?

शेट्टार ने राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा वाले दिन अयोध्या से जुड़ा ट्वीट किया था, तब से उनकी घर वापसी को लेकर कयास बढ़ गए थे। हाल ही में जब इस बारे में कर्नाटक के डिप्टी सीएम से सवाल किया गया तो डीके शिवकुमार ने कहा कि बीजेपी जगदीश शेट्टार को इसलिए अप्रोच कर रही है क्योंकि बीजेपी-जेडीएस गठबंधन नेतृत्व और आत्म विश्वास की कमी से जूझ रही है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो