scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

38 साल से कांग्रेस की कर रहे सेवा, रुद्रपुर से रह चुके हैं विधायक... जानिए देवरिया लोकसभा सीट से उम्मीदवार अखिलेश सिंह के बारे में

अखिलेश प्रताप सिंह काफी चर्चित नेता हैं और टीवी पर कांग्रेस का पक्ष रखते हैं।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Nitesh Dubey
नई दिल्ली | Updated: March 24, 2024 12:19 IST
38 साल से कांग्रेस की कर रहे सेवा  रुद्रपुर से रह चुके हैं विधायक    जानिए देवरिया लोकसभा सीट से उम्मीदवार अखिलेश सिंह के बारे में
प्रचार अभियान के दौरान अखिलेश प्रताप सिंह (Facebook Photo)
Advertisement

उत्तर प्रदेश में इंडिया गठबंधन के तहत कांग्रेस और समाजवादी पार्टी एक साथ चुनाव लड़ रही है। कांग्रेस उत्तर प्रदेश में 17 लोकसभा सीटों पर चुनाव लड़ेगी। बाकी 63 लोकसभा सीटों पर समाजवादी पार्टी चुनाव लड़ेगी। कांग्रेस ने शनिवार देर रात उत्तर प्रदेश की 9 सीटों पर अपने उम्मीदवारों की घोषणा कर दी। देवरिया लोकसभा सीट से कांग्रेस ने अपने राष्ट्रीय प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह को टिकट दिया है।

38 साल पहले कांग्रेस से शुरू किया था अपना राजनीतिक सफर

अखिलेश प्रताप सिंह काफी चर्चित नेता हैं और टीवी पर कांग्रेस का पक्ष रखते हैं। वर्तमान में वह कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता हैं। अखिलेश प्रताप सिंह ने 38 साल पहले अपना राजनीतिक सफर कांग्रेस से शुरू किया था। अखिलेश प्रताप सिंह 1986 में यूपी यूथ कांग्रेस के प्रवक्ता बने और उसके बाद उन्होंने यूथ कांग्रेस में सेक्रेटरी, जनरल सेक्रेटरी, वाइस प्रेसिडेंट और कार्यकारी अध्यक्ष की भी जिम्मेदारी संभाली।

Advertisement

इसके बाद अखिलेश प्रताप सिंह का प्रमोशन हुआ और 1995 में वह उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी के प्रवक्ता बना दिए गए। उन्हें मीडिया डिपार्टमेंट का अध्यक्ष भी बना दिया गया। इस दौरान अखिलेश प्रताप सिंह उत्तर प्रदेश में काफी चर्चित नाम हो चुके थे। वर्ष 2012 में उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव थे और कांग्रेस ने अखिलेश प्रताप सिंह को उत्तर प्रदेश की रुद्रपुर विधानसभा सीट से उम्मीदवार बनाया। उन्होंने जीत दर्ज कर ली और वह विधानसभा पहुंच गए।

2012 में ही भारतीय कांग्रेस ने अखिलेश सिंह को नेशनल मीडिया पैनलिस्ट भी बनाया था। 2017 के विधानसभा चुनाव में वह हार गए। इसके बाद उन्हें कांग्रेस का राष्ट्रीय प्रवक्ता बना दिया गया और वह राष्ट्रीय चैनल पर पार्टी का पक्ष रखने लगे।

Advertisement

40 साल से नहीं जीती बीजेपी

देवरिया लोकसभा सीट पर कांग्रेस ने आखिरी बार 40 साल पहले 1984 में जीत दर्ज की थी। 1984 में कांग्रेस के टिकट पर राजमंगल पांडे ने जीत हासिल की थी। उसके बाद से आज तक देवरिया सीट पर कांग्रेस को जीत नसीब नहीं हुई। देवरिया लोकसभा सीट से अखिलेश प्रताप सिंह और पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू का नाम चल रहा था। लेकिन अब अखिलेश प्रताप सिंह के नाम पर मुहर लग गई है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो