scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

ना पुत्र की जिम्मेदारी निभाई और ना ही मुख्यमंत्री की- उन्नाव की घटना पर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सपा अध्यक्ष पर ऐसे कसा तंज

उन्नाव में दलित बच्ची की हत्या पर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने अखिलेश यादव पर तंज कसा है।
Written by: Avinash Tiwari | Edited By: Avinash Tiwari
February 13, 2022 10:08 IST
ना पुत्र की जिम्मेदारी निभाई और ना ही मुख्यमंत्री की  उन्नाव की घटना पर केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर ने सपा अध्यक्ष पर ऐसे कसा तंज
केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर। (Photo- Indian Express File)
Advertisement

यूपी विधानसभा चुनाव के बीच उन्नाव जिला एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है। यहां एक आश्रम के पास जमीन के नीचे दफन की गई एक दलित लड़की की लाश मिली। लड़की दो महीने पहले गायब हुई थी। परिजनों ने आरोप लगाया है कि सपा सरकार में मंत्री रहे फतेह बहादुर सिंह के बेटे रजोलसिंह ने लड़की का अपहरण किया था। अपहरण किए जाने के बाद लड़की की मां ने 8 दिसंबर 2021 को उन्नाव में बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट लिखाई थी और कार्रवाई ना होने पर 24 जनवरी को लखनऊ में अखिलेश यादव के गाड़ी के आगे कूदकर मदद मांगने की कोशिश की थी।

अब बच्ची के मृत शरीर मिलने सपा के अध्यक्ष पर बीजेपी सवाल खड़ा कर रही है। उन्नाव की घटना को लेकर जब केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर से सवाल पूछा कि यूपी पुलिस ने कार्रवाई क्यों नहीं की और आरोपी को पकड़ने में इतना वक्त क्यों लग गया? इस पर अनुराग ठाकुर ने कहा कि पहले ना सुनवाई होती थी और ना ही कार्रवाई!

Advertisement

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आज अखिलेश यादव इस लायक नहीं है कि कार्रवाई कर सके लेकिन सुनवाई तो कर सकते थे। एक गरीब मां अखिलेश यादव से मिलने आई थी, मदद मांगने गई थी, एक मिनट सुन लिया होता, अपने नेता को फोन करके कहा होता कि लड़की छोड़ दो तो बच्ची बच जाती।

https://youtu.be/Gwkmt-__sGE

अखिलेश यादव पर तंज कसते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा कि जो नेता आज सुनने को तैयार नहीं, वो कल क्या सुनेगा। उन्होंने ना जिम्मेदारी पहले कभी निभाई और ना आज निभायेगे। ना पुत्र की जिम्मेदारी निभाई, ना ही परिवार की, न मुख्यमंत्री की जिम्मेदारी निभाई और नैतिक जिम्मेदारी तो दूर की बात है।

बता दें कि मामला बढ़ता देख पुलिस ने 25 जनवरी को राजोल सिंह को गिरफ्तार कर लिया था। जो सपा सरकार में (2012-17) मंत्री रहे फतेह बहादुर सिंह के पुत्र हैं। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मामले पर कहा है कि ‘जिस शख्स को समाजवादी पार्टी का नेता बता रहे हैं, उसकी चार साल पहले मौत हो गई है। अब पुलिस को ये बताना चाहिए कि उसे मामले में कार्रवाई में इतना वक्त क्यों लगा? हम पीड़ित परिजनों के साथ हैं और उनकी मांगें मानी जानी चाहिए।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो