scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Saharanpur Lok Sabha: कौन जीतेगा सहारनपुर? बनी उलझन की स्थिति, प्रत्याशियों ही नहीं विधायकों की भी हो रही 'अग्नि परीक्षा'

Saharapur Lok Sabha Elections: सहारनपुर सीट पर उलझन की स्थिति बनी हुई है। देखने में मुकाबला त्रिकोणीय यानी भाजपा-कांग्रेस और बसपा में दिखता है। पढ़िए सुरेंद्र सिंघल की रिपोर्ट।
Written by: जनसत्ता
Updated: April 17, 2024 08:49 IST
saharanpur lok sabha  कौन जीतेगा सहारनपुर  बनी उलझन की स्थिति  प्रत्याशियों ही नहीं विधायकों की भी हो रही  अग्नि परीक्षा
सहारनपुर में इस बार मुकाबला रोचक नजर आ रहा है (jansatta Image)
Advertisement

यूपी वेस्ट की सहारनपुर लोकसभा सीट पर पहले चरण में 19 अप्रैल को मतदान होगा। यहां प्रमुख दलों के उम्मीदवारों की जीत-हार में उनके विधायकों की भूमिका भी रहेगी। दिलचस्प यह है कि तीन प्रमुख उम्मीदवारों में से दो का अपना कोई विधायक ही नहीं है। सहारनपुर में बीजेपी से राघव लखनपाल शर्मा, कांग्रेस से इमरान मसूद और बसपा से माजिद अली चुनाव मैदान में हैं।

तीसरी बार चुनाव लड़ रहे भाजपा के राघव लखनपाल शर्मा के पक्ष में उनकी पार्टी के तीन विधायक सहारनपुर महानगर के राजीव गुंबर, रामपुर मनिहारान के देवेंद्र निम और देवबंद क्षेत्र के बृजेश सिंह चुनाव को अपनी प्रतिष्ठा का सवाल बनाकर अपने प्रत्याशी के लिए दिन-रात एक किए हुए हैं।

Advertisement

दूसरे प्रमुख उम्मीदवार कांग्रेस के इमरान मसूद का यह तीसरा लोकसभा चुनाव है। उनकी पार्टी का सहारनपुर संसदीय क्षेत्र में कोई विधायक नहीं है। इमरान मसूद पांचों विधानसभा क्षेत्रों में खुद ही अपने चुनाव अभियान की अगुआई कर रहे हैं। अलबत्ता उन्हें समर्थन दे रही समाजवादी पार्टी के दो विधायक बेहट के उमर अली खान और सहारनपुर ग्रामीण के आशु मलिक का साथ जरूर मिल सकता है।

फजर्लुरहमान कुरैशी को प्रत्याशी बनाना चाहते थे अखिलेश

खुद समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव सहारनपुर सीट से बसपा सांसद फजर्लुरहमान कुरैशी को उम्मीदवार बनाना चाहते थे। कांग्रेस के कोटे में सीट चले जाने पर उन्होंने कांग्रेस नेतृत्व से फजर्लुरहमान को उम्मीदवार बनाने की पेशकश की थी। लेकिन कांग्रेस पार्टी इमरान मसूद के नाम पर ही अड़ी रही।

Advertisement

बेहट विधानसभा सीट पर तो 2007 के विधानसभा चुनाव में इमरान मसूद ने मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव सरकार में शामिल मंत्री जगदीश राणा को परास्त कर दिया था। इधर, बसपा से तीन बार विधायक रहे जगपाल सिंह भाजपा में हैं। उन्होंने पिछला चुनाव सहारनपुर देहात सीट से भाजपा के टिकट पर लड़ा था।

Advertisement

गुर्जर बिरादरी के मुकेश चौधरी और कीरतपाल सिंह भाजपा से विधायक हैं। हालांकि दोनों की विधानसभा सीटें कैराना लोकसभा क्षेत्र में पड़ती हैं। सहारनपुर सीट पर उलझन की स्थिति बनी हुई है। देखने में मुकाबला त्रिकोणीय यानी भाजपा-कांग्रेस और बसपा में दिखता है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो