scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Rajasthan Elections: देर रात भाजपा विधायक से मिलने क्यों पहुंचे अशोक गहलोत, हर तरफ हो रही चर्चा, जानिए मामला

अशोक गहलोत भी जोधपुर की सरदारपुरा सीट से विधायक हैं और जोधपुर के रहने वाले हैं। जब वह मंगलवार रात सूर्यकांता व्यास के घर पहुंचे तो उनके स्वागत में वहां मौजूद लोगों ने अशोक गहलोत जिंदाबाद के नारे भी लगाए।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Mohammad Qasim
Updated: October 25, 2023 12:33 IST
rajasthan elections  देर रात भाजपा विधायक से मिलने क्यों पहुंचे अशोक गहलोत  हर तरफ हो रही चर्चा  जानिए मामला
सीएम अशोक गहलोत ने सूर्यकांता व्यास से की मुलाकात (फोटो : एक्सZinda_Avdhesh)
Advertisement

राजस्थान विधानसभा चुनाव में जोधपुर की सूरसागर सीट का चुनाव काफी दिलचस्प होने जा रहा है। भाजपा ने इस सीट से मौजूदा विधायक सूर्यकांता व्यास (जीजी) का टिकट काट दिया है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने बयान दिया है कि उनका टिकट मेरी तारीफ करने की वजह से काटा गया है और भाजपा ने अपने अन्य विधायकों के साथ भी ऐसा किया है। हालांकि इस मामले पर फोकस मंगलवार रात के बाद और ज्यादा बढ़ गया है। वजह अशोक गहलोत का सूर्यकांता व्यास (जीजी) के घर पहुंचना बताया जा रहा है। अशोक गहलोत उनके घर पहुंचे और 15 मिनट वहां रहे, सूर्यकांता व्यास ने माला और साफा पहना कर उनका स्वागत भी किया।

क्या हैं इस मुलाकात के सियासी मायने?

भाजपा विधायक सूर्यकांता व्यास (जीजी) की सूरसागर सीट पर काफी पकड़ है। वह तीन बार से यहां की विधायक हैं। इस बार जब भाजपा ने उनका टिकट काटा तो इसे काफी अचंभे से देखा गया। अशोक गहलोत भी जोधपुर की सरदारपुरा सीट से विधायक हैं और जोधपुर के रहने वाले हैं।

Advertisement

जब वह मंगलवार रात सूर्यकांता व्यास के घर पहुंचे तो उनके स्वागत में वहां मौजूद लोगों ने अशोक गहलोत जिंदाबाद के नारे भी लगाए। सूर्यकांता व्यास ने अशोक गहलोत को माला पहनाई और साफा पहनाकर उनका स्वागत किया। पिछले दिनों वह अशोक गहलोत की तारीफ को लेकर और गजेन्द्र सिंह शेखावत से विवाद को लेकर भी चर्चा में आई थी। अब अशोक गहलोत से उनकी मुलाकात के बाद राजनीतिक अटकलें बढ़ गई हैं कि कांग्रेस सूरसागर का किला भेदने के लिए सूर्यकांता व्यास को सामने ला सकती है।

भाजपा के लिए खड़ी हो सकती है मुश्किल

चुनाव के दौरान नेताओं का पाले बदलना एक आम बात हो गई है। इस बार राजस्थान में ऐसा देखा जा रहा है। जहां भाजपा से नाराज कई विधायकों ने पाला बदलने की योजना बनाई है। अगर सूर्यकांता व्यास पाला बदलती हैं तो यह भाजपा के लिए परेशानी का सबब बन सकता है। उनका ऐसा करना जोधपुर की अन्य सीटों पर भी प्रभाव डाल सकता है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो