scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Prajwal Revanna Case: 'देवेगौड़ा ने ही प्रज्जवल रेवन्ना को भेजा देश से बाहर', CM सिद्धारमैया ने पूर्व PM पर बोला बड़ा हमला

Prajwal Revanna Case: प्रज्जवल रेवन्ना केस के मुद्दे पर कांग्रेस और सभी विपक्षी दल जेडीएस पर हमलावर हैं। वहीं प्रज्जवल रेवन्ना को ओपन लेटर लिखकर पूर्व पीएम एचडी देवेगौड़ा ने कानून के सामने की बात कही थी।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | May 24, 2024 21:49 IST
prajwal revanna case   देवेगौड़ा ने ही प्रज्जवल रेवन्ना को भेजा देश से बाहर   cm सिद्धारमैया ने पूर्व pm पर बोला बड़ा हमला
Lok Sabha Chunav 2024: सिद्धारमैया ने पूर्व पीएम पर लगाए गंभीर आरोप (सोर्स - PTI/File)

Lok Sabha Chunav 2024: कर्नाटक की हासन लोकसभा सीट से सांसद और प्रत्याशी प्रज्जवल रेवन्ना पर अनेक महिलाओं के साथ दुर्व्यवहार करने के आरोप हैं। इसको लेकर लगातार कांग्रेस पार्टी बीजेपी-जेडीएस गठबंधन पर हमलावर है। प्रज्जवल रेवन्ना पूर्व एचडी देवेगौड़ा के पोते हैं और उन्होंने एक ओपन लेटर के जरिए प्रज्जवल को संदेश कहा है कि वे कानून के सामने आकर प्रक्रिया का सामना करें। दूसरी ओर इस मुद्दे पर कर्नाटक के सीएम सिद्धारमैया ने प्रज्जवल रेवन्ना पर हमला बोला है और यह तक कहा है कि पूर्व पीएम ने ही रेवन्ना को भगाने में मदद की है।

कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा है कि पूर्व प्रधानमंत्री एच.डी. देवेगौड़ा के परिवार को पूर्व प्रधानमंत्री के पोते और हासन से जनता दल-सेक्युलर पार्टी के सांसद प्रज्वल रेवन्ना की देश छोड़ने की योजना के बारे में पता था। रेवन्ना उनसे जुड़े यौन उत्पीड़न वाले वीडियो और मारपीट के आरोपों के सामने आने के बाद देश छोड़ने की योजना बना रहे थे।

देवेगौड़ा पर लगाए गंभीर आरोप

गौरतलब है कि देवेगौड़ा द्वारा अपने पोते को देश वापस आकर कानून का सामना करने के लिए लिखे गए खुले पत्र पर प्रतिक्रिया देते हुए सिद्धारमैया ने कहा कि मेरे अनुसार उन्होंने (देवगौड़ा) ही उसे देश से बाहर भेजा था, यह सब जनता के लिए है। क्या प्रज्वल रेवन्ना अपने परिवार की जानकारी के बिना देश छोड़कर चले गए? क्या वह किसी को बताए बिना चले गए?

बता दें कि प्रज्ज्वल रेवन्ना 27 अप्रैल की सुबह-सुबह यूरोप के लिए भारत से चले गए थे। हासन चुनाव से पहले ही सांसद के कथित सेक्स वीडियो सार्वजनिक हो गए थे, जिनमें से कुछ में कथित यौन उत्पीड़न की घटनाओं का खुलासा हुआ था।

कर्नाटक सरकार ने किया SIT का गठन

28 अप्रैल को कर्नाटक कांग्रेस सरकार ने राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष द्वारा सरकार और राज्य पुलिस प्रमुख को सेक्स वीडियो और मारपीट के मामले भेजे जाने के बाद एक एसआईटी का गठन किया था। SIT ने हसन के सांसद के खिलाफ बलात्कार के लिए तीन एफआईआर दर्ज की हैं।

पूर्व पीएम देवेगौड़ा ने दी चेतावनी

प्रज्जवल रेवन्ना 26 दिनों से लापता हैं और सिद्धारमैया ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को प्रज्वल रेवन्ना का राजनयिक पासपोर्ट रद्द करने के लिए दूसरा पत्र लिखा है, तब देवगौड़ा ने उनकी वापसी के लिए सार्वजनिक आह्वान किया। देवेगौड़ा ने अपने ओपन लेटर में कहा कि इस समय मैं केवल एक ही काम कर सकता हूँ। मैं प्रज्वल को कड़ी चेतावनी दे सकता हूँ और उसे जहाँ कहीं भी हो, वहाँ से वापस आने और पुलिस के सामने आत्मसमर्पण करने के लिए कह सकता हूँ। उसे खुद को कानूनी प्रक्रिया के अधीन करना चाहिए। यह कोई अपील नहीं है जो मैं कर रहा हूँ, यह एक चेतावनी है जो मैं जारी कर रहा हूं।

सिद्धारमैया ने वीडियो लीक होने को लेकर कहा कि वीडियो का जारी होना मामले का महत्वपूर्ण पहलू नहीं है। मुख्य अपराध बलात्कार है। वह डीके शिवकुमार और अन्य पर आरोप लगा रहे हैं। उन्हें देश के कानून का सम्मान करना चाहिए।

सिद्धारमैया ने कहा कि कुमारस्वामी के बड़े भाई रेवन्ना का बेटा इस मामले में आरोपी है। उसे अपराधी के रूप में नामित नहीं किया गया है, लेकिन जब तक मुकदमा नहीं चलता और अदालत में साबित नहीं हो जाता, तब तक वह आरोपी है।

Tags :
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो