scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Narendra Modi Interview: राम मंदिर से इलेक्टोरल बॉन्ड तक, जानिए पीएम नरेंद्र मोदी के इंटरव्यू की बड़ी बातें

PM Narendra Modi: पीएम नरेंद्र मोदी लगातार तीसरी बार लोकसभा चुनाव में जीत के दावे कर रहे हैं।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Yashveer Singh
नई दिल्ली | Updated: April 15, 2024 18:56 IST
narendra modi interview  राम मंदिर से इलेक्टोरल बॉन्ड तक  जानिए पीएम नरेंद्र मोदी के इंटरव्यू की बड़ी बातें
पीएम नरेंद्र मोदी ने न्यूज एजेंसी ANI को इंटरव्यू है (ANI)
Advertisement

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न्यूज एजेंसी ANI को इंटरव्यू दिया है। इस इंटरव्यू में पीएम नरेंद्र मोदी ने देश की राजनीति से जुड़े तमाम विषयों पर बात की है। पीएम नरेंद्र मोदी ने इंटरव्यू में कहा, "मेरे पास बड़ी योजनाएं हैं...किसी को डरने की ज़रूरत नहीं है।मेरे निर्णय किसी को डराने, दबाने के लिए नहीं हैं। वे देश के समग्र विकास के लिए हैं।"

'एक राष्ट्र, एक चुनाव पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "...एक राष्ट्र एक चुनाव हमारी प्रतिबद्धता है...कई लोगों ने समिति को अपने सुझाव दिए हैं। बहुत सकारात्मक और इनोवेटिव सुझाव आए हैं। अगर हम इस रिपोर्ट को लागू कर पाए तो देश को बहुत फायदा होगा।"

Advertisement

राम मंदिर पर कांग्रेस ने की राजनीति?

प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस और उसके सहयोगियों ने राम मंदिर मुद्दे को राजनीतिक हथियार की तरह इस्तेमाल किया। पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब हमारा जन्म भी नहीं हुआ था, जब हमारी पार्टी का जन्म भी नहीं हुआ था। उस वक्त ये मामला कोर्ट में निपट सकता था। समस्या का कोई समाधान हो सकता था। जब भारत का बंटवारा हुआ, तो बंटवारे के वक्त वे ये तय कर सकते थे कि ऐसा-ऐसा करेंगे, ऐसा नहीं किया गया.. क्यों? क्योंकि ये उनके हाथ में एक हथियार की तरह है, वोट बैंक की राजनीति का हथियार है।

सनातन विरोध पर कांग्रेस को लपेटा

DMK नेता द्वारा कुछ दिनों पहले की गई 'सनातन विरोधी' टिप्पणी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, "कांग्रेस से पूछा जाना चाहिए कि सनातन के खिलाफ इतना जहर उगलने वाले लोगों के साथ बैठना उनकी क्या मजबूरी है?...कांग्रेस की मानसिकता में ये कौन सी विकृति है..."

Advertisement

इलेक्टोरल बॉन्ड्स पर पीएम मोदी ने क्या कहा

इलेक्टोरल बॉन्ड्स पर बात करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि इस स्कीम पर विपक्षी दल झूठ फैला रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसका अफसोस सभी को होगा। यह स्कीम चुनाव में काला धन रोकने के लिए था और विपक्षी आरोप लगाकर भागना चाहते हैं।

Advertisement

राहुल गांधी के बयानों पर उठाए सवाल

राहुल गांधी पर बोलते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, ''दुर्भाग्य से, आजकल हम देखते हैं कि शब्दों के प्रति कोई प्रतिबद्धता और जिम्मेदारी नहीं है। आपने किसी नेता के पुराने वीडियो घूमते हुए देखे होंगे, जहां उनके हर विचार विरोधाभासी होते हैं। जब लोग यह देखते हैं तो उन्हें लगता है कि यह नेता जनता की आंखों में धूल झोंकने की कोशिश कर रहा है। हाल ही में, मैंने एक राजनेता को यह कहते हुए सुना, "एक झटके में गरीबी हटा दूंगा"। जिनको 5-6 दशक तक सत्ता में रहने का मौका मिला, वो जब ऐसा कहते हैं तो देश सोचता है कि ये आदमी क्या कह रहा है।"

नॉर्थ - साउथ डिवाइड पर क्या बोले पीएम मोदी?

तथाकथित 'नॉर्थ साउथ डिवाइड' पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, " भारत को टुकड़ों में देखना भारत के प्रति नासमझी का परिणाम है। अगर आप हिंदुस्तान में देखें प्रभु राम के नाम से जुड़े हुए गांव सबसे ज्यादा कहां है? तो वह तमिलनाडु में है। अब आप इसको कैसे अलग कर सकते हैं। विविधता हमारी ताकत है, हमें इसका जश्न मनाना चाहिए..."

400 सीटें जीतने पर करेंगे संविधान में बदलाव?

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि विपक्ष के साथ समस्या है कि वे देश को एक ही ढांचे में ढालना चाहते हैं। हम विविधता की पूजा करते हैं हम इसका जश्न मनाते हैं। उन्होंने कहा, "मुझे समझ नहीं आ रहा है कि आप (कांग्रेस) किस आधार पर उस व्यक्ति के खिलाफ ऐसे आरोप लगा रहे हैं, जिसने संयुक्त राष्ट्र में तमिल भाषा - सबसे पुरानी भाषा - का जश्न मनाया था? जब मैं विभिन्न राज्यों की पोशाकें पहनता हूं तो उन्हें दिक्कत होती है। समस्या यह है कि वे - वे देश को एक ही सांचे में ढालना चाहते हैं। हम विविधता की पूजा करते हैं। हम इसका जश्न मनाते हैं... हमने कहा है, कोई अपनी मातृभाषा (स्थानीय भाषाओं में पाठ्यक्रम) का उपयोग करके डॉक्टर या इंजीनियर क्यों नहीं बन सकता? मैं मातृभाषा के बारे में बोलता हूं, इसका मतलब है कि मैं इसका जश्न मना रहा हूं, मैं इसकी महानता को बढ़ा रहा हूं। मैं हाल ही में युवा खिलाड़ियों से मिला। उनमें से एक ने मुझसे पूछा कि क्या मेरे पास उनके लिए कोई संदेश है अपने हस्ताक्षर करें - इसे अपनी मातृभाषा में करें। मैं विविधता लाने की कोशिश कर रहा हूं, अगर उन्हें आरोप लगाना है, तो मैं क्या कर सकता हूं?''

देखिए पीएम नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू

इंडियन मार्केट में एलन मस्क की एंट्री पर क्या कहा?

पीएम मोदी ने कहा - एलन मस्क मोदी का समर्थक होना एक बात है, मूलतः वह भारत के समर्थक हैं...मैं भारत में निवेश चाहता हूं। पैसा किसी का भी लगा हो, पसीना मेरे देश का लगना चाहिए, उसके अंदर सुगंध मेरे देश की मिट्टी की आनी चाहिए, ताकि मेरे देश के नौजवान को रोजगार मिले (जो कोई भी निवेश करना चाहता है वह कर सकता है, लेकिन इसे भारतीयों द्वारा बनाया जाना चाहिए ताकि मेरे देश के युवाओं को रोजगार मिले)

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो