scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

MP Elections: 'मर भी गया तो राख के ढेर से जिंदा हो जाऊंगा', इस योजना को लेकर शिवराज और कमलनाथ आमने-सामने

MP Elections: पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता कमल नाथ ने कहा, 'हम बहुत अच्छी तरह से तैयार हैं। मुझे मध्य प्रदेश के मतदाताओं पर पूरा भरोसा है कि वे मध्य प्रदेश के भविष्य को सुरक्षित रखेंगे।'
Written by: न्यूज डेस्क
Updated: November 08, 2023 10:29 IST
mp elections   मर भी गया तो राख के ढेर से जिंदा हो जाऊंगा   इस योजना को लेकर शिवराज और कमलनाथ आमने सामने
Madhya Pradesh Assembly Elections: मध्य कांग्रेस चीफ कमलनाथ और राज्य के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान। (एक्सप्रेस फाइल)
Advertisement

Ladli Behna Scheme: मध्य प्रदेश में जैसे-जैसे चुनाव प्रचार अभियान तेज होता जा रहा है, वहीं नेताओं की आक्रामता भी देखी जा रही है। राजनीति के धुरंधर इस वक्त जनता को लुभाने के लिए सभी हथकंडे अपना रहे हैं। इसी बीच मध्य प्रदेश के पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता कमलनाथ ने मंगलवार को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान पर करारा हमला बोला। कमलनाथ ने कहा कि भाजपा के शासन में राज्य में बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार हुआ है, साथ ही उन्होंने कहा कि कांग्रेस को मतदाताओं पर भरोसा है। कि वे राज्य के भविष्य की रक्षा करेंगे। बता दें, मध्य प्रदेश उन पांच राज्यों में से एक है जहां 17 नवंबर को 230 विधानसभा सीटों के लिए मतदान होगा और वोटों की गिनती 3 दिसंबर को होगी।

पूर्व सीएम और कांग्रेस नेता कमल नाथ ने कहा, 'हम बहुत अच्छी तरह से तैयार हैं। मुझे मध्य प्रदेश के मतदाताओं पर पूरा भरोसा है कि वे मध्य प्रदेश के भविष्य को सुरक्षित रखेंगे। आज मध्य प्रदेश चौपट प्रदेश बन गया है और भ्रष्टाचार की कोई सीमा नहीं है। आप इसे (सत्ता विरोधी लहर) कुछ भी नाम दे सकते हैं, लेकिन अंत में हर वर्ग परेशान है। हमारे युवा, किसान, छोटे व्यापारी, सभी परेशान हैं।'

Advertisement

कमलनाथ ने राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई 'लाडली बहना' योजना को चुनावी हथकंडा करार देते हुए कहा कि राज्य के लोग इतने समझदार हैं कि 18 साल के शासन के बाद इस योजना की अचानक शुरुआत कैसे हुई। उन्होंने कहा कि हमारी बहनें समझदार हैं। वे समझ जाएंगी कि उन्हें (बीजेपी) 18 साल बाद उनकी याद आई। यह सब चुनावी हथकंडा है और बहनें इसे समझ रही हैं। हमने जो किया है वह आदिवासी लोगों ने देखा है।आदिवासियों पर सबसे ज्यादा अत्याचार मध्य प्रदेश में हुआ है। बता दें, मध्य प्रदेश सरकार की लाडली बहना योजना के तहत राज्य की प्रत्येक महिला को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के उद्देश्य से 1,000 रुपये प्रदान किए जाते हैं।

पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष कमलनाथ ने छिंदवाड़ा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा, "आज छिंदवाड़ा की अपनी पहचान है… बताने की आवश्यकता नहीं है, आप ही इसके सबसे बड़े गवाह हैं। मैंने तो छिंदवाड़ा पर अपनी जवानी समर्पित कर दी। आपका प्यार मेरे जीवन की सबसे बड़ी पूंजी है। हमारी सरकार 15 महीने बनी थी… 11.5 महीने में हमने पूरे प्रदेश को अपनी नीति और नीयत का परिचय दिया… मैंने कौन सा पाप किया कि 11 महीने में 1 हजार गौशालाएं बना दीं। प्रदेश के सामने ये सारी बातें हैं…"

Advertisement

वहीं रायसेन ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने 'लाडली बहना योजना' का जिक्र किया। शिवराज ने सभा को संबोधित करते हुए कहा, 'लाडली बहना योजना आधी आबादी को पूरा न्याय देने की कोशिश है, लेकिन कांग्रेस के लोग रोज मुझे गाली देते हैं। उन्होंने कहा कि एक दिन तो सोशल मीडिया पर मेरा श्राद्ध ही कर दिया कि मामा तेरा श्राद्ध हो गया। मैंने कहा कि मर भी गया तो राख के ढेर से जिंदा हो जाऊंगा और अपनी जनता की सेवा करने का प्रयास करूंगा।'

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो