scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

MP Election 2023: कौन हैं रीति पाठक? केदारनाथ शुक्ला का टिकट काट BJP ने क्यों दिया इन्हें सीधी से टिकट

MP Chunav 2023: बीजेपी विधायक केदारनाथ शुक्‍ला ने रीति पाठक को लेकर कहा कि वो तो आंगनवाड़ी का फॉर्म भरने के लिए आई थी, लोगों ने जिला पंचायत का फॉर्म भरा दिया फिर लोगों ने उसे सांसद बना दिया।
Written by: shrutisrivastva
Updated: November 02, 2023 13:16 IST
mp election 2023  कौन हैं रीति पाठक  केदारनाथ शुक्ला का टिकट काट bjp ने क्यों दिया इन्हें सीधी से टिकट
मध्य प्रदेश बीजेपी उम्मीदवार रीति पाठक (Source- Twitter)
Advertisement

Madhya Pradesh BJP Candidate Riti Pathak: मध्य प्रदेश चुनाव से पहले बीजेपी ने सीधी विधानसभा क्षेत्र से तीन बार के विधायक केदारनाथ शुक्‍ला का इस बार टिकट काट दिया है। उनकी जगह सीधी से सांसद रीति पाठक को प्रत्‍याशी घोषित किया गया है। रीति पाठक पहली बार 2014 के लोकसभा चुनावों में मध्य प्रदेश की सीधी सीट से भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार के रूप में चुनी गईं थीं। उन्होंने कांग्रेस उम्मीदवार को 1 लाख से ज्यादा वोटों के अंतर से हराकर सीट जीती थी।

निजी जीवन

रीति पाठक का पालन-पोषण रीवा में हुआ था। उन्होंने इतिहास और हिंदी साहित्य में स्नातक की डिग्री (बीए) ली और उसके बाद इतिहास में मास्टर डिग्री ली। इसके बाद उन्होंने एलएलबी भी किया। उन्होंने स्नातक स्तर की पढ़ाई तक अपने सभी तीन एनसीसी प्रमाणपत्र पूरे कर लिए थे। वह 1994-95 में जीडीसी में संयुक्त सचिव थीं। साल 1997 में उन्होंने रजनीश पाठक से शादी की।

Advertisement

पहली बार साल 2014 में लड़ा चुनाव

अपने परिवार की प्रेरणा और समर्थन से रीति पाठक ने अपने गृह निर्वाचन क्षेत्र में महिलाओं के लिए सामाजिक कार्य शुरू किए। राजनीति से उनका परिचय तब हुआ जब उन्होंने सीधी के जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए चुनाव लड़ा और जीत हासिल की। 2014 में उन्होंने मध्य प्रदेश के सीधी निर्वाचन क्षेत्र से चुनाव लड़ा और 1,08,046 वोटों के अंतर से जीत हासिल की। वह 2019 में लोकसभा के लिए फिर से चुनी गईं। वर्तमान में रीति 17वीं लोकसभा की मौजूदा सदस्य हैं।

रीति पाठक सितंबर 2014 में ग्रामीण विकास, पंचायती राज तथा पेयजल और स्‍वच्‍छता मंत्रालय के तहत परामर्श समिति की सदस्या चुनी गईं। सितंबर 2014 में ही वह कोयला और इस्‍पात संबंधी स्‍थायी समिति की सदस्या बनीं। 2014 में रीति पाठक सीधी निर्वाचन क्षेत्र से कांग्रेस पार्टी के इंद्रजीत कुमार को पराजित करने के बाद 16 वीं लोक सभा के लिए चुनी गई। फरवरी 2015 में वह महिलाओं को शक्‍ति प्रदान करने संबंधी समिति की सदस्या बनीं। मई 2016 में रीति लोक लेखा समिति की सदस्या चुनी गईं। 2019 में वह 17वीं लोकसभा के लिए फिर से चुनी गईं। उन्होंने कांग्रेस प्रत्याशी अजय सिंह को 2 लाख से ज्यादा मतों के अंतर से हराकर सीधी सीट जीती।

Advertisement

विवाद

2019 के चुनाव में बीजेपी की रीति पाठक के खिलाफ कांग्रेस ने अजय सिंह को उम्मीदवार उतारा था। उस दौरान अजय सिंह का एक विवादित बयान सोशल मीडिया पर वायरल हुआ था। सीधी में एक संबोधन के दौरान बीजेपी सांसद रीति पाठक को अजय सिंह ने माल कह दिया था।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो