scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'चलो अच्छा है छुटकारा मिल जाएगा...', नीतीश कुमार के NDA में शामिल होने की अटकलों पर बोलीं ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने यह भी कहा कि अगर नीतीश के साथ चुनाव लड़ते तो बिहार में गठबंधन को 7 से अधिक सीटें नहीं मिलती।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Nitesh Dubey
नई दिल्ली | Updated: January 27, 2024 23:04 IST
 चलो अच्छा है छुटकारा मिल जाएगा      नीतीश कुमार के nda में शामिल होने की अटकलों पर बोलीं ममता बनर्जी
पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी। (File Photo- Express)
Advertisement

बिहार में सियासी हलचल मची हुई है और इसका असर पूरे देश में दिखाई दे रहा है। बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार बीजेपी के साथ सरकार बना सकते हैं। इस खबर पर बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने बड़ा बयान दिया है।

'चलो छुटकारा तो मिला'

ममता बनर्जी के करीबी सूत्रों ने अखबार द टेलीग्राफ को बताया कि ममता बनर्जी इस घटनाक्रम को छुटकारा मिलने के तौर पर देखती हैं। शुक्रवार शाम बंगाल के राजभवन में एक मिलन समारोह का आयोजन किया गया था, जिसमें ममता बनर्जी भी शामिल हुईं थीं।

Advertisement

टीएमसी के करीबी सूत्र ने टेलीग्राफ को बताया कि जैसे ही उनको नीतीश कुमार की खबर पता चली, उन्होंने कहा कि चलो छुटकारा मिल जाएगा। ममता बनर्जी सोचती हैं कि नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली सरकार के खिलाफ सत्ता विरोधी लहर और इसके कारण इंडिया गठबंधन को बिहार में नुकसान उठाना पड़ सकता है। सूत्रों ने दावा किया की ममता बनर्जी मानती हैं कि अगर नीतीश कुमार गठबंधन से बाहर निकलते हैं तो इससे आरजेडी और कांग्रेस को कोई नुकसान नहीं होगा।

नीतीश के खिलाफ है सत्ता विरोधी लहर: ममता बनर्जी

ममता बनर्जी ने यह भी कहा कि अगर नीतीश के साथ चुनाव लड़ते तो बिहार में गठबंधन को 7 से अधिक सीटें नहीं मिलती। बता दें कि कहा जाता है कि ममता बनर्जी के विरोध के कारण ही नीतीश कुमार को इंडिया गठबंधन का संयोजक नहीं बनाया गया था। ममता बनर्जी ने ही इंडिया गठबंधन की पिछली बैठक के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को पीएम फेस बनाने का प्रस्ताव पेश किया था।

Advertisement

जीतनराम मांझी को मिला ऑफर

बिहार में हिंदुस्तान आवाम मोर्चा के प्रमुख जीतनराम मांझी को भी विपक्षी दलों से ऑफर आ रहे हैं। इस बीच उन्होंने अपने आवास पर विधायक दल की बैठक की और उसके बाद बड़ा बयान दिया। जीतनराम मांझी ने कहा कि जहां पीएम मोदी हैं, वहीं पर हमारी पार्टी है। हम पीएम मोदी के साथ हैं।

Advertisement

जीतनराम मांझी की पार्टी के पास चार विधायक हैं। जब यह घटनाक्रम शुरू हुआ उसके बाद कांग्रेस ने जीतनराम मांझी से संपर्क कर उन्हें इंडिया गठबंधन में शामिल होने का ऑफर दिया। बताया जाता है कि कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने खुद जीतनराम मांझी से बात की। लेकिन मांझी एनडीए के साथ बने हुए हैं।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो