scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Mainpuri Lok Sabha Chunav: सपा के गढ़ मैनपुरी में कांटे की लड़ाई, डिंपल का BJP के जयवीर और BSP के शिवप्रसाद से मुकाबला

Mainpuri Lok Sabha Seat सपा का गढ़ मानी जाती है लेकिन बीजेपी ने यहां ठाकुर जयवीर सिंह और बसपा ने शिवप्रसाद यादव को उतारकर मुकाबला त्रिकोणीय कर दिया है।
Written by: दिनेश शाक्य
Updated: April 17, 2024 08:16 IST
mainpuri lok sabha chunav  सपा के गढ़ मैनपुरी में कांटे की लड़ाई  डिंपल का bjp के जयवीर और bsp के शिवप्रसाद से मुकाबला
मैनपुरी में सपा को डिंपल की जीत की पूरी उम्मीद (Jansatta Image)
Advertisement

Mainpuri Lok Sabha Seat: यादवपट्टी की मैनपुरी संसदीय सीट पर अब लड़ाई कांटे की नजर आ रही है। एक लंबे अरसे से समाजवादियों के कब्जे में इस सीट पर भारतीय जनता पार्टी और बहुजन समाज पार्टी को कभी भी जीत हासिल नहीं हुई है लेकिन 2024 के संसदीय चुनाव में दोनों दल अपनी अपनी जीत का बड़ा दावा जरूर कर रहे हैं। हालांकि समाजवादी पार्टी ऐसा मान करके चल रही है कि मैनपुरी संसदीय सीट पर उसका किसी भी दल से कोई मुकाबला नहीं है, इसलिए समाजवादी पार्टी की उम्मीदवार बहू डिंपल यादव की जीत पहले की माफिक सुनिश्चित है।

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय प्रमुख महासचिव प्रो रामगोपाल यादव का दावा है कि डिंपल यादव इस लोकसभा चुनाव में कम से कम चार लाख से अधिक मतों से जीतेंगी क्योंकि उन्हें हर वर्ग का वोट हासिल होता हुआ दिख रहा है। मुलायम सिंह यादव के 10 अक्तूबर 2022 को हुए निधन के बाद रिक्त हुई मैनपुरी लोकसभा सीट पर उनके उत्तराधिकारी के रूप में डिंपल यादव को चुनाव मैदान में उतारा गया जहां उन्होंने भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवार रघुराज सिंह शाक्य को 288000 मतों से हराया था।

Advertisement

बीजेपी ने ठाकुर जयवीर सिंह को उतारा

भारतीय जनता पार्टी ने इस सीट से राज्य के पर्यटन मंत्री जयवीर सिंह पर दांव खेला है। मूल रूप से फिरोजाबाद के वासी जयवीर सिंह जद यू की राजनीति से बसपा-सपा होते हुए भाजपा में कद्दावर नेता बनकर के उभरे हैं। जयवीर सिंह ऐसा दावा करते हैं कि उनकी उम्मीदवारी के एलान के साथ मैनपुरी पूरी तरह से भगवामय हो गई है।

बहुजन समाज पार्टी में अपने पूर्व घोषित उम्मीदवार गुलशन देव शाक्य का नाम काटकर पूर्व विधायक शिव प्रसाद यादव को टिकट दिया है। भारतीय जनता पार्टी से अलगाव के बाद शिव प्रसाद यादव ने साल 2023 में अपनी सर्वजन सुखाय पार्टी का गठन किया था । इसके बाद वे लगातार सैफई परिवार पर प्रहार करने में जुटे हुए है।

Advertisement

घोसी यादव समाज से आते हैं शिवप्रसाद

2007 में भरथना से बसपा से ही विधायक रह चुके शिवप्रसाद यादव घोसी यादव समाज से ही आते हैं। लोकसभा चुनाव से पहले उन्होंने शहर के रामलीला मैदान में एक बड़ी रैली करके घोसी समाज को एक साथ करने का प्रयास किया था। इसके बाद उन्होंने प्रदेश में अपनी पार्टी से प्रत्याशी भी खड़े करने का ऐलान किया था, लेकिन इस बीच मंगलवार सुबह बसपा ने मैनपुरी से उनके टिकट पर मुहर लगा दी।

Advertisement

शिव प्रसाद यादव का दावा है कि वह मैनपुरी संसदीय सीट पर बहुजन समाज पार्टी की उम्मीदवार के रूप में रिकार्ड मतों से जीत हासिल करेंगे क्योंकि उनको उनके यादव वर्ग के अलावा अन्य सभी तबके का वोट हासिल होगा। मैनपुरी लोकसभा सीट पर 1996 से अब तक दस बार हुए चुनाव में समाजवादी पार्टी लगातार यह सीट जीतती आ रही है। लोकसभा चुनाव 2014 में तो नरेंद्र मोदी की आंधी चल रही थी फिर भी समाजवादी पार्टी के मुलायम सिंह यादव ने शानदार जीत हासिल की। 2014 मे मुलायम सिंह तीन लाख 64 हजार 666 मतों से जीते थे।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 चुनाव tlbr_img2 Shorts tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो