scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

चुनावी मौसम में बढ़ीं महुआ मोइत्रा की मुश्किलें, ED ने दर्ज किया मनी लॉन्ड्रिंग का केस

Mahua Moitra ED Case: महुआ मोइत्रा टीएमसी निलंबित सांसद हैं और पश्चिम बंगाल की कृष्णानगर सीट से एक बार फिर टीएमसी की प्रत्याशी हैं।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: April 02, 2024 22:31 IST
चुनावी मौसम में बढ़ीं महुआ मोइत्रा की मुश्किलें  ed ने दर्ज किया मनी लॉन्ड्रिंग का केस
TMC ने कृष्णानगर सीट से लड़ रही हैं चुनाव (सोर्स - PTI/File)
Advertisement

Cash For Query Case: लोकसभा चुनाव 2024 (Lok Sabha Elections 2024) को लेकर टीएमसी नेता महुआ मोइत्रा (Mahua Moitra) कृष्णानगर सीट से चुनाव प्रचार में जुटी हुईं हैं। दूसरी ओर महुआ की मुश्किलें कैश फॉर क्वेरी केस में एक बार फिर बढ़ गई हैं। सीबीआई (CBI) के बाद अब ईडी ने भी उनके खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज कर लिया है। ईडी ने महुआ के खिलाफ यह केस सीबीआई की FIR के आधार पर ही दर्ज किया है।

जानकारी के मुताबिक ED ने महुआ मोइत्रा ECIR दर्ज कर ली है। बता दें कि नॉर्मल केस में जो FIR होती है, उसी तरह ED सबसे पहले किसी भी केस में ECIR दर्ज करती है। महुआ मोइत्रा पर लगे आरोपों की बात करें तो उन पर आरोप है कि उन्होंने FEMA (विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम) नियमों का उल्‍लंघन किया है।

Advertisement

एक तरफ जहां ईडी ने महुआ के खिलाफ ECIR दर्ज की है, तो दूसरी ओर जांच एजेंसी ने कारोबारी दर्शन हीरानंदानी को भी समन जारी कर पूछताछ के लिए बुलाया था। दर्शन के पिता निरंजन हीरानंदानी मुंबई में एजेंसी के सामने पेश हो चुके हैं।

CBI ने भी दर्ज कर रखा है केस

गौरतलब है कि CBI ने पिछले महीने पश्चिम बंगाल की कृष्णानगर सीट से TMC की पूर्व सांसद मोइत्रा के ठिकानों पर FIR दर्ज करने के बाद तलाशी ली थी। महुआ को तृणमूल कांग्रेस ने लोकसभा चुनाव लड़ने के लिए फिर से नामांकित किया है और सीबीआई अधिकारियों ने कहा था कि लोकपाल के निर्देश पर CBI ने उनके और हीरानंदानी के खिलाफ CBI दर्ज की है, जिसने एजेंसी को छह महीने के भीतर अपनी रिपोर्ट दाखिल करने का निर्देश दिया है।

Advertisement

क्या है पूरा मामला?

गौरतलब है कि पिछले वर्ष दिसंबर महीने में लोकसभा में अनैतिक आचरण के लिए महुआ मोइत्रा को निष्कासित कर दिया गया था। पूर्व सांसद ने इस फैसले को लेकर सुप्रीम कोर्ट में चुनौती भी दे रखी है। बता दें कि बीजेपी के लोकसभा सांसद निशिकांत दुबे ने महुआ मोइत्रा पर आरोप लगाया है कि उन्होंने उद्योगपति गौतम अडानी और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत अन्य पर हमला करने के लिए हीरानंदानी से नकदी और गिफ्ट के बदले लोकसभा में सवाल पूछे थे।

इस कैस के चलते महुआ मोइत्रा ओर पूरी टीएमसी एक समय बैकफुट पर चली गई थीं। हालांकि एक बार फिर से टीएमसी ने उन्हें कृष्णानगर सीट से प्रत्याशी बनाया है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो