scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Lok Sabha Elections: PM मोदी समेत लोकसभा के चुनावी मैदान में होंगे 18 पूर्व मुख्यमंत्री, जानें कौन-कौन हैं दिग्गज

Lok Sabha Elections 2024: लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर पहले चरण की वोटिंग 19 अप्रैल को होनी है, जिसमें 102 सीटों के लिए मतदान होंगे।
Written by: सुशील राघव
नई दिल्ली | April 13, 2024 23:53 IST
lok sabha elections  pm मोदी समेत लोकसभा के चुनावी मैदान में होंगे 18 पूर्व मुख्यमंत्री  जानें कौन कौन हैं दिग्गज
लोकसभा चुनाव में इस बार कई राज्यों के पूर्व सीएम भी लड़ेंगे चुनाव (सोर्स - PTI/File)
Advertisement

Lok Sabha Elections 2024: 18वीं लोकसभा के लिए होने जा रहे चुनावों में सभी बड़ी राजनीतिक पार्टियों ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों पर भी अपना विश्वास जताया है। इन चुनावों में पीएम नरेंद्र मोदी सहित 18 पूर्व मुख्यमंत्री चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें से कई को एक दशक से भी ज्यादा का अनुभव है। जम्मू-कश्मीर और कर्नाटक के तीन-तीन पूर्व मुख्यमंत्री मैदान में हैं जबकि मध्य प्रदेश से दो पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और शिवराज सिंह चौहान चुनाव लड़ रहे हैं।

गुजरात के मुख्यमंत्री रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तीसरी बार लोकसभा चुनाव मैदान में हैं। 13 साल तक मुख्यमंत्री रहे नरेंद्र मोदी एक बार फिर वाराणसी से चुनावी मैदान में हैं। वर्तमान में भी मोदी वाराणसी से सांसद हैं। वर्ष 2019 के चुनाव में मोदी इस लोकसभा सीट पर 63.62 फीसदी मत हासिल करके विजयी रहे थे। मोदी कैबिनेट में शामिल रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे हैं। बीजेपी ने उन्हें इस बार भी लखनऊ लोकसभा क्षेत्र से चुनाव में उतारा है। राजनाथ सिंह 28 अक्टूबर, 2000 से 8 मार्च, 2002 तक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे। वह भी लखनऊ से सांसद भी हैं। 2019 में राजनाथ सिंह को 6.33 लाख से अधिक वोटों के साथ संसद पहुंचे थे।

Advertisement

केंद्रीय कैबिनेट में शामिल दो और केंद्रीय मंत्री जो कभी राज्यों के मुख्यमंत्री रहे, लोकसभा का चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें कृषि मंत्री अर्जुन मुंडा और जहाजरानी मंत्री सर्वानंद सोनोवाल शामिल हैं। मुंडा झारखंड और सोनोवाल असम के मुख्यमंत्री रहे हैं। सोनोवाल वर्तमान में राज्यसभा के सदस्य हैं। मुंडा झारखंड की खूंटी और सोनोवाल असम की डिब्रूगढ़ लोकसभा सीट से प्रत्याशी बनाए गए हैं।
मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को बीजेपी ने विधानसभा चुनावों में भारी बहुमत से जीतने के बाद फिर से मुख्यमंत्री नहीं बनाया।

शिवराज को नहीं लेने दिया संन्यास

खास बात यह है कि 16 साल से अधिक मुख्यमंत्री रहे शिवराज ने राजनीति से संन्यास की घोषणा भी कर दी थी लेकिन पार्टी ने अब उन्हें विदिशा लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया है। बीजेपी में शायद शिवराज ही ऐसे पहले नेता होंगे जो संन्यास के बाद भी चुनाव मैदान में हैं। शिवराज विदिशा से पांच बार सांसद रह चुके हैं। मध्य प्रदेश के एक दशक तक मुख्यमंत्री रहे दिग्विजय सिंह को कांग्रेस ने चुनाव मैदान में उतारा है। वर्तमान में राज्यसभा के सदस्य दिग्विजय सिंह को कांग्रेस ने मध्य प्रदेश की राजगढ़ सीट से टिकट दिया है।

Advertisement

दिग्विजय सिंह राजगढ़ से दो बार सांसद रह चुके हैं। हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को मुख्यमंत्री पद से अचानक इस्तीफा दिलाकर बीजेपी ने उन्हें करनाल से लोकसभा चुनाव के मैदान में उतारा है। दो बार हरियाणा के मुख्यमंत्री रहे मनोहर लाल पहली बार लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं।

Advertisement

जम्मू कश्मीर से मैदान में तीन पूर्व मुख्यमंत्री

जम्मू-कश्मीर के तीन पूर्व मुख्यमंत्री चुनाव मैदान में हैं। गुलाम नबी आजाद राजौरी अनंतनाग सीट से लोकसभा उम्मीदवार हैं। आजाद 2 नवंबर, 2005 से 11 जुलाई, 2008 तक जम्मू कश्मीर के कांग्रेस पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री रहे। वर्तमान में वे डेमोक्रेटिक आजाद पार्टी के अध्यक्ष हैं और इसी पार्टी के निशान पर चुनाव लड़ रहे हैं। इसी तरह नेशनल कांफ्रेंस के नेता और जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला बारामूला के चुनाव मैदान में हैं। उमर 5 जनवरी, 2009 से 8 जनवरी, 2015 तक मुख्यमंत्री रहे।

इस बार नेशनल कांफ्रेंस के प्रमुख और उमर के पिता फारूक अब्दुल्ला चुनाव नहीं लड़ रहे हैं। पीपल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) की अध्यक्ष और जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती अनंतनाग-राजोरी सीट से लोकसभा चुनाव लड़ेंगी। ‘इंडिया’ गठबंधन में शामिल पीडीपी और नैशनल कांफ्रेंस का जम्मू कश्मीर और लद्दाख में सीटों को लेकर समझौता नहीं हो पाया। महबूबा मुफ्ती 4 अप्रैल, 2016 से 20 जून, 2016 तक जम्मू कश्मीर की मुख्यमंत्री रही हैं।

कर्नाटक से तीन पूर्व सीएम लड़ेंगे चुनाव

जम्मू-कश्मीर की तरह कर्नाटक से भी तीन पूर्व मुख्यमंत्री चुनाव मैदान में हैं। राज्य में बीजेपी ने दो पूर्व मुख्यमंत्रियों को बसवराज बोम्मई और जगदीश शेट्टार मैदान में उतारा है। पार्टी ने शेट्टार को बेलागावी और बोम्मई को हावेरी लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया है। वहीं, जनता दल (सेकु) के नेता एचडी कुमारस्वामी मांड्या से चुनाव लड़ेंगे। इनके अलावा जो पूर्व मुख्यमंत्री चुनाव मैदान में हैं, उनमें त्रिवेंद्र सिंह रावत, भूपेश बघेल, जीतन राम मांझी, बिप्लब कुमार देब शामिल हैं। बीजेपी ने उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री रहे त्रिवेंद्र सिंह रावत को हरिद्वार लोकसभा सीट से चुनाव मैदान में उतारा है। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को कांग्रेस ने राजनांदगांव से टिकट दिया है।

वहीं, झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी गया सीट से चुनाव लड़ेंगे। इसी तरह त्रिपुरा के पूर्व मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब को भाजपा ने पश्चिम त्रिपुरा लोकसभा सीट से उम्मीदवार बनाया है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो