scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Lok Sabha Elections 2024: चुनाव से पहले चिराग पासवान को बड़ा झटका, 22 बड़े नेताओं ने दिया पार्टी से इस्तीफा; बताई यह वजह

दूसरे चरण के लिए नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख से महज चंद घंटे पहले पार्टी लोजपा से इतने बड़े स्तर पर बेरुखी पर आगामी चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन पर सवाल उठने लगे हैं।
Written by: जनसत्ता
नई दिल्ली | Updated: April 04, 2024 11:35 IST
lok sabha elections 2024  चुनाव से पहले चिराग पासवान को बड़ा झटका  22 बड़े नेताओं ने दिया पार्टी से इस्तीफा  बताई यह वजह
लोक जनशक्ति पार्टी के नेता चिराग पासवान को NDA ने बिहार में पांच सीटें दी हैं। (PTI)
Advertisement

लोकसभा चुनाव के लिए बिहार में टिकट बंटवारे से नाराज लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) के राष्ट्रीय स्तर के 22 पदाधिकारियों और कार्यकर्ताओं ने पदों से इस्तीफा दे दिया है। इसका असर आगामी चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) और इसके सहयोगी दल लोक जनशक्ति पार्टी (रामविलास) को भुगतना पड़ सकता है। बिहार की 40 में से लोजपा को पांच सीट पर चुनाव लड़ना है। इसके लिए टिकट बंटवारे की घोषणा होने के बाद से पार्टी के नेताओं की नाराजगी का असर इस्तीफे के तौर पर दिखा।

राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और राष्ट्रीय महासचिव ने भी छोड़ा साथ

हाल ही में पार्टी के वरिष्ठ नेता और पूर्व सांसद अरुण कुमार ने पार्टी से इस्तीफा दे दिया। टिकट बंटवारे में समर्पित कार्यकर्ताओं की अनदेखी से नाखुशी का असर इस्तीफे के तौर पर दिखा। बुधवार को इस्तीफा देने वालों में पूर्व सांसद व पार्टी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रेणु कुशवाहा, राष्ट्रीय महासचिव सतीश कुमार, प्रदेश के संगठन सचिव रविंद्र सिंह, मुख्य पार्टी विस्तारक अजय कुशवाहा, प्रदेश उपाध्यक्ष संजय सिंह, प्रदेश प्रवक्ता विनीत सिंह समेत 22 पदाधिकारियों के नाम हैं।

Advertisement

एनडीए के सहयोगी की चुनाव में बढ़ सकती हैं मुश्किलें

दूसरे चरण के लिए नामांकन दाखिल करने की आखिरी तारीख से महज चंद घंटे पहले पार्टी लोजपा से इतने बड़े स्तर पर बेरुखी पर आगामी चुनाव में पार्टी के प्रदर्शन पर सवाल उठने लगे हैं। राजग का सहयोगी दल होने के नाते चुनाव में उनकी मुश्किलें भी बढ़ सकती हैं। पूर्व सांसद रेणु कुशवाहा ने निशाना साधते हुए कहा कि टिकट बंटवारे में पार्टी के समर्पित कार्यकर्ताओं के बजाय बाहरी उम्मीदवारों को तवज्जो दी गई। पार्टी में कई युवा प्रत्याशी हैं, लेकिन उनकी अनदेखी की गई।

पूर्व सांसद अरुण कुमार ने कहा कि पार्टी में अब मूल तत्त्व नहीं बचा है और मैं इस फैसले से हतप्रभ हूं।इससे जनता में नाराजगी है। पार्टी ने जमुई से चिराग पासवान के बहनोई अरुण भारती, खगड़िया से राजेश वर्मा, हाजीपुर से चिराग पासवान, समस्तीपुर से शांभवी चौधरी और वैशाली से वीणा देवी को प्रत्याशी बनाया है।

Advertisement

पार्टी के संगठन सचिव रहे रविंद्र सिंह ने कहा कि हम सभी चिराग पासवान के पिता रामविलास पासवान के समय से साथ हैं। लोजपा के टूटने पर भी साथ नहीं छोड़ा, लेकिन टिकट बाहरी लोगों को दिया गया है। जहां-जहां लोजपा के उम्मीदवार होगा उन्हें हराने का काम करेंगे।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो