scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Lok Sabha Elections: बिहार में सभी सीटों पर सीधी लड़ाई तय, नेताओं के पाला बदलने के बाद इन क्षेत्रों में मुकाबला रोचक

जद (एकी) उम्मीदवार अजय मंडल ने मंगलवार को अपना नामांकन दाखिल कर दिया है। ये वर्तमान सांसद हैं। आज गाजे बाजे और जुलूस के साथ ये पर्चा दाखिल करने पहुंचे।
Written by: गिरधारी लाल जोशी
नई दिल्ली | Updated: April 03, 2024 10:25 IST
lok sabha elections  बिहार में सभी सीटों पर सीधी लड़ाई तय  नेताओं के पाला बदलने के बाद इन क्षेत्रों में मुकाबला रोचक
बिहार में कई दलों में उम्मीदवारी को लेकर असंतोष है। इसलिए कुछ उम्मीदवार विद्रोह करके निर्दलीय भी लड़ेंगे।
Advertisement

बिहार में पाला बदलने का सिलसिला जारी है। मंगलवार को मुजफ्फरपुर के वर्तमान सांसद अजय निषाद ने भाजपा से इस्तीफा दे कांग्रेस का पंजा थाम लिया। हालांकि राजग ने अपनी 40 संसदीय सीटों के नाम घोषित कर दिए हैं। इसमें अजय निषाद का नाम नहीं है। इसी से नाराज होकर उन्होंने इस्तीफा दिया है। इंडिया गठबंधन ने अभी सभी सीटों के लिए उम्मीदवारों के नाम घोषित नहीं किए हैं। लेकिन यह तय है कि सभी सीटों पर लड़ाई सीधी होगी।

पीएम नरेंद्र मोदी चार अप्रैल को जमुई से बिहार में शंखनाद करेंगे

बिहार में सात चरणों में मतदान होना तय हुआ है। पहले चरण का चुनाव 19 अप्रैल को है। चार अप्रैल को प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी जमुई से बिहार में शंखनाद करेंगे। चार सीटों औरंगाबाद, गया, नवादा और जमुई में चुनाव हैं। इसमें औरंगाबाद से सुशील कुमार सिंह और नवादा से विवेक ठाकुर भाजपा, गया में हम के जीतनराम मांझी और जमुई में लोजपा (र) के उम्मीदवार अरुण भारती चुनावी रण में हैं। वहीं इन चारों सीटों पर क्रम से अभय कुशवाहा, श्रवण कुमार, सर्वजीत कुमार और अर्चना रविदास राजद उम्मीदवार के तौर पर चुनाव समर में डटे है। इस तरह भाजपा की दस और जद(एकी) से 24 पर मुकाबला राजद से होगा।

Advertisement

22 सीटों पर बीजेपी-आरजेडी, जेडीयू-आरजेडी की टक्कर होगी

जिन दस सीटों पर भाजपा-राजद की टक्कर होगी वे हैं - नवादा, औरंगाबाद, बक्सर,पाटलिपुत्र, पूर्वी चंपारण, सारण, उजियारपुर, दरभंगा, मधुबनी और अररिया हैं। वहीं जद(एकी) से राजद से मुकाबला होगा वे सीटें हैं- जहानाबाद, मुंगेर, बांका, वाल्मीकिनगर, शिवहर, सीतामढ़ी, सीवान, गोपालगंज, झंझारपुर, सुपौल, मधेपुरा, पूर्णिया। पूर्णिया अदला-बदली कांग्रेस से होने भी आशंका जताई जा रही है।

कांग्रेस को नौ सीटें बंटवारे में मिली हैं। इनमें पांच मुजफ्फरपुर, पश्चिमी चंपारण, पटना साहिब, सासाराम और महाराजगंज में मुख्य मुकाबला भाजपा से होना तय है। भागलपुर, किशनगंज और कटिहार पर जद (एकी) से कांग्रेस की चुनावी रण में टक्कर है। वहीं समस्तीपुर में लोजपा (र) से कांग्रेस चुनावी लड़ाई है। भागलपुर सीट पर विधायक अजित शर्मा, कटिहार से कद्दावर नेता तारिक अनवर और किशनगंज से वर्तमान सांसद डॉ. जावेद के नामों की सूची मंगलवार को जारी कर दी है।

Advertisement

सबसे दिलचस्प लड़ाई माले से है। राजग के तीन दल से चुनावी लोहा लेना है। आरा में भाजपा, नालंदा में जद (एकी) और काराकाट में रालोमो से चुनौती है। भाकपा को बेगूसराय मिली है। यहां भाजपा से इसका मुकाबला होगा, तो मक को खगड़िया में लोजपा(र) से टक्कर होगी। फिलहाल बिहार की 40 लोकसभा सीटों में 39 पर राजग का कब्जा है। यानी 17 भाजपा, 16 जद (एकी) और पांच लोजपा (र) ने 2019 के लोकसभा चुनाव में जीती थी। एक सीट किशनगंज की कांग्रेस के पास है। यों कांग्रेस गठबंधन के तहत भागलपुर सीट पर पहली दफा चुनाव लड़ रही है। मंगलवार को उम्मीदवार के नाम का पत्ता खोल दिया है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो