scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Phulpur Lok Sabha Chunav Result 2024: फूलपुर सीट पर बीजेपी प्रत्याशी प्रवीण पटेल की जीत, कड़े मुकाबले में सपा के अमरनाथ मौर्या को दी 4000 वोटों से मात

Phulpur Lok Sabha Chunav Result 2024: नेहरू के गढ़ फूलपुर सीट से बीजेपी ने इस बार वर्तमान सांसद केसरी देवी का टिकट काटकर उनके बेटे प्रवीण पटेल को चुनावी मैदान में उतारा था।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Shivani Singh
Updated: June 04, 2024 22:11 IST
phulpur lok sabha chunav result 2024  फूलपुर सीट पर बीजेपी प्रत्याशी प्रवीण पटेल की जीत  कड़े मुकाबले में सपा के अमरनाथ मौर्या को दी 4000 वोटों से मात
Phulpur Lok Sabha Chunav Result
Advertisement

Phulpur Lok Sabha Chunav Result 2024: नेहरू के गढ़ में बीजेपी ने जीत का परचम लहराया है। फूलपुर सीट पर सपा के अमरनाथ मौर्या और बीजेपी के प्रवीण पटेल में कांटे की टक्कर रही। कड़े मुक़ाबले में बीजेपी प्रत्याशी प्रवीण पटेल ने सपा के अमरनाथ मौर्या को 4332 वोटों से मात दी है। एक जमाने में पंडित जवाहरलाल नेहरू से लेकर विश्वनाथ प्रताप सिंह फूलपुर सीट पर अपनी किस्मत आजमा चुके हैं।

Advertisement

LIVE: तीसरी बार बनेगी मोदी सरकार या कांग्रेस का होगा बेड़ा पार? किसे दिल्ली की कुर्सी दिलाएगा उत्तर प्रदेश? बिहार में तेजस्वी करेंगे कमाल या बीजेपी संग नीतीश मचाएंगे धमाल?

Advertisement

फूलपुर सीट से बीजेपी ने इस बार वर्तमान सांसद केसरी देवी का टिकट काटकर उनके बेटे प्रवीण पटेल को चुनावी मैदान में उतार दिया है। वहीं उन्हें टक्कर देने के लिए बहुजन समाज पार्टी की तरफ से जगन्नाथ पाल दावेदारी ठोक रहे हैं। वही समाजवादी पार्टी ने अमरनाथ मौर्या को टिकट दिया है।

2014 के नतीजे

प्रत्याशीवोट
केशव प्रसाद मौर्य (बीजेपी)5,03,564
धर्म राज सिंह पटेल (सपा)1,95,256

अगर पिछले लोकसभा चुनाव नतीजे की बात करें तो फूलपुर में केसरी देवी पटेल ने जीत दर्ज की थी। उन्होंने तब सपा बसपा के संयुक्त उम्मीदवार पंधारी यादव को बड़े अंतर से हरा दिया था। इससे पहले 2014 के नतीजे में तो बीजेपी ने अपने कद्दावर नेता केशव प्रसाद मौर्य को फूलपुर सीट से उतरा था और उन्होंने भी बड़ी जीत दर्ज की थी।

1977 में कमल बहुगुणा के चुनाव जीतने के बाद से यहां पर पिछड़ी जाति के उम्मीदवारों का ही दबदबा रहा है। 1977 के बाद 2004 में अतीक अहमद और 2009 में कपिल मुनि करवरिया के अलावा यहां से पिछड़ी जाति के उम्मीदवारों को ही जीत मिली है। इसमें से भी आठ बार पटेल समुदाय के उम्मीदवार चुनाव जीते हैं।

Advertisement

2019 के नतीजे

प्रत्याशीवोट
केशरी देवी पटेल5,44,701
पंधारी यादव3,72,733

1996 से लेकर 2004 तक यहां लगातार समाजवादी पार्टी को जीत मिली। समाजवादी पार्टी की जीत का क्रम 2009 में बसपा के उम्मीदवार कपिल मुनि करवरिया ने तोड़ा था। 2009 में करवरिया ने सपा के उम्मीदवार श्यामा चरण गुप्ता को 15000 वोटों के मामूली अंतर से हराया था। बसपा की बुनियाद रखने वाले कांशीराम ने भी फूलपुर लोकसभा सीट से 1996 में बसपा के टिकट पर चुनाव लड़ा था लेकिन वह दूसरे स्थान पर रहे थे। 2009 में बसपा ने यहां से चुनाव जीता लेकिन 2014 के चुनाव में वह तीसरे नंबर पर चली गई।

Advertisement

फूलपुर लोकसभा क्षेत्र के जातीय समीकरणों को देखें तो राजनीतिक दलों से मिले आंकड़ों के मुताबिक, यहां कुल मतदाताओं की संख्या 20 लाख के आसपास है। इनमें 3 लाख से ज्यादा कुर्मी मतदाता हैं। मुस्लिम और दलित समुदाय के मतदाता 2.5-2.5 लाख हैं। यादव मतदाताओं की संख्या 2 लाख है। इसके अलावा ब्राह्मण और कायस्थ जाति के मतदाताओं की संख्या भी 2-2 लाख के आसपास है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो