scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Kodarma Lok Sabha Election: कोडरमा सीट पर भाजपा की हैट्रिक की तैयारी? 1977 से अब तक 6 बार जीत चुकी है BJP

Kodarma Lok Sabha Election 2024 Date, Candidates Name, Caste Wise Population: झारखंड की कोडरमा लोकसभा सीट पर 1997 के बाद से भाजपा ने 6 बार लोकसभा का चुनाव जीता है।
Written by: Jyoti Gupta | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: March 03, 2024 18:29 IST
kodarma lok sabha election  कोडरमा सीट पर भाजपा की हैट्रिक की तैयारी  1977 से अब तक 6 बार जीत चुकी है bjp
कोडरमा लोकसभा सीट। (express photo)
Advertisement

Kodarma Lok Sabha Election 2024 Date, Candidate Name: लोकसभा चुनाव 2024 का बिगुल बज चुका है। कई पार्टियों ने अपने प्रत्याशियों के नामों की घोषणा कर दी है। 2019 के लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को झारखंड में 14 में से जिन 11 सीटों पर विजय प्राप्त हुई थी उन्हीं में से एक सीट कोडरमा है। यह सीट राज्य की सबसे वीआईपी सीटों में से एक है क्योंकि राज्य के पहले मुख्यमंत्री बाबू लाल मरांडी भी यहां से चुनाव लड़ चुके हैं और 2004 से लेकर 2014 तक सांसद रहे थे।

2014 में बीजेपी उम्मीदवार रविंद्र कुमार राय ने यह सीट जीती थी, लेकिन 2019 में बीजेपी की ही अनुपमा देवी ने यहां से चुनाव जीता था। अनुपमा देवी ने 2019 में झारखंड विकास मोर्चा प्रजातंत्रिक के बाबू लाल मरांडी को 455600 वोटों के अंतर से हराया था। बाद में बाबू लाल मरांडी की पार्टी का विलय भाजपा में हो गया था। 2024 में भाजपा का मुकाबला कांग्रेस से होगा।

Advertisement

कोडरमा लोकसभा में हैं 6 विधानसभा सीट

छह विधानसभा सीटों वाली कोडरमा लोकसभा सीट कोडरमा जिले समेत हजारीबाग और गिरडीह जिले के कुछ इलाकों से मिलकर बनी है। इस संसदीय क्षेत्र में कोडरमा, बरकाठा,धनवार, बगोदर, जमुना और गांडेय विधानसभा सीट आती हैं। यह क्षेत्र अभ्रक नगरी के सग्रह के रूप में जाना जाता है। यह क्षेत्र बिहार से अपनी सीमा साझा करता है। यहां झुमरी तिलैया में बने बांध के पास के मनमोहक नजारे देखने के लिए लोग आते हैं। कोडरमा-गिरिडीह राजमार्ग पर स्थित मां चंचला देवी मंदिर यहां का सबसे लोकप्रिय धार्मिक स्थल है।

1977 से 6 बार चुनाव जीती है भाजपा

-कोडरमा लोकसभा क्षेत्र ने पहला चुनाव 1977 में देखा था। जनता पार्टी के रति लाल प्रसाद वर्मा यहां से पहले सांसद थे। 1980 में इस सीट पर कांग्रेस ने पहली बार जीत दर्ज की थी। तिलकधारी सिंह ने तब चुनाव जीता था। 1989 में भाजपा ने इस सीट पर चुनाव जीता और रति लाल प्रसाद वर्मा फिर से सांसद बने। 1991 में यह सीट जनता दल के खाते में गई और मुमताज अंसारी ने यहां से चुनाव जीता।

Advertisement

  • कोडरमा से 1996 और 1998 का चुनाव भाजपा ने जीता। रति लाल वर्मा तीसरी और चौथी बार यहां से सांसद बने। 1999 में कांग्रेस के तिलकधारी ने दूसरी बार इस सीट पर चुनाव जीता। 2004, 2006 और 2009 में बाबू लाल मरांडी कोडरमा से सांसद थे। 2014 में रविंद्र कुमार राय ने और 2019 में अनुपमा देवी ने कोडरमा सीट जीती। कोडरमा का इतिहास बताता है कि यह सीट भाजपा का गढ़ रही है। भाजपा यहां से 6 बार चुनाव जीत चुकी है।

2019 में कैसा रहा परिणाम

पार्टी- बीजेपी, अन्नपूर्णा देवी- जीतीं, वोट- 753016

Advertisement

पार्टी-झारखंड विकास मोर्चा प्रजातांत्रिक, प्रतिद्वंद्वी- बाबू लाल मरांडी, वोट- 297416
हार का अंतर- 455600, वोट- 67 %

कितने हैं मतदाता

पुरुष मतदाता- 960522
महिला मतदाता- 853587
कुल मतदाता- 1814125

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो