scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'4 + 1 + 2' फॉर्मूले पर बनी जयंत चौधरी की BJP से बात? गठबंधन की घोषणा महज औपचारिकता

Lok Sabha Elections 2024: जयंत चौधरी पाला बदलते दिखाई दे रहे हैं। इसका ऐलान आने वाले एक दो दिन में हो सकता है।
Written by: Asad Rehman | Edited By: Yashveer Singh
Updated: February 09, 2024 21:16 IST
 4   1   2  फॉर्मूले पर बनी जयंत चौधरी की bjp से बात  गठबंधन की घोषणा महज औपचारिकता
जयंत चौधरी बदलेंगे पाला? (Photo - Express/PTI)
Advertisement

रालोद अब एनडीए का हिस्सा होगी, इसका ऐलान महज औपचारिकता है। चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न के ऐलान के बाद रालोद चीफ जयंत चौधरी ने खुलकर पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ की और गठबंधन को लेकर मीडिया द्वारा किए गए सवाल पर कहा, "अब मैं किस मुंह से आपके सवालों का इनकार करूं.."

द इंडियन एक्सप्रेस को सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक, बीजेपी ने रालोद को लोकसभा की चार सीटें, केंद्र सरकार में एक मंत्रालय और योगी सरकार में दो मंत्री पद देने का ऑफर किया है। रालोद के नेता ने इंडियन एक्सप्रेस ने कहा कि चीजें तकरीबन फाइनल हो चुकी हैं। औपचारिक ऐलान एक या दो दिन में हो जाएगा।

Advertisement

रालोद के एक नेता द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, बीजेपी जयंत चौधरी को लोकसभा की चार सीटें, केंद्र सरकार में एक मंत्री पद और यूपी की योगी सरकार में दो पद दे रही है। कुछ सीटों पर कुछ मुद्दे हैं लेकिन उन्हें सुलझा लिया जाएगा। बीजेपी हमें मुजफ्फरनगर सीट देने से इनकार कर रही है। केंद्रीय मंत्री संजीव बालियान इस सीट पर दो बार चुनाव जीत चुके हैं।

बीजेपी से जुड़े सूत्रों ने भी दोनों दलों के बीच चल रही बातचीत की पुष्टि की है। दिल्ली में बीजेपी के सीनियर नेता ने बताया कि भगवा खेमा रालोद को बागपत, मथुरा, हाथरस और अमरोहा का ऑफर कर रहा है। बीजेपी ने रालोद को स्पष्ट कर दिया है कि वो मुजफ्फरनगर और कैराना सीटें नहीं देगी। हम उन्हें बिजनौर और सहारनपुर भी ऑफर कर रहे हैं।

Advertisement

सपा ने कौनसी सीटें रालोद को दीं थी?

सपा की तरफ से रालोद को सात सीटें दी गईं थीं। सपा सूत्रों ने बताया कि इनमें बागपत, कैराना, मथुरा, हाथरस और फतेहपुर सीकरी शामिल हैं। इसके अलावा मुजफ्फरनगर, मेरठ, बिजनौर और अमरोहा पर चर्चा जारी है। सपा रालोद की कुछ सीटों पर अपने प्रत्याशी उतारना चाह रही है। उनमें एक सीट कैराना की है, जहां सपा विधायक नाहिद हसन की बहन इकरा हसन को सपा चुनाव लड़ाना चाहती है।

Advertisement

2019  में सपा - बसपा संग चुनाव लड़ी थी रालोद

रालोद पिछले लोकसभा चुनाव में सपा - बसपा के साथ थी। सपा ने रालोद को तीन सीटें दी थीं लेकिन इन तीनों ही सीटों पर रालोद को हार का सामना करना पड़ा। मुजफ्फरनगर से अजित सिंह, बागपत से जयंत चौधरी और मथुरा लोकसभा सीट से कुंवर नरेंद्र सिंह को हार का सामना करना पड़ा। विधानसभा चुनाव 2022 में रालोद ने 33 सीटों पर चुनाव लड़ा और उसे 9 पर जीत हासिल हुई। यह चुनाव उसने सपा के साथ गठबंधन में लड़ा।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो