scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

छठे चरण के चुनाव में 180 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले

आपराधिक मामले घोषित करने वाले उम्मीदवारों में आम आदमी पार्टी के सभी पांच उम्मीदवार, आरजेडी के सभी चार उम्मीदवार, सपा के 12 में से नौ उम्मीदवार, भाजपा के 51 में से 28 उम्मीदवार, एआइटीसी के नौ में से चार, बीजेडी के छह में से दो और कांगेस के 25 में से आठ उम्मीदवार शामिल हैं।
Written by: जनसत्ता | Edited By: Bishwa Nath Jha
नई दिल्ली | Updated: May 17, 2024 11:21 IST
छठे चरण के चुनाव में 180 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले
प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो -(सोशल मीडिया)।
Advertisement

छठे चरण में लोकसभा चुनाव के लिए भाग्य अजमा रहे उम्मीदवारों में 180 उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले चल रहे हैं। सात राज्यों में होने वाले इस चुनाव के लिए 866 शपथपत्रों के आकलन में यह आंकड़ा सामने आया है, जो कि कुल उम्मीदवारों का 21 फीसद है। कुल उम्मीदवारों में 141 उम्मीदवार ( 16 फीसद) ऐसे भी हैं, जिन पर गंभीर अपराध के मामले चल रहे हैं। यह रिपोर्ट एसोसिएशन फार डेमोक्रेटिक रिफार्म्स और नेशनल इलेक्शन वाच (एडीआर) ने तैयार की है। इस चरण में सबसे ज्यादा नामांकन हरियाणा राज्य की सीटों के लिए दर्ज किए गए हैं।

एडीआर के मुताबिक इस पूर्ण प्रक्रिया में तीन उम्मीदवारों के शपथ पत्रों का विश्लेषण शामिल नहीं है। रिपोर्ट बताती है कि इनमें 12 उम्मीदवार ऐसे भी हैं, जिन पर दोष सिद्ध हो चुका है और छह उम्मीदवारों पर हत्या (आइपीसी 302) के तहत मामले घोषित हैं, इसके अतिरिक्त 21 उम्मीदवार पर हत्या के प्रयास (आइपीसी 307) के तहत मामले दर्ज हैं।

Advertisement

इन गंभीर मामलों के साथ महिलाओं से संबंधित अपराध के मामलों में शामिल उम्मीदवार भी इस चरण में मैदान में हैं। इस श्रेणी में कुल 24 उम्मीदवार शामिल हैं, जिनमें से तीन पर बलात्कार (आइपीसी 378) के तहत मामला दर्ज हैं। तय प्रावधान के मुताबिक ऐसे मामले में किसी भी व्यक्ति को दस वर्ष से कम की सजा नहीं होगी और उसे आजीवन कारावास तक दिया जा सकता है। इन नेताओं में 16 ऐसे नेता भी शामिल हैं, जिन पर भड़काऊ भाषण देने का मामला बताया गया है।

आपराधिक मामले घोषित करने वाले उम्मीदवारों में आम आदमी पार्टी के सभी पांच उम्मीदवार, आरजेडी के सभी चार उम्मीदवार, सपा के 12 में से नौ उम्मीदवार, भाजपा के 51 में से 28 उम्मीदवार, एआइटीसी के नौ में से चार, बीजेडी के छह में से दो और कांगेस के 25 में से आठ उम्मीदवार शामिल हैं।

Advertisement

रिपोर्ट में बताया गया है कि 866 उम्मीदवारों में से 338 उम्मीदवार (39 फीसद) करोड़पति हैं। इनमें सबसे अधिक करोड़पति उम्मीदवार भाजपा से चुनाव मैदान में हैं। कुल उम्मीदवारों में बीजेडी और जनता दल (यू) के सभी उम्मीदवार करोड़पति हैं। इसी प्रकार भाजपा के 51 में से 48, सपा के 12 में से 11, कांग्रेस के 25 में से 20, आम आदमी पार्टी के पांच में से चार और एआइटीसी के नौ में से सात उम्मीदवार करोड़पति हैं।

Advertisement

इस चरण में उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 6.21 करोड़ दर्ज की गई है। रिपोर्ट बताती है कि इस चरण में सबसे ज्यादा उम्मीदवार हरियाणा राज्य में है। चुनाव आयोग के मुताबित छठे चरण में सात राज्यों के लिए मतदान होगा। यह मतदान 25 मई को देश की विभिन्न 57 लोकसभा सीट के लिए कराया जाएगा। इन राज्यों में बिहार, दिल्ली, हरियाणा, झारखंड, ओड़ीशा, उत्तर प्रदेश और पश्चिम बंगाल की सीटें शामिल हैं। इसके बाद केवल एक ही चरण शेष बचेगा।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो