scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

ममता, नीतीश के बाद अब AAP देगी कांग्रेस को झटका? हरियाणा विधानसभा चुनाव अकेले लड़ने का किया ऐलान

आम आदमी पार्टी ने कहा है कि वो हरियाणा की सभी 90 विधानसभा सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Yashveer Singh
चंडीगढ़ | Updated: January 27, 2024 00:10 IST
ममता  नीतीश के बाद अब aap देगी कांग्रेस को झटका  हरियाणा विधानसभा चुनाव अकेले लड़ने का किया ऐलान
आप ने कहा है कि वो हरियाणा में विधानसभा चुनाव अकेले लड़ेगी।
Advertisement

इंडिया गठबंधन को एक के बाद एक झटके लग रहे हैं। इस बीच हरियाणा में आम आदमी पार्टी ने बड़ा ऐलान कर दिया है। सुशील गुप्ता ने कहा कि उनकी पार्टी हरियाणा विधानसभा चुनाव के समय सभी 90 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी।

सुशील गुप्ता ने ANI से बातचीत में कहा कि हम हरियाणा की सभी 90 विधानसभा सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेंगे। लोकसभा के बारे में हमने नेशनल लीडरशिप को यह स्पष्ट कर दिया है कि हम मजबूत हैं और हम गठबंधन में भी और अकेले भी चुनाव लड़ सकते हैं। अंतिम फैसला पार्टी के शीर्ष नेतृत्व द्वारा किया जाएगा।

Advertisement

इससे पहले आम आदमी पार्टी पंजाब की तरफ से भी कांग्रेस के लिए मुश्किलें बढ़ाने वाले बयान सामने आ चुके हैं। बुधवार को पंजाब के सीएम भगवंत मान ने कहा था कि उनके राज्य में आम आदमी पार्टी लोकसभा चुनाव में सभी 13 सीटों पर जीत दर्ज करेगी।

पंजाब के मुख्यमंत्री ने यह बयान ऐसे समय दिया है जब AAP और कांग्रेस के बीच आम चुनाव के लिए दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, गोवा और गुजरात में सीट बंटवारे को लेकर बातचीत चल रही है। AAP ने हालांकि चंडीगढ़ महापौर चुनाव के लिए कांग्रेस के साथ गठबंधन किया है। 

Advertisement

बंगाल में ममता काट चुकी हैं कांग्रेस से कन्नी

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी को सबसे बड़ा झटका ममता बनर्जी ने दिया। उन्होंने कांग्रेस पार्टी के साथ किसी भी तरह के गठबंधन का नकार दिया है, हालांकि कांग्रेस के नेता कोशिश कर रहे हैं कि उन्हें साथ लाया जाए।

बधुवार को ही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री और टीएमसी चीफ ममता बनर्जी ने भी ऐलान किया था कि उनकी पार्टी लोकसभा चुनाव में पश्चिम बंगाल में कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करेगी।

टीएमसी की तरफ से इंडिया गठबंधन से दूरी बनाने की वजह से अधीर रंजन चौधरी को बताया गया है। इसके अलावा पार्टी की तरफ से कहा गया है कि कांग्रेस उनके सुझावों पर ध्यान तक नहीं दे रही थी।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो