scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

गोवाः टीएमसी से गठबंधन नहीं करेगी कांग्रेस, चिदंबरम बोले- पार्टी में तोड़फोड़ करने वालों से कैसा समझौता

Goa Election: कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने साफ कर दिया है कि उनकी पार्टी का टीएमसी के साथ गोवा में गठबंधन नहीं होगा।
Written by: जनसत्ता ऑनलाइन | Edited By: शिशुपाल-कुमार
Updated: January 23, 2022 21:26 IST
गोवाः टीएमसी से गठबंधन नहीं करेगी कांग्रेस  चिदंबरम बोले  पार्टी में तोड़फोड़ करने वालों से कैसा समझौता
Goa Election: टीएमसी के साथ नहीं होगा कांग्रेस का गठबंधन (फोटो- @Pchidambaramthelegend)
Advertisement

गोवा में कांग्रेस ने टीएमसी के साथ चुनावी गठबंधन करने से इनकार कर दिया है। पार्टी के सीनियर नेता पी चिदंबरम ने कहा है कि कांग्रेस में तोड़फोड़ करने वालों से कोई समझौता नहीं होगा। इसके साथ ही उन अटकलों पर भी ब्रेक लग गया है जिसमें कहा जा रहा था कि चुनाव से पहले टीएमसी और कांग्रेस गठबंधन कर सकते हैं।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने रविवार को कहा कि तृणमूल कांग्रेस ने गोवा में गठबंधन बनाने का सुझाव दिया था, लेकिन टीएमसी, कांग्रेस के नेताओं को तोड़ने की लगातार कोशिश करती रही है, इसलिए उसके साथ समझौता नहीं हो सकता है।

Advertisement

उन्होंने कहा- "टीएमसी की ओर से एक सुझाव था कि हमें गठबंधन बनाना चाहिए। लेकिन पहले और बाद में, कुछ घटनाएं हुईं। उन्होंने सबसे पहले मौजूदा विधायक लुइज़िन्हो फलेरियो का तोड़ा। 16 दिसंबर को, हमने रेजिनाल्डो लौरेंको की उम्मीदवारी की घोषणा की। उन्होंने चार दिन बाद 20 दिसंबर को टीएमसी का दामन थाम लिया। गठबंधन बनाने का सुझाव 24 दिसंबर को दिया गया था। उसके बाद भी उन्होंने वास्को और मुरगांव से हमारे नेताओं को तोड़ा। ये सभी जानकारी कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व के सामने थे और मुझे कांग्रेस पार्टी के नेतृत्व से कोई बातचीत करने का कोई निर्देश नहीं था। तो मामला वहीं बंद हो जाता है"।

इससे पहले गुरुवार को टीएमसी महासचिव और ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी ने कहा था कि 24 दिसंबर 2021 को पार्टी ने कांग्रेस को एक साथ विधानसभा चुनाव लड़ने का प्रस्ताव दिया था। अपने भाषण के दौरान गठबंधन ना करने के लिए बनर्जी ने चिदंबरम पर कड़ा प्रहार किया था। बनर्जी ने पणजी में कहा था- “टीएमसी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष पवन वर्मा 24 दिसंबर को दोपहर 1:30 बजे लोधी रोड स्थित चिदंबरम के घर गए और उनसे अनुरोध किया कि हमें एक साथ आना चाहिए और इससे लड़ना चाहिए। अपने अहंकार को एक तरफ रख दो। लेकिन वह अपने स्वयं के राजनीतिक और क्षुद्र हितों से ऊपर उठने में विफल रहे। यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है।"

Advertisement

बनर्जी के इन आरोपों पर जवाब देते हिए चिदंबरम ने कहा है कि वो कांग्रेस पार्टी के बेहद विनम्र कार्यकर्ता हैं, वो टीएमसी के महासचिव के बराबर नहीं हैं। इसलिए वो बंगाल के प्रतिष्ठित सांसद के साथ बहस नहीं कर सकते हैं।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो