scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Caste Census: जाति जनगणना पर कांग्रेस में विरोध के सुर! आनंद शर्मा ने लिखा खड़गे को पत्र, बोले- यह बेरोजगारी और असमानताओं का समाधान नहीं हो सकती

Congress लगातार जाति जनगणना का मुद्दा उठा रही है लेकिन कांग्रेस पार्टी के नेता आनंद शर्मा की राय थोड़ी जुदा है।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Yashveer Singh
नई दिल्ली | Updated: March 21, 2024 14:34 IST
caste census  जाति जनगणना पर कांग्रेस में विरोध के सुर  आनंद शर्मा ने लिखा खड़गे को पत्र  बोले  यह बेरोजगारी और असमानताओं का समाधान नहीं हो सकती
जाति जनगणना पर राहुल गांधी से अलग है आनंद शर्मा की राय (File Photo - Express)
Advertisement

कांग्रेस पार्टी लगातार लोकसभा चुनाव 2024 में जाति जनगणना का मुद्दा उठा रही है। राहुल गांधी कह रहे हैं कि आबादी के अनुपात में देश में हिस्सेदारी होनी चाहिए। अब कांग्रेस पार्टी आने वाले दिनों में इस मुद्दे पर दो धड़ों में बंट सकती है। दरअसल कांग्रेस पार्टी के सीनियर नेता आनंद शर्मा ने जातिगत जनगणना के विरोध में पार्टी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे को लेटर लिखा है।

अपने पत्र में आनंद शर्मा ने मल्लिकार्जुन खड़गे से कहा है, "...मेरे विचार में, जाति जनगणना रामबाण नहीं हो सकती और न ही बेरोजगारी और प्रचलित असमानताओं का समाधान हो सकती है..." उन्होंने कहा, "...मेरी विनम्र राय में, इसे इंदिरा जी और राजीव जी की विरासत का अनादर करने के रूप में गलत समझा जाएगा..."

Advertisement

इंदिरा गांधी द्वारा साल 1980 में दिए गए नारे 'न जात पर न पात पर, मोहर लगेगी हाथ पर' का जिक्र करते हुए आनंदर शर्मा ने कांग्रेस के ऐतिहासिक रुख का जिक्र किया। उन्होंने कहा कि साल 1990 में राजीव गांधी ने जातिवाद को चुनावी मुद्दा बनाने का विरोध किया था।

उन्होंने आगे कहा कि इस ऐतिहासिक रुख से पलटना बहुत सारे कांग्रेस कार्यकर्ताओं के लिए चिंता करने वाला है। उन्होंने कहा कि इस पर विचार करने की जरूरत है। आनंद शर्मा ने आगे कहा, "मेरी विनम्र राय में, इसे इंदिरा जी और राजीव जी की विरासत का अनादर करने के रूप में गलत समझा जाएगा।"

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो