scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

हारते को धरने का सहारा- फर्जी वोटिंग का आरोप लगाते हुए बीजेपी प्रत्याशी धरने पर बैठे तो लोगों ने ऐसे कसा तंज

यूपी विधानसभा चुनाव में संभल विधानसभा सीट से बीजेपी प्रत्याशी राजेश सिंघल ने मतदान में गड़बड़ी का आरोप लगाकर धरना दिया है ।
Written by: Avinash Tiwari | Edited By: Avinash Tiwari
February 15, 2022 10:04 IST
हारते को धरने का सहारा  फर्जी वोटिंग का आरोप लगाते हुए बीजेपी प्रत्याशी धरने पर बैठे तो लोगों ने ऐसे कसा तंज
मतदान केंद्र के बाहर धरना देते संभल बीजेपी प्रत्याशी राजेश सिंघल (फोटो सोर्स- एसपी सिंह/ ट्विटर)
Advertisement

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव (UP Aseembly ELection) में दो चरण की वोटिंग सम्पन्न हो चुकी है। कुल आठ चरणों में यूपी चुनाव खत्म होगा और 10 मार्च को नतीजे सामने आएंगे। 14 फरवरी को दूसरे चरण की वोटिंग हुई। एक तरफ जहां विपक्ष चुनाव आयोग पर पक्षपात करने का आरोप लगा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ कुछ बीजेपी प्रत्याशी दोबारा मतदान कराने की मांग कर रहे हैं।

संभल जिले में बीजेपी प्रत्याशी राजेश सिंघल (Sambhal BJP Candidate Rajesh Singhal) ने फर्जी मतदान का आरोप लगाकर मतदान केंद्र के बाहर ही धरना दिया। जिसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। अब बीजेपी प्रत्याशी के इस धरने के वीडियो पर लोग अपनी प्रतिक्रिया दे रहे हैं और तंज कस रहे हैं।

Advertisement

पूर्व आईएएस सूर्य प्रताप सिंह (S.P.Singh) ने तंज कसते हुए कहा है कि रूझान आने लगे हैं। संभल में BJP प्रत्याशी राजेश सिंघल धरने पर बैठे,फर्जी मतदान का आरोप लगा रहे। तुम्हारी पुलिस,तुम्हारा प्रशासन, तुम्हारा मुख्यमंत्री,धरना किस के विरुद्ध? रुचिरा चतुर्वेदी ने लिखा कि सारे संसाधन और संवैधानिक संस्थाओं के बल पर चुनाव लड़ने वालों का हाल देखिए। मतलब मठ वापसी तय है।

यूपी कांग्रेस की तरफ से तंज कसते हुए कहा गया कि मतलब छेदीलाल का बिस्तरबंद पैक हो चुका है। उमंग नाम के यूजर ने लिखा कि तो पश्चिम उत्तर प्रदेश में BJP साफ ? गोवा में BJP साफ ? उत्तराखंड में BJP साफ ? सिद्दकी नाम के यूजर ने लिखा कि रूझान आने लगा है पहले चरण में री पोलिंग की मांग दूसरे चरण में धरने पर तीसरे में क्या होने वाला है?

परमेश्वरी नाम के यूजर ने लिखा कि बहुत हताश परेशान दिख रहे हैं सभी लोग! अभी तक फर्जी वोटिंग झूठ लगता था! वैसे भी इन्हें अपने उम्मीदवार उतारने ही नहीं चाहिए, जब कोई वोट देगा ही नहीं, पांच बर्ष का अनुभव है जनता के पास! कनिष्क नाम के यूजर ने लिखा कि ये वही सीट है जहां से बसपा जीत रही है लेकिन हार भाजपाई स्वीकार नहीं कर पा रहे हैं ।

योगेश पाण्डेय नाम के यूजर ने लिखा कि हारते को धरने का सहारा, जो दूसरों के विरोध करने पर जेल भेज रहे थे, आज खुद धरने पर हैं। समय का चक्र अब घूम रहा है। नूर अहमद नाम के यूजर ने लिखा कि विपक्ष में बैठने की अभी से तैयारी कर रहे हैं।

एक अन्य यूजर ने लिखा कि धरना किसके खिलाफ कर रहे हैं, उत्तर प्रदेश में सरकार तो BJP की ही है. सुधीर यादव ने लिखा कि अभी तो बस शुरुआत है, पूरी पिक्चर  रिलीज होने पर इनको भागने की जगह न मिलेगी।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो