scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

बिहार: तीसरे चरण में पांच सीटों पर होने वाले चुनाव में धनबल का जोर

बिहार के दो चरणों के संपन्न हुए चुनाव से ज्यादा निर्दलीय उम्मीदवार तीसरे चरण में हैं। खासियत यह है कि इसमें पांच सीटों के लिए 94 नामांकन पत्र दाखिल हुए। जिसमें से 42 पर्चे जांच में खारिज कर दिए गए। 54 में से किसी ने अपना पर्चा वापस नहीं लिया। ग्यारह उम्मीदवार पार्टी के हैं और 43 निर्दलीय हैं।
Written by: गिरधारी लाल जोशी | Edited By: Bishwa Nath Jha
नई दिल्ली | May 01, 2024 11:32 IST
बिहार  तीसरे चरण में पांच सीटों पर होने वाले चुनाव में धनबल का जोर
प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो -(इंडियन एक्सप्रेस)।
Advertisement

तीसरे चरण में बिहार की पांच संसदीय सीटों पर खड़े 54 उम्मीदवारों में से 13 पर आपराधिक मामले चल रहे हैं। इनमें झंझारपुर से इंडिया गठबंधन के सहयोगी वीआइपी पार्टी के प्रत्याशी सुमन कुमार महासेठ पर सबसे ज्यादा छह मामले दर्ज हैं। इसके अलावे ये धनबली भी हैं। नामंकन के साथ दायर हलफनामे में दिए जायदाद के ब्यौरे में 21करोड़ 44 लाख रुपए दर्शाई गई है। बिहार की पांच सीटों अररिया, मधेपुरा, सुपौल, खगड़िया और झंझारपुर पर सात मई को मतदान होना तय हुआ है।

इनमें अररिया, सुपौल, मधेपुरा तीन पर राजद और झंझारपुर, सुपौल, मधेपुरा पर जद(एकी) ने अपने उम्मीदवार उतारे है। वहीं भाजपा ने अररिया, वीआइपी ने झंझारपुर, खगड़िया में लोजपा (र) और सीपीआइएम और झंझारपुर में बसपा ने गुलाब यादव को चुनावी जंग में उतारा है। गुलाब यादव 16 करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक है। एडीआर रपट के मुताबिक 26 फीसदी निर्दलीय उम्मीदवार भी करोड़पति है।

Advertisement

तीसरे चरण के इकलौते भाजपा से अररिया सीट से चुनावी जंग में उतरे प्रदीप कुमार सिंह पर भी चार आपराधिक मुकदमें दर्ज हैं। और ये करोड़पति भी हैं। 37 फीसदी उम्मीदवार धनबली है। इनकी औसतन संपत्ति 2.79 करोड़ रुपए की है। जद(एकी)के निवर्तमान सांसद और वर्तमान उम्मीदवारों की संपत्ति 7 करोड़ रुपए तकरीबन है। वहीं राजद के उम्मीदवारों की जायदाद साढ़े पांच करोड़ रुपए अपने हलफनामे में बताई है। सीपीआईएम प्रत्याशी की दो करोड़ और भाजपा उम्मीदवार की 1.6 करोड़ रुपए हैं।

इतना ही नहीं सुपौल से चुनाव लड़ रहे निर्दलीय उम्मीदवार वैद्यनाथ महतो ने अपनी संपत्ति 19 करोड़ रुपए से ज्यादा बताई है। तो यहां से चुनाव लड़ रहे राजद उम्मीदवार चंद्रहास चौपाल पर दो आपराधिक मामले चल रहे हैं। अमूनन राजद के तीनों उम्मीदवारों पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज है। यों जावेद अख्तर, दीनानाथ चंद्रवंशी, राजेश वर्मा, मुस्ताक आलम, गंगा प्रसाद यादव,नीतीश कुमार, दिलेश्वर कामत, शाहनबाज और कुमार चंद्रदीप उम्मीदवारों पर भी मुकदमें दर्ज हैं।

Advertisement

अलबत्ता बिहार के दो चरणों के संपन्न हुए चुनावों में से ज्यादा निर्दलीय उम्मीदवार तीसरे चरण में हैं। खासियत यह है कि इसमें पांच सीटों के लिए 94 नामांकन पत्र दाखिल हुए। जिसमें से 42 पर्चे जांच में खारिज कर दिए गए। 54 में से किसी ने अपना पर्चा वापस नहीं लिया। ग्यारह उम्मीदवार पार्टी के हैं। और 43 निर्दलीय अपना दम ठोंक रहे हैं। जब कि पहले चरण में चार सीटों के लिए 13 और दूसरे चरण की पांच सीटों के लिए 19 निर्दलीय उम्मीदवारों ने अपनी किस्मत आजमाई है।

Advertisement

तीसरे चरण में बिहार की पांच संसदीय सीटों पर खड़े 54 उम्मीदवारों में से 13 पर आपराधिक मामले चल रहे हैं। इनमें झंझारपुर से इंडिया गठबंधन के सहयोगी वीआइपी पार्टी के प्रत्याशी सुमन कुमार महासेठ पर सबसे ज्यादा छह मामले दर्ज हैं। इसके अलावे ये धनबली भी है। नामंकन के साथ दायर हलफनामे में दिए जायदाद के ब्यौरे में 21करोड़ 44 लाख रुपए दर्शाई गई है। बिहार की पांच सीटों अररिया, मधेपुरा, सुपौल, खगड़िया और झंझारपुर पर सात मई को मतदान होना तय हुआ है।

इनमें अररिया, सुपौल, मधेपुरा तीन पर राजद और झंझारपुर, सुपौल, मधेपुरा पर जद(एकी) ने अपने उम्मीदवार उतारे हैं। वहीं भाजपा ने अररिया, वीआईपी ने झंझारपुर, खगड़िया में लोजपा(र) और सीपीआईएम और झंझारपुर में बसपा ने गुलाब यादव को चुनावी जंग में उतारा है। गुलाब यादव 16 करोड़ रुपए की संपत्ति के मालिक है। एडीआर रिपोर्ट के मुताबिक 26 फीसदी निर्दलीय उम्मीदवार भी करोड़पति है।

तीसरे चरण के इकलौते भाजपा से अररिया सीट से चुनावी जंग में उतरे प्रदीप कुमार सिंह पर भी चार आपराधिक मुकदमें दर्ज हैं। और ये करोड़पति भी हैं। 37 फीसदी उम्मीदवार धनबली है। इनकी औसतन संपत्ति 2.79 करोड़ रुपए की है। जद(एकी)के निवर्तमान सांसद और वर्तमान उम्मीदवारों की संपत्ति 7 करोड़ रुपए तकरीबन है।

वहीं राजद के उम्मीदवारों की जायदाद साढ़े पांच करोड़ रुपए अपने हलफनामे में बताई है। सीपीआईएम प्रत्याशी की दो करोड़ और भाजपा उम्मीदवार की 1.6 करोड़ रुपए है। इतना ही नहीं सुपौल से चुनाव लड़ रहे निर्दलीय उम्मीदवार वैद्यनाथ महतो ने अपनी संपत्ति 19 करोड़ रुपए से ज्यादा बताई है।

तो यहां से चुनाव लड़ रहे राजद उम्मीदवार चंद्रहास चौपाल पर दो आपराधिक मामले चल रहे हैं। अमूनन राजद के तीनों उम्मीदवारों पर गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। यों जावेद अख्तर, दीनानाथ चंद्रवंशी, राजेश वर्मा, मुस्ताक आलम, गंगा प्रसाद यादव,नीतीश कुमार, दिलेश्वर कामत, शाहनबाज और कुमार चंद्रदीप उम्मीदवारों पर भी मुकदमें दर्ज हैं।

अलबत्ता बिहार के दो चरणों के संपन्न हुए चुनावों में से ज्यादा निर्दलीय उम्मीदवार तीसरे चरण में हैं। खासियत यह है कि इसमें पांच सीटों के लिए 94 नामांकन पत्र दाखिल हुए। जिसमें से 42 पर्चे जांच में खारिज कर दिए गए। 54 में से किसी ने अपना पर्चा वापस नहीं लिया। ग्यारह उम्मीदवार पार्टी के हैं। और 43 निर्दलीय अपना दम ठोंक रहे हैं। जब कि पहले चरण में चार सीटों के लिए 13 और दूसरे चरण की पांच सीटों के लिए 19 निर्दलीय उम्मीदवारों ने अपनी किस्मत आजमाई है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 चुनाव tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो