scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

क्या सपा-रालोद गठबंधन टूटना तय? अखिलेश बोले - जो बातें हो रही हैं वो अखबारों में छपी रही हैं, जयंत से बात नहीं हुई

Lok Sabha Elections: समाजवादी पार्टी ने जयंत चौधरी को लोकसभा चुनाव में सात सीटें देने का ऐलान किया था। सूत्रों का दावा है कि इन सात सीटों पर अखिलेश अपने प्रत्याशी लड़ाना चाहते थे।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Yashveer Singh
Updated: February 09, 2024 15:31 IST
क्या सपा रालोद गठबंधन टूटना तय  अखिलेश बोले   जो बातें हो रही हैं वो अखबारों में छपी रही हैं  जयंत से बात नहीं हुई
अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी भी चरण सिंह के लिए भारत रत्न की डिमांड कर रही थी (File Photo - Express)
Advertisement

Lok Sabha Elections 2024: भारत सरकार ने लोकसभा चुनाव 2024 से पहले पूर्व पीएम चौधरी चरण सिंह सहित देश को दिशा देने वाले तीन दिग्गजों को भारत रत्न ने सम्मानित करने का ऐलान किया है। चरण सिंह को भारत रत्न के ऐलान के कई मायने निकाले जा रहे हैं। माना जा रहा है कि इस ऐलान से यह स्पष्ट हो गया है कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी और रालोद एक साथ ताल ठोकेंगे।

चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न दिए जाने पर अखिलेश यादव की भी प्रतिक्रिया आई है। उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि चौधरी चरण सिंह के लिए ये मांग समाजवादियों ने भी की थी। उनसे जब जयंत चौधरी से बातचीत को लेकर सवाल किया गया तो उन्होंने कहा, "इधर बात नहीं हुई है, जो बातें हो रही हैं वो अखबारों में छप रही हैं, आप ही के माध्यम से हम लोग जानकारी पा रहे हैं।"

Advertisement

विधानसभा में बोलते हुए सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा, ''अध्यक्ष जी, मैं आपके माध्यम से सभी किसानों को बधाई देना चाहता हूं। चौधरी चरण सिंह जी जीवन भर किसानों के अधिकारों के लिए लड़े और इसी विधानसभा के सामने नेता जी (मुलायम सिंह यादव) ने उनकी प्रतिमा लगवाई थी। हमें खुशी है इस बात की कि एक किसान नेता को भारत रत्न मिला।"

b

पीएम नरेंद्र मोदी ने क्या कहा?

प्रधानमंत्री मोदी ने एक पोस्ट में कहा, ''हमारी सरकार का यह सौभाग्य है कि देश के पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न से सम्मानित किया जा रहा है। यह सम्मान देश के लिए उनके अतुलनीय योगदान को समर्पित है।''

Advertisement

प्रधानमंत्री ने कहा कि चौधरी चरण सिंह ने किसानों के अधिकार और उनके कल्याण के लिए अपना पूरा जीवन समर्पित कर दिया था। चौधरी चरण सिंह तीन अप्रैल 1967 से 25 फरवरी 1968 और 18 फरवरी, 1970 से एक अक्टूबर, 1970 तक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रहे थे।

क्या बोले यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ?

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने X पर एक पोस्ट में कहा, ''जननेता, किसानों के मसीहा, गांवों, अन्नदाता किसानों, शोषितों एवं वंचितों के उत्थान के लिए आजीवन समर्पित रहने वाले पूर्व प्रधानमंत्री चौधरी चरण सिंह जी को 'भारत रत्न' प्रदान करने की घोषणा अभिनंदनीय है। वे सच्चे अर्थों में लोकतंत्र के साधक थे। यह गौरव राष्ट्र निर्माण में उनके अतुल्य योगदानों का सम्मान है।''

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो