scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Swami Vivekananda Jayanti Quotes 2024: जोश से भर देंगे स्वामी विवेकानंद के ऐसे प्रेरणादायक विचार

Swami Vivekananda Jayanti Quotes in Hindi 2024, National Youth Day Quotes in Hindi: स्वामी विवेकानंद ने कई ऐसे दार्शनिक विचार दिये जो आज भी युवाओं को आगे बढ़ते रहने के लिए प्रेरित करते हैं।
Written by: Suneet Kumar Singh
Updated: January 12, 2024 11:11 IST
swami vivekananda jayanti quotes 2024  जोश से भर देंगे स्वामी विवेकानंद के ऐसे प्रेरणादायक विचार
Swami Vivekananda Jayanti Quotes in Hindi 2024: पढ़ें स्वामी विवेकानंद के अनमोल विचार
Advertisement

Swami Vivekananda Jayanti Quotes in Hindi 2024, National Youth Day Quotes in Hindi: आज स्वामी विवेकानंद की 161वीं जयंती है। इस मौके पर पूरा देश नेशनल यूथ डे मना रहा है। यह खास दिन हर वर्ष 12 जनवरी को महान विचारक स्वामी विवेकानंद के महत्व को बताने के लिए मनाया जाता है। उन्होंने कई ऐसे दार्शनिक विचार दिये जो आज भी युवाओं को आगे बढ़ते रहने के लिए और जीवन में कुछ अलग करने के लिए प्रेरित करते हैं।

Swami Vivekananda Jayanti 2024 Quotes, Wishes, Speech LIVE

Advertisement

स्वामी विवेकानंद के अनमोल विचार

  1. - उठो, जागो और तब तक नहीं रुको जब तक लक्ष्य ना प्राप्त हो जाये।
  2. - जब कोई विचार अनन्य रूप से मस्तिष्क पर अधिकार कर लेता है तब वह वास्तविक भौतिक या मानसिक अवस्था में परिवर्तित हो जाता है।
  3. - किसी की निंदा ना करें, अगर आप मदद के लिए हाथ बढ़ा सकते हैं, तो ज़रुर बढाएं। अगर नहीं बढ़ा सकते, तो अपने हाथ जोड़िये, अपने भाइयों को आशीर्वाद दीजिये, और उन्हें उनके मार्ग पे जाने दीजिये।
  4. - जिस समय जिस काम के लिए प्रतिज्ञा करो, ठीक उसी समय पर उसे करना ही चाहिये, नहीं तो लोगो का विश्वास उठ जाता है।
  5. - यदि स्वयं में विश्वास करना और अधिक विस्तार से पढाया और अभ्यास कराया गया होता, तो मुझे यकीन है कि बुराइयों और दुःख का एक बहुत बड़ा हिस्सा गायब हो गया होता।
  6. - कभी मत सोचिये कि आत्मा के लिए कुछ असंभव है, ऐसा सोचना सबसे बड़ा विधर्म है, अगर कोई पाप है, तो वो यही है, ये कहना कि तुम निर्बल हो या अन्य निर्बल हैं।
  7. - अगर धन दूसरों की भलाई करने में मदद करे, तो इसका कुछ मूल्य है, अन्यथा, ये सिर्फ बुराई का एक ढेर है, और इससे जितना जल्दी छुटकारा मिल जाये उतना बेहतर है।
  8. - ब्रह्मांड की सभी शक्तियां हमारे अंदर हैं। यह हम ही हैं जिन्होंने अपनी आंखों के सामने हाथ रखा है और रोते हुए कहा कि अंधेरा है।
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो