scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

लक्ष्य हासिल करने के लिए संघर्ष करते रहना चाहिए

दुनिया में जितने भी महान पुरुष हुए हैं, उन्हें अपने जीवन में कभी न कभी खूब संघर्ष करना पड़ा है।
Written by: जनसत्ता | Edited By: Bishwa Nath Jha
Updated: March 21, 2024 13:31 IST
लक्ष्य हासिल करने के लिए संघर्ष करते रहना चाहिए
प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो -(इंडियन एक्सप्रेस)।
Advertisement

जो लोग कोशिश करते हैं, सफलता उन्हीं को मिलती है। कोशिश न करने वाले लोगों के छोटे से काम भी आसानी से पूरे नहीं हो पाते हैं। लक्ष्य बड़ा है और अगर पहले प्रयास में असफल हो गए हैं, निराश नहीं होना चाहिए, असफलता से सीख लेकर फिर से प्रयास करेंगे तो सफलता जरूर मिलेगी। जीवन में कोई ऐसा व्यक्ति नहीं हैं, जिसने संघर्ष न किया हो। दुनिया में जितने भी महान पुरुष हुए हैं, उन्हें अपने जीवन में कभी न कभी खूब संघर्ष करना पड़ा है।

जीवन से जुड़ा यह एक ऐसा शब्द है, जिसके बगैर कुछ भी प्राप्त नहीं किया जा सकता है। किसी भी लक्ष्य की प्राप्ति के लिए व्यक्ति को कठिन परिश्रम, प्रयास के साथ अक्सर संघर्ष भी करना पड़ता है। जीवन के किसी भी क्षेत्र से जुड़ा यह संघर्ष आपको आपकी मनचाही सफलता के करीब पहुंचाने का काम करता है।

Advertisement

खास बात यह भी कि संघर्ष के बाद मिली जीत या फिर कहें सफलता हमेशा एक अलग ही खुशी का अहसास कराती है। जिस संघर्ष को महापुरुषों ने सफलता की सीढ़ी करार दिया है। दरअसल, संघर्ष व्यक्ति के भीतर उसकी क्षमताओं को बढ़ाते हुए उसे जीवन की कठिनाइयों से लड़ना सिखता है, जिसकी बदौलत उसकी सफलता उसके और करीब आ जाती है।

आज के संदर्भ में परिवार, समाज तथा देश की बहुत सी अपेक्षाएं हमसे है। हमे सबसे पहले अपने परिवार की अपेक्षाओं पर खरा उतरना है। इसलिए अपने लक्ष्य को प्रारंभ से निर्धारित कर लेना चाहिए और उसी के अनुसार परिश्रम करते हुए आगे बढ़ना चाहिए।

Advertisement

जामिया से सिविल सेवा की तैयारी मुफ्त

जामिया मिल्लिया इस्लामिया विश्वविद्यालय अपने आवासीय कोचिंग अकादमी (आरसीए) के जरिए हर साल सिविल सेवा की तैयारियां निशुल्क करवाता है। इस साल भी ऐसे उम्मीदवारों से जामिया ने आवेदन मांगे हैं जो सिविल सेवा की तैयारी कर रहे हैं। यही नहीं सिविल सेवा (प्रारंभिक, सह व मुख्य) परीक्षा 2024 की तैयारी के लिए मुफ्त कोचिंग के साथ छात्रावास की सुविधा भी उपलब्ध करवाती है।

Advertisement

इस पाठ्यक्रम के लिए अल्पसंख्यक, एससी, एसटी और महिला उम्मीदवार आवेदन कर सकते हैं। विश्वविद्यालय दस केंद्रों पर प्रवेश परीक्षा आयोजित करेगा, जिनमें दिल्ली, श्रीनगर, जम्मू, हैदराबाद, गुवाहाटी, मुंबई, पटना, लखनऊ, बंगलुरु और मलप्पुरम हैं। अभी तक आरसीए के 600 छात्रों ने सिविल सेवाओं और अन्य केंद्रीय व राज्य सेवाओं में सफलता हासिल की है। प्रशासन ने बताया कि प्रवेश परीक्षा के प्रारूप, पात्रता, परीक्षा केंद्र व उपलब्ध सुविधाओं के बारे में विस्तृत जानकारी वेबसाइट पर उपलब्ध है।
अंतिम तिथि : 19 मर्ई, 2024

जेईईसीयूपी 2024 : पंजीकरण की तारीख बढ़ाई गई

उत्तर प्रदेश की संयुक्त प्रवेश परीक्षा परिषद ने जेईईसीयूपी 2024 की पंजीकरण की तारीख बढ़ा दी है। जो उम्मीदवार पालिटेक्निक के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन करना चाहते हैं, वे जेईईसीयूपी की आधिकारिक वेबसाइट के माध्यम से आवेदन कर सकते हैं। जेईईसीयूपी 2024 स्कोर का उपयोग उत्तर प्रदेश के 147 सरकारी, 18 सहायता प्राप्त और 1,874 निजी क्षेत्र के पालिटेक्निक संस्थानों में 77 कार्यक्रमों में प्रवेश के लिए किया जाएगा। बता दें कि यूपी पालिटेक्निक प्रवेश परीक्षा स्थगित की गई है लेकिन नई तारीखों की घोषणा अभी नहीं हुई है। ऐसी उम्मीद है कि जल्द ही नई परीक्षा तारीखें जारी होंगी। पंजीकरण की नई तारीख आने से एक बात तो साफ है कि इसके बाद ही परीक्षा आयोजित होगी।
अंतिम तिथि : 10 मई, 2024

जेसीईसीई संयुक्त प्रवेश परीक्षा के आवेदन की प्रक्रिया शुरू

झारखंड संयुक्त प्रवेश प्रतियोगी परीक्षा बोर्ड (जेसीईसीई) ने कृषि और इससे संबंधित पाठ्यक्रमों के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा के आवेदन की प्रक्रिया शुरू कर दी है। इच्छुक उम्मीदवार आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं। झारखंड संयुक्त प्रवेश परीक्षा 28 अप्रैल, 2024 को रांची और दुमका मुख्यालय में आयोजित की जाएगी। पीसीएम वर्ग के सामान्य/आर्थिक कमजोर वर्ग (ईडब्लूएस) के उम्मीदवारों के लिए आवेदन शुल्क 900 रुपए है। वहीं, एससी/एसटी और महिला आवेदकों के लिए आवेदन शुल्क 450 रुपए निर्धारित है। उम्मीदवारों की आयु 17 से 25 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
अंतिम तिथि : 01 अप्रैल, 2024

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो