scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

नीट यूजी 2024 : अब कंप्यूटर की मदद से तय होगी रैंक

नीट में जिस अभ्यर्थी को वनस्पति विज्ञान और जन्तु विज्ञान में ज्यादा नंबर मिलेंगे, उसे उच्च रैंक दी जाएगी।
Written by: जनसत्ता | Edited By: Bishwa Nath Jha
नई दिल्ली | Updated: March 07, 2024 12:06 IST
नीट यूजी 2024   अब कंप्यूटर की मदद से तय होगी रैंक
प्रतीकात्मक तस्वीर। फोटो -(इंडियन एक्सप्रेस)।
Advertisement

राष्ट्रीय परीक्षा एजंसी (एनटीए) ने नीट यूजी 2024 परीक्षा के लिए पंजीकरण प्रक्रिया शुरू कर दी है। नीट यूजी परीक्षा पांच मई, 2024 को होगी। इसके लिए देश-विदेश में परीक्षा केंद्र बनाए जाएंगे। नीट यूजी 2024 के लिए आधिकारिक वेबसाइट पर पंजीकरण कर सकते हैं। एनटीए ने टाई ब्रेकिंग योजना में भी बड़ा बदलाव किया है। अब तकनीक और कंप्यूटर की मदद से आपकी रैंक तय की जाएगी।

नीट यूजी परिणाम 14 जून, 2024 को जारी होने की संभावना है। इस परीक्षा में लाखों अभ्यर्थी शामिल होते हैं। ऐसे में इसका परिणाम तैयार करने में कई तरह की परेशानियां हो जाती हैं। इतने परीक्षार्थियों में एक-दो के समान अंक हासिल करने के मामले होना सामान्य बात है। ऐसे में एनटीए ‘नीट टाई ब्रेकर योजना’ के जरिए परिणाम और उच्च रैंक तैयार की जाती है।

Advertisement

क्या है टाई ब्रेकिंग योजना

टाई ब्रेकिंग योजना या टाई ब्रेकर नियम का मतलब है अगर दो छात्रों ने किसी परीक्षा में समान अंक और प्रतिशत हासिल किए हैं और उनके बीच का टाई सुलझ नहीं पा रहा है तो टाई ब्रेकर नियम के जरिए उनकी रैंक तय की जाती है। ऐसे में जिस छात्र ने इस परीक्षा के लिए पहले आवेदन किया होगा, उसे श्रेष्ठता सूची में प्राथमिकता दिए जाने का प्रावधान है।

परीक्षा के समय और पैटर्न में बदलाव

यह परीक्षा अब 200 मिनट (3 घंटे और 20 मिनट) तक चलेगी। परीक्षा पैटर्न अब उम्मीदवारों को प्रत्येक विषय के लिए दो खंडों में से एक में प्रश्नों का उत्तर देने का विकल्प चुनने की अनुमति होगी। उम्मीदवार खंड बी में पंद्रह प्रश्नों में से किसी भी दस का प्रयास कर सकते हैं। खंड ए में पैंतीस प्रश्न हैं। नीट परीक्षा के लिए आवेदन शुल्क में संशोधन किया गया है।

Advertisement

सामान्य वर्ग से संबंध रखने वाले उम्मीदवारों के लिए पंजीकरण शुल्क बढ़ाकर 1,700 रुपए किया गया है। जबकि ईडब्लूएस/ओबीसी-एनसीएल श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए 1,600 रुपए और एससी/एसटी/पीडब्लूडी श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए आवेदन शुल्क 1,000 रुपए है। आप नौ मार्च तक आवेदन कर सकते हैं।

Advertisement

परीक्षा के शहर में परिवर्तन का मिलेगा मौका

एनटीए ने स्पष्ट किया है कि अभ्यर्थियों को परीक्षा शहर में बदलाव का मौका मिलेगा। इसके लिए वेबसाइट पर अभ्यर्थियों को लिंक दिया जाएगा। जिससे वह अपने केंद्र की जानकारी में सुधार कर सकेंगे। इसके अभ्यर्थी को आवश्यक राशि भी चुकाने होंगे।

समान अंक वालों की रैंक कैसे तय होगी

एनटीए के नए नियम के अनुसार, अगर परीक्षा में अंक बराबर है तो नीचे बताए गए तरीकों के हिसाब से रैंक निर्धारित की जाएगी।

नीट में जिस अभ्यर्थी को वनस्पति विज्ञान और जन्तु विज्ञान में ज्यादा नंबर मिलेंगे, उसे उच्च रैंक दी जाएगी। नीट यूजी 2024 में जो अभ्यर्थी रसायन विज्ञान विषय में ज्यादा अंक हासिल करेगा, उसे उच्च रैंक पर रहने का अवसर मिलेगा। जो परीक्षार्थी भौतिकी विषय में अन्य विद्यार्थियों की तुलना में ज्यादा अंक हासिल करेगा, उसकी रैंक भी ऊपर होगी। इस साल कंप्यूटर या आइटी के इस्तेमाल से ‘लकी ड्रा’ निकाला जाएगा। इसमें कोई मानवीय हस्तक्षेप नहीं होगा। इस ड्रा में कंप्यूटर जिसका भी नाम/ रोल नंबर चुनेगा, उसे उच्च रैंक दे दी जाएगी।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो