scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

शादी के एक महीने बाद पति को मंदिर ले गई पत्नी फिर बेरहमी से कर दी हत्या, जानिए क्या है वजह

पति को मारने से पहले पत्नी उसे मंदिर ले गई।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: June 05, 2023 20:18 IST
शादी के एक महीने बाद पति को मंदिर ले गई पत्नी फिर बेरहमी से कर दी हत्या  जानिए क्या है वजह
पत्नी ने पति हत्या कर दी। (express)
Advertisement

पुणे की पिंपरी-चिंचवाड़ से एक दर्दनाक खबर सामने आई है। यहां एक पत्नी ने अपने पति की बेरहमी से हत्या कर दी है। फिलहाल पुलिस ने आरोपी पत्नी को गिरफ्तार कर लिया है। पत्नी पर आरोप है कि वह अपने पति को मंदिर दर्शन के लिए ले गई फिर दोनों खेत में गए जहां चाकू, कुदाल और पत्थर से मारकर उसकी हत्या करी दी। उस पर यह भी आरोप है कि उसने यह कहकर पुलिस को गुमराह करने की कोशिश की कि उसकी पति की हत्या अज्ञात नकाबपोश लुटेरों ने मारा है।

पुलिस ने सोमवार को बताया कि पिंपरी-चिंचवड स्कूल में डाटा ऑपरेटर के तौर पर काम करने वाले अकुर्डी निवासी सूरज राजेंद्र कलभोर (29) ने अप्रैल में गहुंजे की अंकिता बोडके (24) से शादी की थी। पत्नी की आग्रह पर दोनों पुणे के बाहरी इलाके शिरगांव में शिरडी मंदिर गए और फिर 1.5 किमी दूर खेत में गए।

Advertisement

इसके बाद दोपहर करीब 3 बजे अंकिता ने अपने पिता को फोन कर कहा कि उन पर और उनके पति पर नकाबपोश लोगों ने हमला किया है। उसने अपने पिता को बताया कि खेत में अचानक पहुंचे लोगों ने उसके और सूरज के साथ तीन लोगों ने मारपीट की थी। उसने पिता को बताया कि उसके साथ मारपीट की गई है मगर सूरज की हालत गंभीर है।

अंकिता पुलिस को कर रही थी गुमराह

कुछ ही देर में अनीता के पिता और गांव के लोग घटनास्थल पर पहुंच गए। सूचना मिलने पर तालेगांव पुलिस भी खेत पर पहुंची। उन्होंने देखा कि सूरज के गले और सिर पर किसी धारदार हथियार से बुरी तरह से वार किया गया है। अंकिता ने पुलिस को बताया कि जब उसने चिल्लाने और रोने की आवाज सुनी तो वह वहां गई जहां सूरज बैठा था। वहां पहुंचने पर उसने देखा कि तीन लोग उसके साथ मारपीट कर रहे हैं। उसने जब बीच-बचाव करने की कोशिश की तो उसके साथ भी मारपीट की गई। इतना ही नहीं अंकिता ने कहा कि तीनों उन्हें लूटने के बाद चले गए। अंकिता ने पुलिस को यह भी बताया कि वह हमलावरों के चेहरे नहीं देख सकी क्योंकि उन्होंने मास्क पहने हुए थे।

Advertisement

इस मामले मे इंस्पेक्टर सत्यवान माने ने कहा कि अंकिता की गोलमोल बातों के कारण उस पर शक हुआ। जब हमने कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बताना शुरू कर दिया कि असल में हुआ क्या था? अंकिता ने पुलिस को बताया कि शादी के डेढ़ महीने में सूरज ने उसे काफी प्रताड़ित किया और उसके चरित्र पर शक किया। पुलिस के मुताबिक, उसने कबूल किया कि वह सूरज को मारने के इरादे से पहले मंदिर और फिर खेत में ले गई थी।

Advertisement

पति को मारने की कर ली पहले से प्लानिंग

जब वह अपने पति को मंदिर के लिए ले गई तो पहले से ही उसके पास चाकू था। वह जानबूझकर उसे खेत में ले गई क्योंकि उसे पता था कि वहां कोई नहीं होगा। वहां पहुंचने पर जब उसका मोबाइल चेक करने में बिजी थी तो उसने उस पर चाकू से हमला कर दिया। इसके बाद उसने कुदाल और पत्थरों से उस पर हमला किया। फिलहाल पुलिस यह पता लगाने की कोशिश कर रही है कि क्या अंकिता के साथ कोई और भी था?

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो