scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

न्यू ईयर की पार्टी में गार्ड ने वकील की गोली मारकर की हत्या, हैरान करने वाली है वजह

Varanasi Lawyer Shot Dead: यूपी के वाराणसी में 31 दिंसबर की देर रात न्यू ईयर की पार्टी में एक गार्ड ने युवा वकील की गोली मारकर हत्या कर दी। गोली चलते ही पार्टी में मौजूद लोग दहशत में आ गए। मौके पर अफरा-तफरी मच गई।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: January 01, 2024 15:51 IST
न्यू ईयर की पार्टी में गार्ड ने वकील की गोली मारकर की हत्या  हैरान करने वाली है वजह
फायरिंग (Demo Pic)- Jansatta
Advertisement

यूपी के वाराणसी से सनसनीखेज खबर सामने आई है। यहां 31 दिंसबर की देर रात न्यू ईयर की पार्टी में एक गार्ड ने युवा वकील की गोली मारकर हत्या कर दी। गोली चलते ही पार्टी में मौजूद लोग दहशत में आ गए। मौके पर अफरा-तफरी मच गई। थोड़ी देर पहले जो लोग जश्न मना रहे थे वहां मातम छा गया। मामला लालपुर पांडेयपुर थाना क्षेत्र के ताड़ीखाना तिराहे की है। यहीं के लॉन में न्यू ईयर पार्टी चल रही थी। सब कुछ सही था। लोग नाच-गा रहे थे। खाना-पीना चल रहा था। अचानक गोली चलने से सभी हैरान रह गए। फौरन पीड़ित को अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने वकील को मृत घोषित कर दिया। मृतक का नाम राघवेंद्र सिंह है। वे 36 साल के थे। गोली मारने वाला लॉन में गार्ड की नौकरी करता है। रिपोर्ट के अनुसार, घटना के पहले दोनों की कथित जातिवादी टिप्पणी के कारण बहस हुई थी।

Advertisement

पुलिस के अनुसार, राघवेंद्र सिंह को 48 साल के हदेंदु शेखर त्रिपाठी ने गोली मारकर हत्या कर दी। कथित तौर पर वकील ने गार्ड को लेकर जातिगत कमेंट किया था, जिससे वह दुखी था। इसलिए उसने कथित तौर पर अपनी लाइसेंसी पिस्टल से वकील को गोली मारकर हत्या कर दी।

Advertisement

गिरफ्तार हुआ आरोपी गार्ड

मामले में वाराणसी के सहायक पुलिस आयुक्त विदुश सक्सेना ने कहा "हमने मामले में गार्ड शेखर त्रिपाठी को गिरफ्तार कर लिया है। गार्ड का दावा है कि वह उस समय नशे में था और जातिगत कमेंट सुनने के बाद वह गुस्से में आकर गोली चला दी।" सक्सेना ने आगे कहा कि आरोपी को कोर्ट में पेश कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया।

कथित तौर पर त्रिपाठी ने एक गोली चलाई जो वाराणसी के नदेसर क्षेत्र के रहने वाले सिंह के लिए घातक साबित हुई। पुलिस के अनुसार, सिंह ने एक लॉन में नए साल की पार्टी रखी थी और अपने दोस्तों और अपने स्टाफ को लोगों को बुलाया था। त्रिपाठी की सिंह से पहले से जान-पहचान थी। वकील ने उसे भी बुलाया था। वह उस लॉन के मालिक गौरव सिंह के साथ पार्टी में गया था।

Advertisement

एक पुलिस अधिकारी ने कहा, "पार्टी के दौरान वकील और गार्ड के बीच धर्म को लेकर बहस हो गई।" पुलिस अधिकारी ने कहा कि त्रिपाठी ने दावा किया कि सिंह ने अपमानजनक जाति-आधारित कमेंट किया जिसके बाद दोनों में बहस गई और त्रिपाठी ने पार्टी में मौजूद लोगों के सामने ही वकील की गोली मारकर हत्या कर दी। फिलहाल सीसीटीवी फुटेज की भी जांच की जा रही है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो