scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

मैं बहुत डर गया इसलिए अपनी ससुराल चला गया... बदायूं में बच्चों की हत्या के आरोपी जावेद ने क्या-क्या बताया

हत्या के बाद जावेद दिल्ली भाग गया था और वह सरेंडर करने की फिराक में था।
Written by: न्यूज डेस्क
नई दिल्ली | Updated: March 22, 2024 16:08 IST
मैं बहुत डर गया इसलिए अपनी ससुराल चला गया    बदायूं में बच्चों की हत्या के आरोपी जावेद ने क्या क्या बताया
बदायूं मामले का दूसरा आरोपी जावेद बरेली से गिरफ्तार किया गया था। (ANI PHOTO)
Advertisement

उत्तर प्रदेश के बदायूं में दो बच्चों की निर्मम हत्या मामले का दूसरा आरोपी जावेद गुरुवार को बरेली से गिरफ्तार किया गया था। हत्या के बाद जावेद दिल्ली भाग गया था और वह सरेंडर करने की फिराक में था। इस बीच एक बड़ी जानकारी सामने आई है। दिल्ली भागने से पहले वह एक दिन अपनी ससुराल सहसवान में रुका था। गुरुवार को उसने सैटेलाइट पुलिस चौकी में सरेंडर किया। फिर बरेली पुलिस ने उसे बदायूं पुलिस को सौंप दिया।

वहीं जावेद के सरेंडर करने से पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में जावेद टेंपो में बैठा है और कुछ लोगों से कह रहा है कि जब उसे हत्याकांड का पता चला तो वह अपने घर सखानूं से बदायूं शहर आया था। वह कहता है कि जब इलाके में काफी भीड़भाड़ थी, इससे वह डर गया और सहसवान यानी अपनी ससुराल चला गया।

Advertisement

जावेद के अनुसार रास्ते में उसके मोबाइल पर कई लोगों की कॉल आई और उसे जानकारी मिली कि उसके भाई साजिद ने बाबा कॉलोनी में दो बच्चों की हत्या कर दी। ये सभी कॉल रिकॉर्ड उसके मोबाइल में मौजूद है। वायरल वीडियो में वह ऑटो में बैठे लोगों से पुलिस के पास ले चलने के लिए कहता है और अपना आधार कार्ड भी उन्हें दिखाता है। जावेद को पकड़कर पुलिस को सौंपने वाले स्थानीय युवक इनाम के लालच में बदायूं गए हैं। बताया जाता है कि जावेद को एनकाउंटर का डर था।

बदायूं के एसएसपी आलोक प्रियदर्शी के मुताबिक जावेद की गिरफ्तारी के लिए 5 टीमें गठित की गई थीं। उन्होंने बताया कि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के मुताबिक मृत आयुष के शरीर पर धारदार हथियार से किए गए 14 घाव पाए गए हैं, जो हमारे द्वारा बरामद किए गए धारदार हथियार से मेल खाते हैं। वहीं दूसरे बच्चे आहान के शरीर पर दो घाव हैं। इनमें से एक गहरा घाव गर्दन पर मिला है।

Advertisement

इस हत्याकांड में शामिल जावेद के भाई साजिद का पुलिस ने घटना के कुछ समय बाद ही उस समय एनकाउंटर कर दिया जब वह पुलिस की गिरफ्त से भाग रहा था। इससे पहले पीड़ित बच्चों की मां ने पुलिस से जावेद का एनकाउंटर ना करने की मांग की थी। उनका कहना था कि जावेद की गिरफ्तारी से ही इस बात का खुलासा हो सकेगा कि आखिर साजिद के साथ मिलकर उसने दोनों बच्चों की हत्या क्यों की थी?

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो