scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

UP Police Paper leak Case: यूपी पुलिस भर्ती पेपर लीक करने वाले मुख्य आरोपी गिरफ्तार, ऐसे आउट किया था पर्चा

यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक करने वाले मुख्य तीन आरोपियों को पुलिस ने आज गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने खुलासा किया है कि उन्होंने किस तरह से पेपर लीक किया था।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: March 15, 2024 17:19 IST
up police paper leak case  यूपी पुलिस भर्ती पेपर लीक करने वाले मुख्य आरोपी गिरफ्तार  ऐसे आउट किया था पर्चा
यूपी पुलिस कांस्टेबल। (इमेज- फाइल फोटो)
Advertisement

यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा का पेपर लीक करने वाले मुख्य तीन आरोपी शुक्रवार को गिरफ्तार हो गए हैं। मामले में उत्तर प्रदेश के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) ने कहा कि 17 और 18 फरवरी को प्रदेश भर्ती एवं बोर्ड परीक्षा का प्रश्नपत्र लीक करने के तीन मुख्य साजिशकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने पेपर लीक मामले में अब तक कुल 54 लोगों को गिरफ्तार किया है। हालांकि मुख्य तीन आरोपी फरार चल रहे थे जिन्हें अब पुलिस ने अपनी गिरफ्त में ले लिया है।

दरअसल, बड़े पैमाने पर परीक्षा का पेपर लीक होने की रिपोर्ट के बाद योगी सरकार को परीक्षा रद्द करनी पड़ी थी। यहां पुलिस महानिदेशक प्रशांत कुमार ने मीडिया से कहा "उत्तर प्रदेश पुलिस और एसटीएफ (स्पेशल टास्क फोर्स) की कई टीम की गहन जांच के बाद यह निष्कर्ष निकला है कि परीक्षा का पेपर इन लोगों ने लीक किया था।"

Advertisement

अभिषेक कुमार शुक्ला, शिवम गिरी और रोहित कुमार के रूप में हुई पहचान

कुमार ने आगे कहा,"जब परीक्षा का पेपर प्रिंटिंग प्रेस से स्ट्रांग रूम में ले जाया जा रहा था तभी आरोपियों ने पेपर लीक कर दिया।" गिरफ्तार आरोपियों की पहचान प्रयागराज के मूल निवासी अभिषेक कुमार शुक्ला, मिर्ज़ापुर निवासी शिवम गिरी और भदोही जिले के निवासी रोहित कुमार पांडे के रूप में हुई है।

कुमार ने आगे कहा कि तीनों को गुरुवार को गाजियाबाद में एसटीएफ की एक टीम ने गिरफ्तार किया। आरोपी भर्ती परीक्षाओं के प्रश्न पत्र लीक करने वाले एक अंतरराज्यीय गिरोह का हिस्सा हैं। डीजीपी ने आगे कहा, "आरोपियों ने पहले प्रिंटिंग प्रेस के परिवहन कंपनी के साथ काम किया था।

Advertisement

अहमदाबाद के गोदाम से लीक हुआ था पेपर

आरोपी फरवरी के पहले सप्ताह में अहमदाबाद के एक गोदाम से पेपर लीक करने में कामयाब रहे। जहां प्रश्न पत्र रखे गए थे।" डीजीपी ने आगे कहा कि पेपर लीक में शामिल कुछ अन्य लोगों के बारे में जल्द ही खुलासा किया जाएगा। उत्तर प्रदेश पुलिस और एसटीएफ ने विभिन्न जिलों में परीक्षा पेपर लीक के मामले में 12 एफआईआर दर्ज की हैं। फिलहाल आगे की कार्रवाई की जा रही है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो