scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

गर्दन पर भाई ने आर-पार घोप दिया चाकू, उसी हालत में 1 किलोमीटर मोटरसाइकिल चलाकर अस्पताल पहुंचा युवक, जानिए फिर क्या हुआ

गले में आर-पार जंग लगा चाकू लगा था। खून बह रहा था, दर्द हो रहा था मगर युवक ने उसी हालत में एक किलोमीटर बाइक चलाई और अस्पताल पहुंच गया।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: June 06, 2023 13:32 IST
गर्दन पर भाई ने आर पार घोप दिया चाकू  उसी हालत में 1 किलोमीटर मोटरसाइकिल चलाकर अस्पताल पहुंचा युवक  जानिए फिर क्या हुआ
प्रतीकात्मक तस्वीर। ( फोटो- इंडियन एक्‍सप्रेस )।
Advertisement

नवी मुंबई से एक हैरान करने वाली घटना सामने आई है। यहां 3 जून को एक शख्स की गर्दन में उसके भाई ने तब जंग लगा चाकू घोप दिया जब वह सो रहा था। चाकू गर्दन के आर-पार होकर फंस गया था। इसके बाद शख्स ने हिम्मत दिखाई औऱ खुद एक किलोमीटर बाइक चलाकर अस्पताल पहुंचा। उसकी गर्दन से खून बह रहा था। वह दर्द में था। जब वह अस्पताल पहुंचा तो उसे देखकर लोग घबरा गए। अस्पताल में तुरंत सर्जरी शुरू की गई। आखिरकार डॉक्टरों ने उसकी जान बचा लगी। डॉक्टर्स का कहना था कि यह किसी चमत्कार से कम नहीं था। हर कोई शख्स के हिम्मत की तारीफ कर रहा था।

असल में 30 साल का तेजस पाटिल एक बिजनेसमैन है। उसके भाई मोनिश ने पारिवारिक विवाद में उसके गर्दन में चाकू से हमला कर दिया। उस वक्त तेजस अपने कमरे में सो रहा था। चाकू उसकी गर्दन के आऱ-पार हो गई मगर वह घबराया नहीं औऱ उसी हालत में बाइक चलाकर अस्पताल पहुंच गया। जहां डॉक्टरों ने उसके गले से चाकू निकाला और उसकी सर्जरी की।

Advertisement

डॉक्टर का कहना था कि सर्जरी खतरे से भरी थी। यह चमत्कार ही है कि बिना किसी डैमेज के घायल को बचा लिया गया। इस घटना में उसकी जान जा सकती थी या फिर वह उम्र भर अपाहिज भी हो सकता था। डॉक्टर का कहना है कि जंग लगे चाकू निकालने और डैमेज बुई ब्लड वेसेल्स को ठीक करने में करीब 4 घंटे का समय लगा। डॉक्टर्स ने चाकू को धमनियों और नसों को नुकसान पहुंचाए बिना हटा दिया था। सर्जरी के बाद पाटिल एक दिन के लिए वेंटिलेटर सपोर्ट पर था। वह खतरे से बाहर है और दो दिन बाद उसे छुट्टी मिल जाएगी।

पुलिस आरोपी की तलाश कर रही है

इस मामले में तेजस पाटिल ने टीओआई को बताया कि मैं अभी भी सदमे में हूं कि मोनीश ने मुझे मारने की कोशिश की। पाटिल ने आरोप लगाया कि मोनिश को पीने की समस्या है और जब हमला हुआ तो उसके साथ उसका दोस्त महेश भी था। पाटिल ने आगे कहा कि कुछ दिनों पहले ही मोनिश उसके बिजनेस में पार्टनर बना था मगर वह बुरी संगत के कारण गंभीरता से काम नहीं करता था। फिलहाल सानपाड़ा पुलिस ने आरोपी के खिलाप भारतीय दंड संहिता के तहत 'हत्या के प्रयास' के आरोप में मामला दर्ज कर लिया है। पुलिस का कहना है कि वे जल्द ही आरोपी को गिरफ्तार कर लेंगे।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो