scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

बेटे को फंदे पर लटका देख प्रिंसिपल मां और प्रॉपर्टी डीलर पिता ने लगाई फांसी, घर से निकली 3 लाशें, सुसाइड नोट से खुला राज

मध्य प्रदेश के ग्वालियर में बेटे के सुसाइड के बाद प्रिंसिपल मां और प्रॉपर्टी डीलर पिता ने भी फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। मौके से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: January 29, 2024 12:49 IST
बेटे को फंदे पर लटका देख प्रिंसिपल मां और प्रॉपर्टी डीलर पिता ने लगाई फांसी  घर से निकली 3 लाशें  सुसाइड नोट से खुला राज
पूरे परिवार ने लगाई फांसी। (Jansatta)
Advertisement

मध्य प्रदेश के ग्वालियर से दिल दुखाने वाली खबर सामने आई है। यहां मुरार केंट इलाके में एक दंपति और उनका बेटा अपने घर में फंदे से लटके मिले। मामले में एक अधिकारी ने बताया कि किशोर द्वारा कथित तौर पर लिखा गया एक ‘सुसाइड नोट’ भी मौके से मिला है। जिसमें लिखा है ‘‘वह एक शख्स से परेशान होकर यह कठोर कदम उठा रहा है।’’ ग्वालियर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक राजेश सिंह चंदेल ने बताया कि जितेंद्र झा (50), उनकी पत्नी त्रिवेणी झा (40) और उनका बेटा अचल झा (17) सिरोल थाना क्षेत्र के हुरावली कॉलोनी में रहते थे। उन्होंने आगे बताया कि पड़ोसियों ने जब शनिवार शाम से परिवार को नहीं देखा तो उन्होंने पुलिस को सूचित किया।

एक साथ फांसी पर झूलती दिखीं 3 लाशें

अधिकारी ने बताया कि पुलिस ने घर में दाखिल होने पर तीनों के शव फंदे से लटके पाए। उन्होंने बताया कि जितेंद्र की कलाई पर किसी हथियार से काटे जाने के निशान मिले हैं। अधिकारी ने बताया कि घर के सभी सामान सुरक्षित हैं। उन्होंने आगे बताया कि ‘सुसाइड नोट’ में उस शख्स के नाम का भी उल्लेख है, जिसे आत्महत्या के लिए मजबूर करने का जिम्मेदार ठहराया गया है। अधिकारी ने कहा कि फॉरेंसिक साक्ष्य जुटाए जा रहे हैं और मामले की जांच जारी है। मृतक के रिश्तेदार विनोद झा ने मीडिया को बताया कि जितेंद्र रियल एस्टेट करोबारी थे और उनकी पत्नी एक स्कूल में शिक्षिका थीं। उन्होंने बताया कि उनका बेटा 12वीं कक्षा का छात्र था और परिवार की आर्थिक स्थिति भी अच्छी थी।

Advertisement

रिपोर्ट के अनुसार, माता-पिता ने जब बेटे को फांसी के फंदे पर लटका हुआ देखा तो उन्होंने भी सुसाइड कर लिया। हालांकि आस-पास के लोगों को इस बारे में खबर तक नहीं लगी। तीनों का शव तीन दिनों तक फंदे से लकटा रहा। मामले की जानकारी होने पर पुलिस जब घटनास्थल पर पहुंची तो देखा कि बेटे का शव घर के पहले कमरे में फंदे पर लटक रहा था। वहीं सीढ़ियों की रेलिंग पर माता-पिता का शव फंदे से लटका हुआ मिला। इसके साथ ही वहां फर्श पर खून भी फैला हुआ था। रिपोर्ट के अनुसार, बेटा 12वीं का छात्र था। वह 17 साल का था।

हत्या का शक

जांच में पुलिस ने पाया कि घर की एक खिड़की टूटी हुई थी। उसकी ग्रिल जमीन पर पड़ा था। पास में एक हथौड़ा और बाल्टी के ऊपर एक बाल्टी भी रखी हुई थी। पुलिस को इसलिए मामले में शक है। आखिर कोई घर के अंदर क्यों घुसा था। परिजन का कहना है कि यह परिवार कभी भी इतना परेशान नहीं दिखा कि सुसाइड कर ले। फिलहाल पुलिस हर एंगल से जांच कर रही है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो