scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

शातिर अपराधी: 3 साल की बच्ची का किया रेप, पुलिस से बचने के लिए 400 किमी पैदल चल गुड़गांव से पहुंचा एमपी, बार-बार बदल रहा था फोन...

गुरुग्राम में 3 साल की बच्ची का रेप करने के बाद आऱोपी बचने के लिए फौरन अपने गांव के लिए पैदल ही निकल गया। वह 400 किलोमीटर का सफर कर पैदल ही गुड़गांव से एमपी पहुंच गया।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: October 06, 2023 19:48 IST
शातिर अपराधी  3 साल की बच्ची का किया रेप  पुलिस से बचने के लिए 400 किमी पैदल चल गुड़गांव से पहुंचा एमपी  बार बार बदल रहा था फोन
प्रतीकात्मक तस्वीर (Freepik)
Advertisement

गुरुग्राम में 3 साल की बच्ची का रेप करने के बाद आऱोपी बचने के लिए फौरन अपने गांव के लिए पैदल ही निकल गया। वह 400 किलोमीटर का सफर कर पैदल ही गुड़गांव से एमपी पहुंच गया। इस दौरान वह बार-बार अपना फोन नंबर बदलता रहा। उसने किसी सार्वजनिक परिवहन का उपयोग इसलिए नहीं किया कि इससे वह पकड़ में आ जाता। वह पैदल ही चलता रहा। इस दौरान उसने कई जगहों पर मजदूर के रूप में काम भी किया। पुलिस के अनुसार, उसने इससे पहले अपनी पत्नी को छत से नीचे फेक दिया था। उस पर हत्या के प्रयास के तहत मामला दर्ज है। इसके अलावा उस पर मारपीट के भी मामले दर्ज हैं।

उस पर पुलिस ने इनाम भी रखा था। एक तरह से वह आदतन अपराधी था मगर हर बार अपनी चालाकियों के चलते पुलिस की गिरफ्त से बच जाता था मगर इस बार उसकी सारी चालाकी धरी की धरी रह गई। पुलिस ने आखिरकार उसे उसके गांव से गिरफ्तार कर लिया गया।

Advertisement

पुलिस ने बताया कि आरोपी डेरी उर्फ़ गोविंद को 2020 में भी अपनी पत्नी की हत्या के प्रयास के मामले में गिरफ्तार किया गया था। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के अनुसार बच्ची के साथ दुष्कर्म का मामला तब समाने आया जब एक महिला ने एक अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ तीन साल की पोती के साथ बलात्कार के संबंध में लिखित शिकायत दर्ज कराई। इस शिकायत के आधार पर स्थानीय पुलिस स्टेशन में POCSO अधिनियम की संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया था।

नरसिंहपुर के बरभन गांव से पकड़ा गया आरोपी

पुलिस ने कहा कि इसके बाद मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर के बरभन गांव से आरोपी को पकड़ लिया गया। एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि आरोपी से पुलिस पूछताछ में पता चला कि वह गुड़गांव में मजदूरी करता था और एक झुग्गी में रहता था। उसके पड़ोस में ही तीन साल की बच्ची अपने परिवार के साथ रहती थी। 12 जनवरी को लड़की की दादी शहर से बाहर थी और लड़की के पिता काम पर गए थे। इसी दौरान आरोपी ने नाबालिग के साथ बलात्कार किया। घटना को अंजाम देने के बाद पुलिस की गिरफ्तारी से बचने के लिए वह गुड़गांव से 400 किलोमीटर पैदल चलकर अपने गांव बरभन पहुंचा और वहां एक मजदूर के रूप में काम करना शुरू कर दिया।

Advertisement

पत्नी को दूसरी मंजिल से फेंक दिया था नीचे

आरोपी का आपराधिक रिकॉर्ड देखने पर पता चला कि उसके खिलाफ पहले भी फरीदाबाद में हत्या के प्रयास और मध्य प्रदेश में मारपीट के दो मामले दर्ज हैं। 2020 में वह पत्नी के साथ फ़रीदाबाद में रहता था। उस वक्त उसने पत्नी को जान से मारने के इरादे से दूसरी मंजिल से फेंक दिया। इस मामले के सिलसिले में उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया और फ़रीदाबाद की एक जेल में बंद कर दिया गया। हालांकि वह 2022 में जमानत पर रिहा किया गया था।

Advertisement

5000 का था इनामी

आरोपी की गिरफ्तारी के लिए हरियाणा पुलिस की तरफ से 5,000 रुपये का इनाम भी घोषित किया गया था। पुलिस प्रवक्ता सुभाष बोकेन ने बताया कि दुष्कर्म की वारदात को अंजाम देने के तुरंत बाद आरोपी गुड़गांव से भाग गया। फिलहाल आरोपी पुलिस की गिरफ्त में हैं।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो