scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

'पापा कहते थे अगर मैं मरुंगा तो उसे भी मार डालूंगा', शख्स ने पहले पत्नी को मारी गोली फिर..., सामने आई वजह

गाजियाबाद में एक पति ने पहले पत्नी को गोली मार दी फिर सुसाइड कर लिया। हत्या के बाद बच्चों ने पिता के बारे में जो बताया वह हैरान करने वाला है।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
गाजियाबाद | Updated: January 31, 2024 13:07 IST
 पापा कहते थे अगर मैं मरुंगा तो उसे भी मार डालूंगा   शख्स ने पहले पत्नी को मारी गोली फिर     सामने आई वजह
प्रतीकात्मक तस्वीर (jansatta)
Advertisement

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद से हैरान करने वाली खबर सामने आई है। यहां एक शख्स ने पहले पत्नी को गोली मारी फिर खुद भी सुसाइड कर लिया। बच्चों का कहना है कि पापा अक्सर कहते थे कि अगर मैं मरुंगा तो पत्नी को भी मार डालूंगा। फिलहाल पुलिस ने दोनों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। मामले में आगे की जांच की जा रही है। घटना से इलाके में सनसनी फैल गई। वहीं आस-पास के लोग दहशत में हैं।

महेंद्र एनक्लेव में रहते थे दंपत्ति

मामले में पुलिस के एक अधिकारी ने कहा कि मंगलवार सुबह करीब साढ़े सात बजे एक राहगीर ने मधुबन बापूधाम थाना अंतर्गत कमला नेहरू नगर कॉलोनी में 'एम्स-नेशनल ड्रग डिपेंडेंस ट्रीटमेंट सेंटर' के पास दो शवों के पड़े होने की सूचना दी।

Advertisement

वहीं पुलिस उपायुक्त (नगर) ज्ञानंजय सिंह ने बताया कि इन शवों की शिनाख्त विनोद चौधरी और उनकी पत्नी दीपिका के तौर पर हुई। यह कपल महेंद्र एनक्लेव में रहते थे। पुलिस ने शव के पास से एक देसी पिस्तौल और दो मोबाइल फोन बरामद किए।

क्या है वारदात की वजह?

अधिकारी के मुताबिक, मृतक के परिजन ने बताया कि विनोद पिछले कई दिनों से डिप्रेशन में था और अक्सर शाम को उग्र हो जाया करता था। विनोद के बच्चों का कहना है कि उनके पिता अक्सर कहा करते थे कि अगर वह मरेंगे तो अपनी पत्नी को भी मार डालेंगे। सिंह ने बताया कि विनोद ने कुछ महीने पहले एक देसी पिस्तौल खरीदा थी और उसे अपनी कार में रखता था। पुलिस ने बताया कि फॉरेंसिक विशेषज्ञों के मुताबिक, गोली काफी नजदीक से मारी गई थी हालांकि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार किया जा रहा है। फिलहाल मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।

Advertisement

नोट: आत्महत्या किसी भी समस्या का समाधान नहीं है। अगर आपके या किसी परिचित के मन में खुदकुशी का ख्याल आता है तो यह बेहद गंभीर मेडिकल इमरजेंसी है। ऐसी स्थिति में आप भारत सरकार की जीवनसाथी हेल्पलाइन 18002333330 पर संपर्क करें। इसके अलावा आप टेलिमानस हेल्पलाइन नंबर 1800914416 पर भी कॉल कर सकते हैं। यहां आपकी पहचान और हर जानकारी गोपनीय रखी जाती है। विशेषज्ञों की देखरेख में आपको उचित समाधान दिया जाता है।

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो