scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

नूंह सांप्रदायिक हिंसा के दौरान दर्ज केस का आरोपी सोहना में गिरफ्तार, गुड़गांव पुलिस को एक महीने में मिली दूसरी कामयाबी

गुड़गांव पुलिस ने यह भी कहा कि उन्होंने एक आरोपी को पकड़ा है जिसने नूंह में सांप्रदायिक हिंसा के दौरान कथित तौर पर झड़पें भड़काने और सांप्रदायिक नफरत बढ़ाने के इरादे से सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डाले थे।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Keshav Kumar
Updated: October 09, 2023 16:13 IST
नूंह सांप्रदायिक हिंसा के दौरान दर्ज केस का आरोपी सोहना में गिरफ्तार  गुड़गांव पुलिस को एक महीने में मिली दूसरी कामयाबी
प्रतीकात्मक तस्वीर (Freepik)
Advertisement

गुड़गांव पुलिस ने हरियाणा के नूंह में जुलाई महीने में हुई सांप्रदायिक हिंसा के दौरान दर्ज हत्या के प्रयास के मामले में शनिवार को सोहना के तिकोना पार्क से एक आरोपी को गिरफ्तार किया। पुलिस ने कहा कि इस मामले में यह दूसरी गिरफ्तारी है। आरोपी की पहचान सोहना के नट कॉलोनी निवासी मुस्तफा उर्फ ​​किराडला के रूप में हुई है। पुलिस ने इससे पहले 13 सितंबर को एक अन्य आरोपी मोहम्मद कैफ को गिरफ्तार किया था।

31 जुलाई को सांप्रदायिक झड़प के दौरान सोहना बाजार में एक शख्स को गोली मारने का आरोप

गुड़गांव पुलिस ने कहा कि 31 जुलाई को एक व्यक्ति ने गुड़गांव के सोहना सिटी पुलिस स्टेशन में एक लिखित शिकायत दर्ज कराई थी। उसमें बताया गया कि उसी दिन जब वह सांप्रदायिक झड़प के दौरान सोहना बाजार से अंबेडकर चौक की ओर जा रहा था, तो एक अज्ञात व्यक्ति ने उसे जान से मारने की नियत से जानबूझकर गोली मार दी। पुलिस ने इस शिकायत के आधार पर सोहना सिटी थाने में मामला दर्ज कर लिया था।

Advertisement

गुड़गांव में हिंसा के दौरान मस्जिद जलाने और इमाम की हत्या का बदला लेना था मकसद

गुड़गांव पुलिस ने यह भी कहा कि एक व्यक्ति जिसने कथित तौर पर एक्स (पहले ट्विटर) पर झड़पें भड़काने और सांप्रदायिक नफरत बढ़ाने के इरादे से भड़काऊ पोस्ट की थी, उसे शुक्रवार को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपी की पहचान बिहार के भागलपुर के खैरा गांव निवासी मोहम्मद शाहिद आलम के रूप में हुई है। उसके खिलाफ 8 अगस्त को मामला दर्ज किया गया था। पुलिस पूछताछ के दौरान पता चला कि आरोपी 2016 से दिल्ली में रह रहा था। उसने गुड़गांव में हिंसा के दौरान एक मस्जिद को जलाने और एक इमाम की हत्या का बदला लेने के लिए भड़काऊ सामग्री पोस्ट की थी।

विश्व हिंदू परिषद द्वारा 21 जुलाई को आयोजित वार्षिक तीर्थयात्रा के दौरान नूंह में झड़प

विश्व हिंदू परिषद द्वारा 21 जुलाई को आयोजित वार्षिक तीर्थयात्रा के दौरान हरियाणा के नूंह जिले में मुसलमानों और हिंदुओं के बीच सांप्रदायिक हिंसा भड़क उठी। बाद में, गुड़गांव और सोहना से सांप्रदायिक हिंसा की घटनाएं सामने आईं, जिसमें कम से कम सात लोगों की मौत हो गई और 200 से अधिक लोग घायल हो गए थे। इसको लेकर देश भर में कई दिनों तक नूंह हिंसा की वारदात सुर्खियों में रही थी।

Advertisement

Nuh Mewat News: गुरुग्राम महापंचायत में मस्जिद हटाने की मांग, पुलिस को 7 दिन का अल्टीमेटम | Video

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो