scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

गुजरात में बेटी के गरबा पुरस्कार को लेकर विवाद, 40 साल के पिता की पीट-पीटकर हत्या

गुजरात के पोरबंदर में गरबा पुरस्कार को लेकर विवाद हो गया। जिसके बाद आरोपियों ने 11 साल की बेटी के सामने ही 40 साल के शख्स को पीट-पीटकर मार डाला।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: October 25, 2023 15:13 IST
गुजरात में बेटी के गरबा पुरस्कार को लेकर विवाद  40 साल के पिता की पीट पीटकर हत्या
प्रतीकात्मक तस्वीर (jansatta)
Advertisement

गुजरात के पोरबंदर में गरबा पुरस्कार को लेकर विवाद हो गया। जिसके बाद आरोपियों ने 11 साल की बेटी के सामने ही 40 साल के शख्स को पीट-पीटकर मार डाला। पुलिस ने बुधवार को यह जानकारी दी। पुलिस उपाधीक्षक रुतु राबा ने बताया कि मंगलवार देर रात करीब दो बजे पोरबंदर में कृष्णा पार्क सोसाइटी के पास पीड़ित सरमन ओडेदारा पर सात लोगों ने कथित तौर पर लाठी-डंडों से हमला कर दिया।

राबा ने कहा आगे कहा , ‘‘ओडेदारा की हत्या में शामिल सभी सात आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।’’ आरोपियों में राजा कुचड़िया, राजू केसवाला, रामदे बोखिरिया, प्रतीक गोरानिया और उनके तीन साथी शामिल हैं। एफआईआर के अनुसार, इन आरोपियों ने कृष्णा पार्क से सटे एक स्कूल के पास नवरात्र के अवसर पर गरबा के कार्यक्रम का आयोजन किया था। इसी जगह पर ओडेदारा परिवार रहता है।

Advertisement

ओडेदारा की पत्नी मालिबेन ने पोरबंदर में उद्योगनगर पुलिस को दी गई अपनी शिकायत में कहा कि उनकी 11 साल की बेटी ने भी गरबा में भाग लिया था। दो अलग-अलग प्रतियोगिताएं जीतने के बाद भी आयोजकों ने उसे केवल एक पुरस्कार दिया गया। वह इस बात की शिकायत करने के लिए आयोजकों के पास गई थीं। जब मालीबेन वहां पहुंची तो केसवाला ने उन्हें आयोजकों का निर्णय स्वीकार करने को कहा।

आरोपियों ने कहा पुरस्कार ले ले या छोड़ दो

एफआईआर के अनुसार, उनसे कहा गया कि या तो पुरस्कार ले लो या छोड़ दो। इसके थोड़ी देर बाद ही कुचड़िया और बोखिरिया भी मौके पर पहुंचे और कथित तौर पर मालीबेन से बहस करने लगे। उन्होंने मालीबेन को वहां से नहीं जाने पर जान से मारने की धमकी भी दी। प्राथमिकी के अनुसार, कुचड़िया और केसवाला की पत्नियों ने भी मालीबेन से गाली-गलौच की और उन्हें वहां से जाने के लिए कहा।

इसके बाद मालीबेन और उनकी बेटी रात करीब एक बजे घर वापस आ गए। प्राथमिकी के मुताबिक, एक घंटे के बाद जब मालीबेन और उनके पति अपने घर के बाहर बैठे थे तो चार मुख्य आरोपी और उनके तीन साथी मोटरसाइकिल पर आए और ओडेदारा को लाठी-डंडों से पीटने लगे। अपने पति को बचाने की कोशिश में मालीबेन को भी चोटें आईं।

Advertisement

इसके बाद आरोपी ओडेदारा को अपनी मोटरसाइकिल पर गरबा स्थल पर ले गए और पुलिस के आने तक पीटते रहे। पुलिस को पीड़ित की नाबालिग बेटी ने सूचना दी थी। प्राथमिकी में कहा गया है कि ओडेदारा को पुलिस अपनी गाड़ी में अस्पताल ले गई, लेकिन उसे बचाया नहीं जा सका। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो