scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

सिख फॉर जस्टिस के संस्थापक गुरपतवंत सिंह पन्नू के खिलाफ FIR, वर्ल्ड कप के भारत-पाकिस्तान मैच को लेकर दी थी धमकी

5 अक्टूबर से अहमदाबाद में होने वाले विश्व कप मैचों के खिलाफ धमकियों वाली वॉयस क्लिप के साथ लोगों को कॉल आने की रिपोर्ट के बाद प्रतिबंधित सिख्स फॉर जस्टिस के अमेरिका स्थित संस्थापक और वकील गुरपतवंत सिंह पन्नू के खिलाफ नामजद केस दर्ज किया गया था। कथित तौर पर पन्नू की आवाज में रिकॉर्डिंग की गई थी।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Keshav Kumar
Updated: September 29, 2023 14:24 IST
सिख फॉर जस्टिस के संस्थापक गुरपतवंत सिंह पन्नू के खिलाफ fir  वर्ल्ड कप के भारत पाकिस्तान मैच को लेकर दी थी धमकी
Khalistani Terrorist Gurpatwant Singh Pannun: खालिस्तानी आतंकवादी गुरपतवंत सिंह पन्नू (Photo- Indian Express)
Advertisement

Written by Rijit Banerjee

गुजरात के अहमदाबाद में साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन ने प्रतिबंधित सिख्स फॉर जस्टिस के अमेरिका स्थित संस्थापक और वकील गुरपतवंत सिंह पन्नू के खिलाफ एफआईआर दर्ज की है। अहमदाबाद में रहने वाले कई लोगों ने आगामी क्रिकेट वर्ल्ड कप के लिए धमकियां देने वाले एक विदेशी नंबर से रिकॉर्डेड ऑडियो मैसेज के साथ कॉल आने की शिकायत की थी। ये धमकियां कथित तौर पर कनाडा में खालिस्तानी आतंकी हरदीप सिंह निज्जर की हत्या की प्रतिक्रिया में आई थीं।

Advertisement

आतंक और अफवाहें फैलाने के लिए कंट्री कोड +44 से वॉयस क्लिप के साथ कॉल

खालिस्तानी अलगाववादी गुरपतवंत सिंह पन्नू को 1 जुलाई, 2020 को भारत सरकार द्वारा 'आतंकवादी' घोषित किया गया था। एफआईआर के अनुसार, कंट्री कोड +44 (यूनाइटेड किंगडम) के साथ 5 अक्टूबर से अहमदाबाद में होने वाले विश्व कप मैचों के खिलाफ धमकियों वाली एक वॉयस क्लिप के साथ आई कॉल "आतंक और अफवाहें फैलाने" के लिए की गई थी। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि ये कॉल "पन्नू की आवाज़" में रिकॉर्ड की गई हैं।

ऑडियो मैसेज में हरदीप सिंह निज्जर की हत्या का बदला लेने के लिए ऑडियो मैसेज

अधिकारी ने कहा कि ऑडियो मैसेज में हरदीप सिंह निज्जर की हत्या का बदला लेने के लिए "खालिस्तान के झंडे के साथ अहमदाबाद पर धावा बोलने" की धमकी दी गई। इसके चलते भारत और कनाडा के बीच राजनयिक संबंधों में तनाव पैदा हो गया है। गुरपतवंत सिंह पन्नू पर भारतीय दंड संहिता (IPC), गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम (UAPA) और सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम (IT Act) के तहत साजिश और नफरत फैलाने के आरोपों से संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज किया गया है।

एफआईआर के अनुसार, “गुरुवार को पुलिस ने देखा कि एक +44 (यूनाइटेड किंगडम) फोन नंबर से अलग-अलग व्यक्तियों को कॉल किया जा रहा है, जिसमें पहले से रिकॉर्ड की गई वॉयस क्लिप चल रही है। कॉल आने के बाद शहर के नागरिकों ने पुलिस को आपराधिक धमकियों की सूचना दी।”

Advertisement

सब-इंस्पेक्टर एचएन प्रजापति की शिकायत के आधार पर इन आरोपों के तहत FIR दर्ज

सब-इंस्पेक्टर एचएन प्रजापति की शिकायत के आधार पर भारतीय दंड संहिता (IPC) की धारा 121 (ए) (भारत सरकार के खिलाफ युद्ध छेड़ने की साजिश), 153 (ए) (घृणास्पद भाषण और किसी भी प्रकार की कार्रवाई या संचार को दंडित करना जो लोगों के बीच शत्रुता, घृणा या द्वेष की भावना और वैमनस्य पैदा करता है ), 153 बी(1) (सी) (आरोप, राष्ट्रीय-एकीकरण के लिए प्रतिकूल दावे), 501 (1) (बी) (मानहानिकारक मानी जाने वाली सामग्री को छापना या उकेरना) और 120 (बी) (आपराधिक साजिश); आईटी अधिनियम की धारा 66 (एफ) (साइबर आतंकवाद) और गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम की धारा 161 (बी) (आतंकवादी अधिनियम) के तहत पन्नू के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी।

India Canada News: भारत के टुकड़े चाहने वाले आतंकी Gurpatwant Singh Pannu को जानते हो? Video

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो