scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

बच्चे की मौत का बदला लेने के लिए परिजन ने पड़ोसी महिला की पीट-पीटकर कर दी हत्या, जानिए मामला

बिहार के रोहतास जिले के एक गांव से एक बच्चे का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी गई। इस घटना से आक्रोशित पीड़ित परिवार के लोगों ने अपने पड़ोस की एक महिला की कथित रूप से पीट-पीटकर उसे मार डाला।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: January 16, 2024 22:01 IST
बच्चे की मौत का बदला लेने के लिए परिजन ने पड़ोसी महिला की पीट पीटकर कर दी हत्या  जानिए मामला
पिटाई (फोटो : फाइल)
Advertisement

बिहार के रोहतास जिले से हैरान करने वाली खबर सामने आई है। यहां एक गांव से एक बच्चे का अपहरण कर उसकी हत्या कर दी गई। इस घटना से आक्रोशित पीड़ित परिवार के लोगों ने अपने पड़ोस की एक महिला की कथित रूप से पीट-पीटकर हत्या कर दी। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस ने बताया कि बच्चे का रोहतास जिले के अगरेर थाना अंतर्गत आकाशी गांव से अपहरण किया गया था।

सासाराम अनुमंडल पुलिस अधिकारी दिलीप कुमार ने बताया कि आकाशी गांव निवासी जग्गु सिंह का चार साल का बेटा शिवम कुमार रविवार की शाम से ही लापता था और पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। उन्होंने बताया कि बच्चे का शव जग्गु सिंह के पड़ोसी दशरथ सिंह के घर के सामने से देर रात मिला था।

Advertisement

महिला की हुई मौत

उन्होंने आगे बताया कि बच्चे का शव पड़ोसी के घर के सामने मिलने पर बच्चे के परिवार के लोगों ने दशरथ सिंह के घर में तोड़फोड़ की और उसकी पत्नी चिंता देवी (55) के साथ मारपीट की जिससे उसकी मौत हो गई। ग्रामीणों के अनुसार, दोनों परिवारों के बीच पुरानी रंजिश है। पुलिस ने शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है और मामले में आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है।

बेटी को किडनैप कर रहे थे बदमाश, पिता ने विरोध किया तो मार दी गोली

बदायूं जिले के एक गांव में बेटी को कथित तौर पर अगवा करने का विरोध करने पर एक व्यक्ति की गोली मारकर कर हत्या कर दी गई। पुलिस ने बताया कि मामले में एक शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया है। उसने बताया कि घटना जिले के दातागंज थाना क्षेत्र के गांव सादुल्लागंज की है और मृतक की पहचान सुधीर कुमार के रूप में हुई है।

Advertisement

पुलिस ने मृतक के भाई राजीव कुमार की शिकायत के हवाले से बताया कि सुधीर कर दोस्त सुरेंद्र उर्फ नन्हे ‘‘उनकी (सुधीर की) नाबालिग बेटी पर गलत नजर रखता था’’। शिकायत में आरोप लगाया कि सुरेंद्र सोमवार रात अपने दो दोस्तों के साथ नाबालिग को अगवा करने पहुंचा और जब सुधीर ने इसका विरोध तो सुरेंद्र ने उस पर कथित रूप से गोली चला दी। उसने बताया कि गोली सुधीर के पैर में जा लगी, जिसके बाद परिजन उसे अस्पताल ले गए, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो