scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

उत्तराखंड: बाबा तरसेम की हत्या के मामले में एक रिटायर्ड IAS समेत चार के खिलाफ मामला दर्ज

पुलिस अधिकारी ने कहा कि सरबजीत सिंह पंजाब के तरनतारन का रहने वाला है जबकि अमरजीत सिंह उत्तर प्रदेश के रामपुर का रहने वाला है।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Mohammad Qasim
नई दिल्ली | Updated: March 30, 2024 16:01 IST
उत्तराखंड  बाबा तरसेम की हत्या के मामले में एक रिटायर्ड ias समेत चार के खिलाफ मामला दर्ज
गुरुद्वारे के डेरा प्रमुख तरसेम सिंह की हत्या का मामला बाबा तरसेम सिंह। (इमेज- ट्विटर/@khemraj_ra)
Advertisement

 उत्तराखंड नानकमत्ता साहिब गुरुद्वारे के डेरा कारसेवा प्रमुख की हत्या के मामले में एक रिटायर्ड आईएएस अधिकारी सहित पांच लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। यह जानकारी पुलिस ने दी है। नानकमत्ता साहिब गुरुद्वारा उत्तराखंड के उधम सिंह नगर जिले में मौजूद है। जानकारी यह है कि बाबा तरसेम सिंह की गुरुवार को गुरुद्वारे में मोटरसाइकिल सवार दो लोगों ने गोली मारकर हत्या कर दी थी। इसके बाद पुलिस इस मामले की छानबीन में जुटी थी।

पुलिस ने क्या कहा?

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकमंजूनाथ टीसी ने बताया कि FIR में दो हमलावर – सरबजीत सिंह और अमरजीत सिंह के अलावा रिटायर्ड आईएएस अधिकारी हरबंस सिंह चुघ (नानकमत्ता गुरुद्वारा प्रबंधक समिति के प्रमुख), बाबा अनूप सिंह और प्रीतम सिंह संधू (एक क्षेत्रीय सिख संगठन उपाध्यक्ष) के नाम शामिल हैं। यह प्राथमिकी शुक्रवार को दर्ज की गई है।

Advertisement

पुलिस अधिकारी ने कहा कि सरबजीत सिंह पंजाब के तरनतारन का रहने वाला है जबकि अमरजीत सिंह उत्तर प्रदेश के रामपुर का रहने वाला है। इनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या), 120 बी (आपराधिक साजिश) और 34 (सामान्य इरादा) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

एसएसपी ने कहा कि रिटायर्ड आईएएस अधिकारी सहित तीन अन्य कोनामजद किया गया है क्योंकि शिकायतकर्ता ने उनकी भूमिका पर संदेह जताया था। नानकमत्ता साहिब गुरुद्वारे के डेरा कारसेवा प्रमुख एक कुर्सी पर बैठे थे, जब दो पहिया वाहन पर पीछे बैठे शूटर ने उन्हें एक राइफल से गोली मार दी। बाबा तरसेम सिंह को खटीमा के एक अस्पताल ले जाया गया जहां इलाज के दौरान उनकी मृत्यु हो गई। यह मामला सामने आने के बाद पुलिस तफतीश में जुटी थी और अब संदेह के आधार पर इनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। रुद्रपुर से लगभग 50 किलोमीटर दूर स्थित नानकमत्ता साहिब गुरुद्वारा, राज्य के उधम सिंह नगर जिले में रुद्रपुर-टनकपुर मार्ग पर स्थित है।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो