scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

मंत्री के बंगले पर तैनात पुलिसकर्मी ने राइफल से खुद को मारी गोली, जानिए पुलिस ने क्या कहा

रायपुर में मंत्री के बंगले पर तैनात पुलिसकर्मी ने खुद को गोली मार ली। वह एक सप्ताह पहले ही घर से लौटा था।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: February 10, 2024 15:11 IST
मंत्री के बंगले पर तैनात पुलिसकर्मी ने राइफल से खुद को मारी गोली  जानिए पुलिस ने क्या कहा
गोली मारी। (Demo Pic)- Jansatta
Advertisement

छत्तीसगढ़ के रायपुर में मंत्री के बंगले की सुरक्षा में तैनात पुलिसकर्मी ने सुसाइड कर लिया। (सीएएफ) के कांस्टेबल ने शनिवार सुबह सरकारी राइफल से खुद को गोली मार ली। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

रिपोर्ट के अनुसार, पुलिसकर्मी राज्य के एक मंत्री के बंगले पर तैनात था। मामले में पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह घटना राज्य के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री दयालदास बघेल के गंज पुलिस थाना क्षेत्र में स्टेशन रोड पर स्थित आधिकारिक आवास पर देर रात दो बजे हुई।

Advertisement

राइफल से खुद को मारी गोली

उन्होंने आगे बताया कि शुरुआती जानकारी के अनुसार, सीएएफ की पहली बटालियन की ‘ई’ कंपनी के कांस्टेबल रोहित सलामे ने देर रात दो बजे बंगले के गार्ड रूम में अपनी ड्यूटी पूरी की और करीब दो बजकर 10 मिनट पर एक्सकैलिबर राइफल से खुद को गोली मार ली।

25 दिन की छुट्टी के बाद एक सप्ताह पहले ड्यूटी पर लौटा था सिपाही

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे। उन्होंने बताया कि सलामे के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया है। अधिकारी ने बताया कि बालोद जिला निवासी सलामे 25 दिन की छुट्टी के बाद एक सप्ताह पहले ड्यूटी पर लौटा था। उन्होंने बताया कि घटनास्थल से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला और यह पता लगाने की कोशिश की जा रही है कि उसने यह कदम किस वजह से उठाया। फिलहाल मामले की जांच की जा रही है।

Advertisement

नोट: आत्महत्या किसी भी समस्या का समाधान नहीं है। अगर आपके या किसी परिचित के मन में खुदकुशी का ख्याल आता है तो यह बेहद गंभीर मेडिकल इमरजेंसी है। ऐसी स्थिति में आप भारत सरकार की जीवनसाथी हेल्पलाइन 18002333330 पर संपर्क करें। इसके अलावा आप टेलिमानस हेल्पलाइन नंबर 1800914416 पर भी कॉल कर सकते हैं। यहां आपकी पहचान और हर जानकारी गोपनीय रखी जाती है। विशेषज्ञों की देखरेख में आपको उचित समाधान दिया जाता है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो