scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

CBI ने NHAI के जर्नल मैनेजर को किया गिरफ्तार, 20 लाख की रिश्ववतखोरी का मामला, 45 लाख किए जब्त

सीबीआई ने 20 लाख की घुसखोरी मामले में एनएचएआई के जर्नल मैनेजर अरविंद काले को गिरफ्तार किया है। अधिकारी के पास से सीबीआई ने 45 लाख रुपये जब्त किए हैं।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: March 03, 2024 16:54 IST
cbi ने nhai के जर्नल मैनेजर को किया गिरफ्तार  20 लाख की रिश्ववतखोरी का मामला  45 लाख किए जब्त
NHAI के जर्नल मैनेजर गिरफ्तार। (Freepik)
Advertisement

सीबीआई ने रिश्वतखोरी के मामले में एनएचएआई के जर्नल मैनेजर अरविंद काले गिरफ्तार किया है। सीबीआई ने यह एक्शन 20 लाख की रिश्वतखोरी के मामले में लिया है। इसके साथ ही सीबीआई ने इस तलाशी अभियान में 45 लाख रुपये जब्त किए।

20 लाख की रिश्वतखोरी का मामला

दरअसल, महाराष्ट्र के नागपुर में 20 लाख रुपये के कथित रिश्वतखोरी मामले में भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के जर्नल मैनेजर अरविंद काले को गिरफ्तार किया है। अधिकारियों ने रविवार को बताया कि काले प्रोजेक्ट के मैनेजर भी थे। उन्होंने कथित रूप से एक प्राइवेट कंपनी से रिश्वत ली थी।

Advertisement

45 लाख रुपये किए जब्त

अधिकारियों ने आगे बताया कि सीबीआई ने काले की गिरफ्तारी के बाद एक तलाशी अभियान में 20 लाख रुपये की रिश्वत समेत 45 लाख रुपये जब्त किए हैं। अधिकारियों के अनुसार काले और 11 अन्य के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। फिलहाल मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।

बांग्लादेश में काम करने वाले शख्स के साथ 28 लाख की ठगी

बांग्लादेश की राजधानी ढाका में कपड़े के कारखाने में मैनेजर के पद पर काम करने वाले शख्स के साथ धोखाधड़ी हुई है। शख्स महाराष्ट्र के ठाणे जिले में अपने घर पर छुट्टियां मनाने आया था। उस दौरान शेयर कारोबार में मुनाफे का लालच देकर कथित तौर पर उससे 28 लाख रुपये की धोखाधड़ी की गई।

Advertisement

यह शख्स अक्टूबर 2023 में छुट्टियों पर यहां आया था। उसे फेसबुक पर शेयर कारोबार में अच्छा मुनाफा मिलने की जानकारी मिली। जिसके बाद वह शेयर कारोबार करने वाले कई समूहों के साथ जुड़ गया। बदलापुर पश्चिम पुलिस थाने के एक अधिकारी ने मामले में बताया कि पीड़ित ने मोबाइल फोन पर शेयर किए गए कई लिंक के जरिए आरोपी के खाते में कथित तौर पर 28,22,300 रुपये भेजे।

Advertisement

अधिकारी ने आगे कहा कि निवेश के बावजूद उसे कोई मुनाफा नहीं मिला जिसपर उसने आरोपी से अपनी रकम मांगी पर आरोपी ने उसे कोई जवाब ही नहीं दिया। उन्होंने बताया कि पीड़ित की शिकायत के आधार पर बदलापुर पश्चिम पुलिस ने शुक्रवार को संबंधित प्रावधानों के तहत चार लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की। फिलहाल मामले की जांच जारी है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो