scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

सैफई विश्वविद्यालय की 20 साल की नर्सिंग छात्रा की हत्या, गले पर चोट के निशान, क्या है मामला

इटावा में एक नर्सिंग छात्रा की हत्या कर दी गई। इसके बाद उसके शव को फेंक दिया गया। छात्रा के गले पर निशान मिले हैं। घटना को लेकर छात्रों ने कॉलेज में धरना-प्रदर्शन किया था।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: March 15, 2024 20:29 IST
सैफई विश्वविद्यालय की 20 साल की नर्सिंग छात्रा की हत्या  गले पर चोट के निशान  क्या है मामला
सैफई रोड के पास 20 साल की छात्रा का शव मिला। (Akhilesh Yadav Twitter)
Advertisement

यूपी के इटावा से सनसनीखेज खबर सामने आ रही है। यहां सैफई रोड के पास 20 साल की छात्रा का शव मिला है। घटना की जानकारी पुलिस ने शुक्रवार को दी। इटावा के पुलिस अधीक्षक (एसपी) संतोष कुमार वर्मा ने कहा, "ऐसा लग रहा है कि 20 साल की छात्रा की हत्या की गई और फिर उसके शव को गुरुवार शाम को घटनास्थल पर फेंक दिया गया। उसकी गर्दन पर चोट के निशान थे। फिलहाल शव को कब्जे में ले कर पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया हैं।’’ पुलिस ने इस मामले में छात्रा के पड़ोसी समेत दो लोगों को गिरफ्तार किया है

नर्सिंग कोर्स के तीसरे साल की छात्रा थी मृतका

पुलिस के मुताबिक, महिला नर्सिंग कोर्स के तीसरे साल की छात्रा थी। गुरुवार को दोपहर में जब वह कक्षा में नहीं आई तो उसकी सहेली ने वार्डन को सूचित किया। इसी बीच मेडिकल कालेज की छात्रा की कथित तौर पर हत्या होने और शव मिलने की खबर से आक्रोशित छात्र छात्राएं कालेज के परिसर में नारेबाजी करते हुए एकत्र हो गए और आरोपियों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए। वरिष्ठ अधिकारियों ने छात्रों को समझाने का प्रयास किया।

Advertisement

अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर किया हमला

इस घटना पर पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने मामले को लेकर सरकार पर हमला बोला। अखिलेश ने सोशल मीडिया मंच 'एक्स' पर पोस्ट कर लिखा ''सैफई विश्वविद्यालय में संदिग्ध परिस्थितियों में छात्रा की मौत अत्यंत गंभीर विषय है। यह उप्र में भाजपा के समय अपराध के ख़िलाफ़ ‘कतई बर्दाश्त नहीं’ की घोषित नीति के बेअसर हो जाने का एक और बेहद दुखद उदाहरण है।''

उन्होंने इस घटना की न्यायिक जांच कराए जाने की मांग की। उन्होंने प्रदर्शनकारी छात्रों का वीडियो साझा करते हुए ‘एक्स’ पर लिखा ‘‘इस कथित हत्या की न्यायिक जांच हो ताकि बीएचयू और सैफई विश्वविद्यालय जैसी घटनाओं में लिप्त लोगों का सच सामने आ सके। भाजपा सरकार नारी का न मान बचा पा रही है, न उसकी जान।’’ फिलहाल पुलिस मामले में आगे की कार्रवाई कर रही है।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो