scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

बारात देखने बाहर गई थी 10 साल की बच्ची, दो लोगों ने किडनैप कर चलती कार में किया गैंगरेप, पुलिस ने लिया बड़ा एक्शन

यूपी के गाजियाबाद में 10 साल की बच्ची के साथ चलती कार में सामूहिक दुष्कर्म करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार कर लिया।
Written by: न्यूज डेस्क | Edited By: Jyoti Gupta
Updated: December 15, 2023 16:18 IST
बारात देखने बाहर गई थी 10 साल की बच्ची  दो लोगों ने किडनैप कर चलती कार में किया गैंगरेप  पुलिस ने लिया बड़ा एक्शन
दुष्कर्म पीड़िता। (प्रतीकात्मक फोटो) जनसत्ता।
Advertisement

यूपी के गाजियाबाद में 10 साल की बच्ची के साथ चलती कार में सामूहिक दुष्कर्म करने वाले दो आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर के बाद गिरफ्तार कर लिया। एनकाउंटर में एक आरोपी के पैर में गोली लग गई। रिपोर्ट के अनुसार, बच्ची घर के बाहर बारात देखने गई थी। उसी दौरान दो लोगों ने उसका अपहरण किया और फिर चलती कार में उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया। घटना 10 दिसंबर की है।

घटना के बाद से ही पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही थी। इसी सिलसिले में पुलिस ने दो आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। अधिकारियों ने बताया कि एक आरोपी के पैर में गोली लगी है। पुलिस ने गिरफ्तार आरोपियों की पहचान 58 साल के मोहम्मद जाकिर और 32 साल के मोहम्मद निज़ाम के रूप में की है। अधिकारियों ने आगे कहा कि आरोपी भागने की फिराक में थे। इसलिए पुलिस को दो बार फायरिंग करनी पड़ी।

Advertisement

घटना के बारे में पुलिस ने बताया कि 10 दिसंबर की शाम करीब 7 बजे पीड़िता एक शादी की बारात देखने के लिए अपने घर से बाहर निकली थी। पीड़िता का घर ट्रॉनिका सिटी पुलिस स्टेशन के अधिकार क्षेत्र में आता है। जब पीड़िता अपने घर लौट रही थी तो कार में सवार दो लोगों ने उसे घर छोड़ने की बात कही। मामले में सहायक पुलिस आयुक्त (लोनी) सूर्यबली मौर्य ने कहा कि आरोपी लड़की को निठोरा रोड के जंगलों के पास एक सुनसान जगह पर ले गए और चलती कार में उसके साथ बलात्कार किया। इसके बाद आरोपी बच्ची को वहीं छोड़कर आ गए।

किसी तरह से बच्ची अपने घर पहुंची हालांकि उसने घटना के बारे में किसी को नहीं बताया। बाद में जब उसकी तबीयत खराब हुई तब मां को गैंगरेप के बारे में पता चला। पीड़िता ने मां से बताया कि उसके साथ क्या हुआ था?

Advertisement

पुलिस ने बताया कि शुरू में लड़की की मां ने खुद ही आरोपियों की तलाश की मगर जब कामयाब नहीं हुई तो 12 दिसंबर को पुलिस के पास गई। पुलिस ने बताया कि पीड़िता ने उन्हें आरोपियों के बारे में बताया, जिससे काफी मदद मिली और फिर उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

Advertisement

ऐसे हत्थे चढ़े आरोपी

पुलिस ने कहा कि पीड़िता ने बताया कि आरोपी के हाथ की सभी अंगुलियों में कुछ खराबी थी। इसके बाद पुलिस की 4 टीमें आरोपी की तलाश में लग गईं। आखिरकार पुलिस ने मैन्युअल इंटेलिजेंस की मदद से विजय नगर के रहने वाले आरोपी जाकिर का पता लगा लिया। पुलिस ने जाकिर को उसके घर से गिरफ्तार कर लिया।

जाकिर से पूछताछ के बाद पुलिस ने दूसरे आरोपी निज़ाम को अल्वी नगर से गिरफ्तार कर लिया। इसके अलावा पुलिस ने वह कार भी बरामद कर ली जिसका इस्तेमाल वारदात को अंदाम देने में किया गया था। पुलिस ने बताया कि आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद जब उन्हें अपराध स्थल पर ले जाया गया तो एक निज़ाम ने पुलिसकर्मी से पिस्तौल छीन ली और पुलिस पर गोली चला दी। इसके बाद पुलिस की जवाबी कार्रवाई में उसके पैर में गोली लग गई। इसके बाद उसे तुरंत पकड़ लिया गया।

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो