scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

T20 World Cup: साउथ अफ्रीका की टीम में केवल एक अश्वेत? लोगों ने कहा- यह नहीं है हमारी टीम

साउथ अफ्रीका की टी20 वर्ल्ड कप में केवल एक ही अफीकी मूल का अश्विन खिलाड़ी है।
Written by: खेल डेस्‍क | Edited By: Riya Kasana
नई दिल्ली | May 15, 2024 19:10 IST
t20 world cup  साउथ अफ्रीका की टीम में केवल एक अश्वेत  लोगों ने कहा  यह नहीं है हमारी टीम
क्रिकेट साउथ अफ्रीका ने 30 अप्रैल को आईसीसी टी20 विश्व कप 2024 के लिए अपनी टीम का ऐलान किया। (सोर्स- X@ProteasMenCSA)
Advertisement

टी20 वर्ल्ड कप के लिए साउथ अफ्रीका क्रिकेट ने जो टीम चुनी है उसके कारण वह आलोचना का शिकार हो रहा है। फैंस इस टीम से खुश नहीं है। उनका मानना है कि यह टीम साउथ अफ्रीका का प्रतिनिधित्व नहीं करती है। 15 सदस्यीय टीम में केवल एक ही अश्वेत खिलाड़ी का नाम शामिल किया गया है। यह खिलाड़ी हैं तेज गेंदबाज कगिसो रबाडा।

साउथ अफ्रीका की टीम में छह अश्वेत खिलाड़ी

साउथ अफ्रीका की 15 सदस्यीय टीम में रबाडा सहित छह अश्वेत खिलाड़ी शामिल हैं पर रबाडा एकमात्र अश्वेत अफ्रीकी हैं। अन्य अश्वेत खिलाड़ियों में रीजा हेंड्रिक्स, ब्योर्न फोरटुईन, केशव महाराज, तबरेज शम्सी और ओटिनिएल बार्टमैन मौजूद हैं। सीएसए के बदलाव लाने के लक्ष्य के अंतर्गत एक सत्र के दौरान दक्षिण अफ्रीका की अंतिम एकादश में छह अश्वेत खिलाड़ियों का होना जरूरी है जिसमें से दो अश्वेत खिलाड़ी अफ्रीकी होने चाहिए।

Advertisement

पूर्व खेल मंत्री ने उठाए सवाल

सीएसए के अपने लक्ष्य को पूरा नहीं करने की वजह से उसकी आलोचना की जा रही है। साउथ अफ्रीका के पूर्व खेल मंत्री फिकिले एमबालुला ने टीम के चयन पर सवाल उठाते हुए ‘एक्स’ पर लिखा, ‘‘आगामी टी20 विश्व कप 2024 की टीम के लिए केवल एक अश्वेत अफ्रीकी खिलाड़ी को दक्षिण अफ्रीका की टीम में चुना गया है। निश्चित रूप से यह बदलाव लाने के लक्ष्य से उलट है और इसमें दक्षिण अफीकी लोगों का उचित प्रतिनिधित्व नहीं है।’’

पिछड़ रहा है हमारा देश

एसएबीसी स्पोर्ट पर सीएसए के और अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के पूर्व अध्यक्ष रे माली ने कहा कि देश इस खेल में पिछड़ रहा है। उन्होंने कहा, ‘‘मेरा मानना है कि बहुत कुछ हासिल कर लिया गया है। लेकिन मेरा मानना है कि हम क्रिकेट के मामले में पिछड़ रहे हैं। हमने आगे बढ़ने के बजाय एक कदम पीछे ले लिया है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं यह समझ नहीं पा रहा हूं कि हम दक्षिण अफ्रीका क्रिकेट टीम में ज्यादा संख्या में अश्वेत खिलाड़ियों को क्यों नहीं रख सकते। यह स्वीकार्य नहीं है। ’’ इस समय सीएसए की चयन समिति नहीं है और टीम का चयन मुख्य कोच शुक्री कोनराड (टेस्ट) और रॉब वाल्टर (सफेद गेंद का क्रिकेट) द्वारा किया जाता है। वाल्टर ने अमेरिका और वेस्टइंडीज में होने वाले आईसीसी टूर्नामेंट के लिए चुनी गयी टीम के चयन का बचाव करते हुए कहा कि घरेलू सर्किट में चयन के लिए इतनी गहराई मौजूद नहीं है। लुंगी एनगिडी भी अश्वेत अफ्रीकी हैं जो रिजर्व के तौर पर टीम के साथ जायेंगे लेकिन वह मुख्य टीम का हिस्सा नहीं हैं।

Advertisement

Advertisement
Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो