scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

T20 World Cup: खिताब के लिए बेताब भारत और साउथ अफ्रीका, नहीं चले यह स्टार खिलाड़ी तो बढ़ जाएगी मुश्किल

टी20 वर्ल्ड कप का फाइनल भारत और साउथ अफ्रीका के बीच बारबाडोस में खेला जाएगा।
Written by: खेल डेस्‍क | Edited By: Riya Kasana
नई दिल्ली | Updated: June 29, 2024 11:29 IST
t20 world cup  खिताब के लिए बेताब भारत और साउथ अफ्रीका  नहीं चले यह स्टार खिलाड़ी तो बढ़ जाएगी मुश्किल
भारतीय टीम तीसरी बार खेलेगी फाइनल
Advertisement

भारतीय टीम शनिवार को तीसरी बार टी20 वर्ल्ड कप का फाइनल खेलने उतरेगी। उसका सामना साउथ अफ्रीका से होगा जो पहली बार किसी टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची है। दोनों ही टीमें टूर्नामेंट में अजेय रही हैं। ऐसे में किसी एक को प्रबल दावेदार नहीं का जा सकता है। फाइनल मैच में कुछ ऐसे खिलाड़ियों पर नजर होगी जो कि अगर फॉर्म में नहीं हुए तो अपनी ही टीम के लिए मुश्किल खड़ी कर सकते हैं।

Advertisement

भारत

रोहित शर्मा - भारतीय टीम के कप्तान रोहित शर्मा के ऊपर इस मैच में अहम जिम्मेदारी होगी। उनकी अग्रेसिव बैटिंग से टीम को अच्छी शुरुआत मिलती है। फाइनल मैच में यह काफी अहम है क्योंकि इससे बाकी बल्लेबाजों पर दबाव पर कम होता है। उन्होंने सात मैचों में 248 रन बनाए।

Advertisement

जसप्रीत बुमराह- जसप्रीत बुमराह इस वर्ल्ड कप में टीम इंडिया के लिए काफी अहम साबित हुए हैं। उन्होंने अब तक सात मैचों में 13 विकेट लिए हैं। वह हर अहम मौके पर विकेट चटका लेते हैं जिससे मैच का रुख बदल जाता है। अगर वह फॉर्म में नहीं आते हैं तो टीम को परेशानी होगी।

हार्दिक पंड्या - हार्दिक पंड्या ने भी बतौर ऑलराउंडर खुद को साबित किया है। उन्होंने तीन मैचों में 132 रन बनाए हैं और तीन विकेट लिए हैं। पंड्या का फॉर्म भी टीम के लिए काफी अहम है।

अर्शदीप सिंह - भारत को फाइनल तक पहुंचाने में अर्शदीप सिंह का रोल काफी अहम रहा है। उन्होंने गेंद से सात मैचों में 15 विकेट लिए हैं और टीम के लिए टूर्नामेंट में सबसे ज्यादा विकेट लिए हैं। साउथ अफ्रीका के अटैकिंग बल्लेबाजों के खिलाफ उनका रोल काफी अहम होगा।

Advertisement

साउथ अफ्रीका

क्विंटन डिकॉक- क्विंटन डिकॉक इस समय शानदार फॉर्म में है। उन्होंने 204 रन बनाए हैं और टीम के लिए सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी हैं। उन्होंने सुपर-8 में टीम की जीत में अहम भूमिका निभाई है। उनका फॉर्म में रहना टीम के लिए काफी अहम है। उनका स्ट्राइक रेट 146.66 का है।

Advertisement

एनरिक नॉर्खिया - भारत की मजबूत बल्लेबाजी के खिलाफ एनरिक नॉर्खिया का फॉर्म में रहना काफी अहम है। 8 मैचों में उनके नाम 13 विकेट हैं। अगर नॉर्खिया फॉर्म में नहीं रहते हैं तो साउथ अफ्रीका के लिए मुश्किल बढ़ सकती है। उनका इकोनॉमी रेट 6 से कम का है।

तबरेज शम्सी - अगर पिच पर स्पिनर्स को मदद मिलती है तो तबरेज शम्सी का रोल काफी अहम होगा। शम्सी ने भले ही टीम के लिए चार मैच खेले हैं लेकिन इन 4 मैचों में उन्होंने 11 विकेट लिए हैं। वेस्टइंडीज में अब तक स्पिनर्स का ही बोलबाला देखनेको मिला है। ऐसे में शम्सी का फॉर्म टीम के लिए काफी अहम होगा।

हेनरिक क्लासेन - भारतीय टीम को जिस खिलाड़ी से सतर्क रहने की जरूरत है उसमें हेनरिक क्लासेन भी शामिल है। क्लासेन भारतीय गेंदबाजी के लिए बड़ी मुश्किल खड़ी कर सकते हैं। उन्हें मैदान पर सेट होने में ज्यादा समय नहीं लगता है। उनकी अटैकिंग बल्लेबाजी पर रोक लगाना भारत के लिए काफी अहम है।

Advertisement
Tags :
Advertisement
Jansatta.com पर पढ़े ताज़ा एजुकेशन समाचार (Education News), लेटेस्ट हिंदी समाचार (Hindi News), बॉलीवुड, खेल, क्रिकेट, राजनीति, धर्म और शिक्षा से जुड़ी हर ख़बर। समय पर अपडेट और हिंदी ब्रेकिंग न्यूज़ के लिए जनसत्ता की हिंदी समाचार ऐप डाउनलोड करके अपने समाचार अनुभव को बेहतर बनाएं ।
×
tlbr_img1 Shorts tlbr_img2 खेल tlbr_img3 LIVE TV tlbr_img4 फ़ोटो tlbr_img5 वीडियो