scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

Ranji Trophy में क्या अब खिलाड़ियों को नहीं मिलेगा कैश, BCCI के फैसले के बाद उठे सवाल

रणजी ट्रॉफी 2024 का सीजन पांच जनवरी से शुरू हुआ है। इस सीजन में एक बड़ा बदलाव देखने को मिल रहा है
Written by: खेल डेस्‍क | Edited By: RIYAKASANA
नई दिल्ली | Updated: January 12, 2024 11:34 IST
ranji trophy में क्या अब खिलाड़ियों को नहीं मिलेगा कैश  bcci के फैसले के बाद उठे सवाल
Ranji Trophy : जयदेव उनादकट की अगुआई में सौराष्ट्र ने फाइनल में बंगाल को हराकर रणजी ट्रॉफी 2023 का खिताब अपने नाम किया था। फाइनल कोलकाता के ईडन गार्डन में खेला गया था। (सोर्स- एएनआई फाइल फोटो)
Advertisement

रणजी ट्रॉफी के नए सीजन के लिए बीसीसीआई ने एक बड़ा कदम उठाया है। बोर्ड के नए फैसले के मुताबिक अब हर प्लेयर ऑफ द मैच को मेडल दिया जाएगा। इसके बाद यह सवाल उठने लगा है कि क्या अब मैच के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी को कैश प्राइज नहीं मिलेगा। बीसीसीआई ने जो सर्कुलर भेजा है उसमें कैश प्राइज को लेकर कोई सफाई नहीं दी गई है।

प्लेयर ऑफ द मैच को दिए जाते थे 25 हजार रुपए

पिछले सीजन तक प्लेयर ऑफ द मैच को स्पॉनसर्स की तरफ 25000 रुपए दिए जाते थे। हालांकि इस साल खिलाड़ियों को मेडल दिए गए। मैच रेफरी और स्टेट एसोसिएशन को भेजे गए मेल में लिखा गया, 'आपको यह बताया जा रहा है कि बीसीसीआई ने रणजी मैचों के एलीट और प्लेट ग्रुप के मेजबान एसोसिएशन को प्लेयर ऑफ द मैच मेडल भेज दिए हैं। हर मैच के दौरान आपको यह मेडल मैच रेफरी को देने होंगे।'

Advertisement

बीसीसीआई के फैसले की वजह

बीसीसीआई के मुताबिक वह चाहते हैं कि खिलाड़ी मोमेंटो के तौर पर अपनी मेहनत को याद रख सके। अब तक केवल अंतरराष्ट्रीय मैच और आईपीएल में ही मेडल दिए जाते थे लेकिन बीसीसीआई ने सोचा कि उन्हें भी अब मेडल देने चाहिए। देश के विभिन्न स्थानों पर 5 जनवरी से शुरू हुई रणजी ट्रॉफी क्रिकेट प्रतियोगिता में नए खिलाड़ी अपना प्रभाव छोड़ने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं कुछ पुराने खिलाड़ी अपनी खोई प्रतिष्ठा हासिल करने के लिए जीजान लगा रहे हैं।

रणजी ट्रॉफी में खेलने वाली टीमें और उनके ग्रुप इस प्रकार हैं:

एलीट ग्रुप ए: सौराष्ट्र, झारखंड, महाराष्ट्र, राजस्थान, विदर्भ, हरियाणा, सर्विसेज, मणिपुर।
एलीट ग्रुप बी: बंगाल, आंध्र, मुंबई, केरल, छत्तीसगढ़, उत्तर प्रदेश, असम, बिहार।
एलीट ग्रुप सी: कर्नाटक, पंजाब, रेलवे, तमिलनाडु, गोवा, गुजरात, त्रिपुरा, चंडीगढ़।
एलीट ग्रुप डी: मध्य प्रदेश, उत्तराखंड, हिमाचल प्रदेश, बड़ौदा, दिल्ली, ओडिशा, पांडिचेरी, जम्मू और कश्मीर।
प्लेट ग्रुप: नागालैंड, हैदराबाद, मेघालय, सिक्किम, मिजोरम, अरुणाचल प्रदेश।

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो