scorecardresearch
For the best experience, open
https://m.jansatta.com
on your mobile browser.

हारिस रऊफ को महंगा पड़ा ऑस्ट्रेलिया दौरे पर नहीं जाना, पीसीबी ने खत्म किया सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट; विदेशी लीग के लिए भी नहीं दी NOC

पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड ने मोहम्मद हफीज को भी टीम डायरेक्टर के पद से हटा दिया है। पीसीबी ने मोहम्मद हफीज को नवंबर 2023 में ही इस पद पर नियुक्त किया था।
Written by: खेल डेस्‍क | Edited By: ALOK SRIVASTAVA
Updated: February 15, 2024 19:26 IST
हारिस रऊफ को महंगा पड़ा ऑस्ट्रेलिया दौरे पर नहीं जाना  पीसीबी ने खत्म किया सेंट्रल कॉन्ट्रैक्ट  विदेशी लीग के लिए भी नहीं दी noc
दुबई के दुबई इंटरनेशनल स्टेडियम में एशिया कप 2022 के फाइनल मैच के दौरान श्रीलंका के पथुम निसांका को आउट करने का जश्न मनाते पाकिस्तान के हारिस रऊफ। (सोर्स- फाइल फोटो एएनआई)
Advertisement

पिछली सर्दियों में टेस्ट सीरीज के लिए ऑस्ट्रेलिया का दौरा करने से इनकार करने के कारण पीसीबी (पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड) ने हारिस रऊफ का केंद्रीय अनुबंध समाप्त कर दिया है। उन्हें 30 जून 2024 तक किसी भी विदेशी लीग में खेलने के लिए एनओसी से भी वंचित कर दिया जाएगा। वहीं, पीसीबी ने टीम निदेशक के पद से मोहम्मद हफीज को हटा दिया है।

ऑस्ट्रेलिया दौरे पर पाकिस्तान का हुआ था सूपड़ा साफ

नवंबर में पीसीबी उस समय बहुत नाराज हुआ था जब टीम प्रबंधन से कार्यभार प्रबंधन (वर्कलोड मैनेजमेंट) के आश्वासन के बावजूद हारिस रऊफ ने अंतिम समय में चयन के लिए खुद को अनुपलब्ध बताया था। नतीजन पाकिस्तान को ऑस्ट्रेलिया दौरे (2023-24) पर तीन टेस्ट मैच की सीरीज के लिए अनुभवहीन तेज आक्रमण पर निर्भर रहना पड़ा। नसीम शाह भी चोट के कारण अनुपलब्ध थे। पाकिस्तान टेस्ट सीरीज 0-3 से हार गया।

Advertisement

मुख्य चयनकर्ता वहाब रियाज ने टीम की घोषणा करते हुए कहा था, ‘उन्होंने (रऊफ) अपनी सहमति दे दी थी, लेकिन बाद में उन्होंने अपना मन बदल लिया क्योंकि वह अपनी फिटनेस और वर्कलोड को लेकर चिंतित थे। उनकी अनुपस्थिति टीम संयोजन को प्रभावित करेगी। अगर वह ऑस्ट्रेलिया में नहीं भी खेलता तो मैं उसके लिए भी तैयार था, लेकिन वह सहमत नहीं हुआ।’

इस संबंध में पीसीबी ने 30 जनवरी 2024 को हारिस रऊफ को अपनी बात रखने का मौका दिया। हालांकि, पीसीबी उनके जवाब से संतुष्ट नहीं हुआ। पीसीबी का कहना है कि पाकिस्तान के लिए खेलना किसी भी खिलाड़ी के लिए सर्वोच्च सम्मान की बात है। किसी मेडिकल रिपोर्ट या उचित कारण के अभाव में पाकिस्तान की टेस्ट टीम का हिस्सा बनने से इनकार करना केंद्रीय अनुबंध का उल्लंघन है।

मोहम्मद हफीज और पीसीबी के रास्ते हुए अलग-अलग

इस बीच, टीम निदेशक नियुक्त किए जाने के कुछ महीने बाद ही मोहम्मद हफीज और पीसीबी के रास्ते अलग-अलग हो गए हैं। मोहम्मद हफीज को नवंबर 2023 में इस पद पर नियुक्त किया गया था। उन्होंने विश्व कप में निराशाजनक अभियान के बाद मिकी आर्थर से पदभार संभाला था। हालांकि, 43 साल के इस खिलाड़ी के टीम डायरेक्टर रहते हुए पाकिस्तान का ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट में सूपड़ा साफ हो गया। उसके बाद न्यूजीलैंड में भी 1-4 से टी20 सीरीज गंवा दी।

Advertisement

पीसीबी की ओर से जारी बयान में कहा गया, ‘पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड देश की पुरुष क्रिकेट टीम के निदेशक मोहम्मद हफीज को उनके अमूल्य योगदान के लिए हार्दिक आभार व्यक्त करता है। खेल के प्रति हफीज के जुनून ने खिलाड़ियों को प्रेरित किया है। ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड दौरे के दौरान उनकी सलाह काफी महत्वपूर्ण रही है। पीसीबी हफीज को उनके भविष्य के लिए शुभकामनाएं और सफलता की कामना करता है।’

Advertisement

Advertisement
Tags :
Advertisement
tlbr_img1 राष्ट्रीय tlbr_img2 ऑडियो tlbr_img3 गैलरी tlbr_img4 वीडियो